अरविंद केजरीवाल ने अमित शाह को दिल्ली में आप सरकार द्वारा किए गए कार्यो पर खुली बहस की चुनौती दी!

Posted by

नई दिल्ली। भारत में इस समय जब अच्छे, साफसुथरे, जनता के लिए काम करने वाले नेताओं के नाम लिए जाते हैं तो उनमे दिल्ली के मुख्यमंत्री का नाम शामिल होता, अरविन्द केजरीवाल ने जनता के हितों को ध्यान में रख कर काम किया है, इसी कारण उनकी चर्चा भी समाज में होती है

| दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह को दिल्ली में आप सरकार द्वारा तीन साल में किए गए कार्यो पर एक खुली बहस की चुनौती दी। उन्होंने कहा, “मैं उन्हें हमारे तीन वर्षो पर खुली बहस की चुनौती देता हूं। मैं शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली, सड़क और पानी की आपूर्ति पर गुजरात में भाजपा के 27 वर्षो और केंद्र में चार साल के कार्यो पर बहस की चुनौती देता हूं। हम बहस के लिए तैयार हैं।

आप नेता अरविंद केजरीवाल ने कहा, “अमित शाह कहते हैं कि हमने दिल्ली में कुछ नहीं किया। मैं कहना चाहता हूं कि हमने विजय माल्या और नीरव मोदी को देश से भगाने में मदद नहीं की, हमने कोई राफेल सौदा भी नहीं किया।

उन्होंने यह भी कहा कि लोगों द्वारा सरकार के कार्य के आधार वोट करने से कोई चीज बेहतर नहीं हो सकती।

केजरीवाल ने रविवार को भी अमित शाह को चुनौती दी थी कि वह भाजपा नीत केंद्र सरकार और आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार के प्रदर्शन पर यहां रामलीला मैदान में एक बहस करने को तैयार हैं।