अल्लाह ने खाने पीने की चीज़ों के आलावा सिर्फ़ पांच चीज़ें हराम क़रार दी हैं, वह चीज़ें क्या हैं जान लीजिये : वीडियो

Posted by

अल्लाह ने खाने पीने की चीज़ों के आलावा सिर्फ़ पांच चीज़ें हराम क़रार दी हैं, वह चीज़ें क्या हैं जान लीजिये
– अल्लाहताला कहते हैं मैने बदकारी को हराम क़रार दिया है
– अल्लाहताला कहते हैं मैने हक़तल्फ़ी हराम क़रार दिया है
– अल्लाहताला कहते हैं मैने किसी की जान, माल, आबरू की ज़ियादती को हराम क़रार दिया है
– अल्लाहताला कहते हैं मैने शिर्क को हराम क़रार दिया है
– अल्लाहताला कहते हैं मैने अपनी तरफ से दीन बनाने को हराम क़रार दिया है

हराम, हलाल में जो इतनी लम्बी फ़ेहरिस्तें हैं उसका अल्लाह ने खुद जवाब दे दिया है, इन बातों को आप सभी लिख कर अपनी मेज़ पर रखें|

सब को इंसान समझिये, सब से मुहब्बत कीजिये, आला दर्जे के अख़लाक़ का मुज़ाहिरा कीजिये

– जान, माल और आबरू की हुरमत रखी जाये

============

अभी कुछ दिन पहले एक वीडिओ देखा जो उत्तर प्रदेश का है
इस वीडिओ में दो तीन किसानों ने एक बैल को एक पेड़ से बाँधा हुआ है
और फिर दो किसान उस बैल की टांग में लाठी बरसा रहे हैं
वीडिओ में उस बैल को काफी देर तक पीटते हुए दिखाया गया है
बैल काफी तकलीफ में दिखाई दे रहा था
वीडिओ के विवरण के अनुसार ये वो किसान हैं जो आवारा गाय बैलों के फसल खा जाने से बहुत क्रोधित हैं
इसलिए वे अपना गुस्सा आवारा बैल पर निकाल रहे हैं
इस मामले में ना बैल की गलती है ना किसानों की
गलती है तो गाय के नाम पर करी जाने वाली राजनीति की
गाय की राजनीति ने सबसे बुरा हाल अगर किसी का किया है तो वह हैं गाय और किसान
गाय के नाम पर मुसलमानों के खिलाफ नफरत फैला कर चुनाव जीतने वाले भाजपा के नेताओं को गाय और किसानों से कोई लेना देना नहीं है
पहली बात तो यह झूठ है कि मुसलमान गाय खाते हैं
भारत में मुसलमानों से ज्यादा गाय हिन्दू खाते हैं
केरल तामिलनाडू बंगाल पूर्वोत्तर के सातों राज्य गोवा छत्तीसगढ़ झरखंड आन्ध्र के आदिवासी गाय का गोश्त खाते हैं
भाजपा इन राज्यों में गाय की बात नहीं करती
भाजपा गाय की राजनीति का ढोंग सिर्फ हिन्दी पट्टी के इलाकों में ही करती है
गाय के नाम पर कुछ मुसलमानों की हत्या करके आतंक मचा कर भाजपाई गुंडों ने अब ऐसी हालत पैदा कर दी है कि किसान अपनी बीमार गाय को अस्पताल तक ले जाने में डरता है कि रास्ते में गुंडे उसे मार ना डालें
भाजपा सरकारें और वहाँ की पुलिस गाय के नाम पर हत्या करने वाले गुंडों को समर्थन दे रहे हैं
अभी कल ही भाजपा के मंत्री ने मुसलमानों की माब लिंचिंग करने वाले गुंडों को हार पहना कर मंच पर सम्मानित किया है
इससे साफ़ है कि गाय के नाम पर आतंक मचने का काम बाकायदा एक नीति के तहत किया जा रहा है
अब किसान अपने बेकार और बूढ़े पशु बेच तो पा नहीं रहा है
क्योंकि डर कर अब कोई खरीदने वाला ही नहीं बचा
तो मजबूरन लोगों ने हजारों पशु आवारा छोड़ दिए हैं
इन आवारा पशुओं के कारण अब किसानों का खेती करना असम्भव हो गया है
इससे पशु पालन करना भी मुश्किल हो गया है
अगर पशु पालक अपने बेकार हो चुके पशुओं को बेचेगा नहीं तो नए पशु कैसे खरीदेगा
तो इस गाय की राजनीति के कारन पशु पालन भी बर्बाद हो गया है
इसके अलावा अब भाजपा के गुंडे लोगों के पशुओं को छीन कर अपने गोशालाओं में जबरदस्ती रख रहे हैं
छत्तीसगढ़ में तो आदिवासी जब मेले से खेती के लिए पशु खरीद कर ले जाते हैं तो भाजपा और बजरंग दल के गुंडे पुलिस के साथ मिल कर आदिवासियों के पशु छीन लेते हैं
मैंने खुद ऐसे कि मामलों में पुलिस से बहस करी है
लेकिन अब तो पुलिस खुद ही बदमाश हो चुकी है इसलिए उससे किसी कानून के पालन की तो उम्मीद रही नहीं है
इसके साथ साथ भाजपा सरकारें अपनी पार्टी के गुंडों द्वारा चलाई जाने वाली इन फर्जी गोशालाओं के नाम पर करोड़ों रूपये की सरकारी ग्रांट का गबन कर रहे हैं
कई सारी गोशालाएं तो भाजपाइयों द्वारा सिर्फ गाय की हड्डियों और खाल का धंधा करने के लिए खोली गई हैं
भाजपाइयों की कई सारी गोशालाओं में गायों को बाकायदा डंडों से मार मार कर हत्या करी जाती है उससे खाल की अच्छी कीमत मिलती है
भारत की जनता मूर्ख बन रही है तो भाजपा वाले उन्हें मूर्ख बना रहे हैं और हिंदुत्व और गाय के नाम पर मूर्ख बना कर हिन्दुओं का ही सत्यानाश कर रहे हैं
भाई Himanshu Kumar की क़लम से

======

Khalid Aijaz
—————–
फ़रमान ए ख़ुदावन्दी है कि

बदज़ुबानी से बचो

गुस्से को पी जाओ

दूसरों के साथ भलाई करो

घमंड से बचो

दूसरों की ग़लतियां माफ़ करो

लोगों से नरमी से बात करो

अपनी आवाज़ नीची रखों

दूसरों का मज़ाक न उड़ाओ

वालदैन की इज़्ज़त और उनकी फ़रमाबरदारी करो

वालदैन की बेअदबी से बचो और उनके सामने उफ़ तक न कहो

इजाज़त के बिना किसी के कमरे मे (निजी कक्ष) में दाख़िल न हो

किसी की अंधी तक़लीद मत करो

अगर कोई तंगी मे है तो उसे कर्ज़ उतारने में राहत दो

ब्याज मत खाओ

रिश्वत मत खाओ

वादों को पूरा करो

आपस में भरोसा कायम रखो

सच और झूठ को आपस में ना मिलाओ

लोगों के बीच इंसाफ़ से फ़ैसला करो

इंसाफ पर मज़बूती से जम जाओ

मरने के बाद हर शख़्स की दौलत उसके करीबी रिश्तेदारों में बांट दो

औरतों का भी विरासत में हक़ है

यतीमों का माल नाहक़ मत खाओ

यतीमों का ख़्याल रखो

लोगों के बीच सुलह कराओ

बदगुमानी से बचो

गवाही को मत छुपाओ

एक दूसरे के भेद न टटोला करो और किसी की चुग़ली मत करो

अपने माल में से ख़ैरात करो

मिसकीन गरीबों को खिलाने की तरग़ीब दो

जरूरतमंद को तलाश कर उनकी मदद करो

कंजूसी और फिज़ूल खर्ची से बचा करो

अपनी ख़ैरात लोगों को दिखाने के लिये और एहसान जताकर बर्बाद मत करो

मेहमानों की इज़्ज़त करो

भलाई पर ख़ुद अमल करने के बाद दूसरों को बढ़ावा दो

ज़मीन पर फ़साद मत करो

लोगों को मस्जिदों में अल्लाह के ज़िक्र से मत रोको

सिर्फ उन से लड़ो जो तुम से लड़ें

जंग के आदाब का ख़्याल रखना

जंग के दौरान पीठ मत फेरना

सभी पैग़म्बरों पर इमान लाओ

मां बच्चों को दो साल तक दूध पिलाएँ

खबरदार ज़िना के पास किसी सूरत में भी नहीं जाना

हुक्मरानो को ख़ूबीे देखकर चुना करो

किसी पर उसकी ताकत से ज़्यादा बोझ मत डालो

आपस में फूट मत डालो

मर्दों और औरतों को आमाल का सिला बराबर मिलेगा

खून के रिश्तों में शादी मत करो

मर्द परिवार का हुक्मरान है

हसद और कंजूसी मत करो

हसद मत करो

एक दूसरे का कत्ल मत करो

ख़यानत करने वालों के हिमायती मत बनो

गुनाह और ज़ुल्म व ज़यादती में मदद मत करो

नेकी और भलाई में सहयोग करो

अक्सरियत मे होना सच्चाई का सबूत नहीं

इंसाफ पर कायम रहो

जुर्म की सज़ा मिसाली तौर में दो

गुनाह और बुराई आमालियों के ख़िलाफ भरपूर जद्दो जहद करो

मुर्दा जानवर, खून, सूअर का मांस निषेध हैं

शराब और नशीली दवाओं से ख़बरदार

जुआ मत खेलो

दूसरों की आस्था का मजाक ना उड़ाओ

लोगों को धोखा देने के लिये नाप तौल में कमी मत करो

खूब खाओ पियो लेकिन हद पार न करो

मस्जिदों में इबादत के वक्त अच्छे कपड़े पहनें

जो तुमसे मदद और हिफाज़त और पनाह के तलबगार हो उसकी मदद और हिफ़ाज़त करो

पाक साफ़ रहा करो

अल्लाह की रहमत से कभी निराश मत होना

अज्ञानता और जिहालत के कारण किए गए बुरे काम और गुनाह अल्लाह माफ कर देगा

लोगों को अल्लाह की तरफ हिकमत और नसीहत के साथ बुलाओ

कोई किसी दूसरे के गुनाहों का बोझ नहीं उठाएगा

मिसकीनी और गरीबी के डर से बच्चों की हत्या मत करो

जिस बात का इल्म न हो उसके पीछे मत पड़ो

दूसरों के घरों में बिला इजाज़त मत दाखिल हो

जो अल्लाह में यकीन रखते हैं, अल्लाह उनकी हिफ़ाज़त करेगा

ज़मीन पर आराम और सुकून से चलो

अपनी दुनियावी ज़िन्दगी को अनदेखा मत करो

अल्लाह के साथ किसी और को मत पुकारो

समलैंगिकता से बचो

अच्छे कामों की नसीहत और बुरे कामों से रोका करो

ज़मीन पर शेख़ी और अहंकार से इतरा कर मत चलो

अल्लाह सभी गुनाहों को माफ़ कर देगा सिवाय शिर्क के

अल्लाह की रहमत से मायूस मत हो

बुराई को भलाई से दफ़ा करो

नमाज़ से अपने काम अंजाम दो

तुममें से ज़्यादा इज़्ज़त वाला वो है जिसने सच्चाई और भलाई इख़्तियार की हो

अल्लाह के यहां इल्म वालों के दरजात बुलंद है

ग़ैर मुसलमानों के साथ उचित व्यवहार और दयालुता और अच्छा व्यवहार करो

अपने आप को नफ़्स के शर से पाक रखो

अल्लाह से माफ़ी मांगो वो माफ़ करने और रहम करने वाला है

अल्लाह तआला हम सब को कहने , सुनने से ज़्यादा अमल करने की तौफ़ीक़ अता फ़रमाये … आमीन

=======