इसे खाते ही कई गुना बढ़ जाती है मर्दानगी!

Posted by

आज के समय में ज्यादातर पुरुषों में प्रजनन की समस्या देखने को मिलती है, जिसका इलाज़ बहुत पैसे लगाने के बाद भी संभव नहीं हो पाता. ये एक ऐसी समस्या है जिससे पुरुष संतान का सुख प्राप्त नहीं कर पाते. पुरुषों में प्रजनन की समस्या से उनकी सेक्स पॉवर भी खत्म करती है जिससे उनके वैवाहिक जीवन पर बहुत गहरा असर देखने को मिलता है.लोगो इस समस्या से निजात पाने के लिए पता नहीं क्या क्या कर लेते हैं लेकिन उन्हें कोई फायदा नहीं मिलता लेकिन आज हम आपको एक ऐसी चीज़ के बारे में बताने जा रहे हैं जिस खाते ही कई गुना बढ़ जाती है मर्दानगी.


इस चीज़ को खाने से कई गुना बढ़ जाती है मर्दानगी
===========
आज हम आपको जिस चीज़ के बारे में बताते जा रहे हैं उसे सुनकर आपको थोड़ा जीब जरुर लगेगा लेकिन ये सच है की इस चीज़ के खाने से सेक्स पॉवर कई गुना बढ़ जाती है. बताया जा रहा है कि इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए एक ख़ास तरह की छिपकली का मीट बहुत फायदा करता है उसे खाने से उनमे अजीब सी शक्ति आ जाती है. जी हां…शायद ये बात आपको हैरान कर दें लेकिन बताया जा रहा है कि इस छिपकली में मर्दानी ताकत होती है जो सेक्स पावर बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा लाभकारी साबित हो रही है. यहाँ तक की विदेशी बाज़ारों तक भी इस छिपकली के मीट की डिमांड भी बढ़ गयी हैं. चलिए आपको बताते हैं इस चिपकाली के बारे में…

करोड़ों में बिकतीं ये छिपकलियां
==============
इस छिपकली की कीमत लग्‍जरी कारों से भी ज्यादा है. यह ‘गीको’ या ‘टोको’ छिपकली है, इसका उपयोग मर्दानगी बढ़ाने वाली दवाईयों के लिए किया जाता है. आपको बता दें इस छिपकली की कीमत करीब 1 करोड़ है. गीको नमक ये छिपकली दक्षिण-पूर्व एशिया, बिहार, इंडोनेशिया, बांग्लादेश, पूर्वोत्तर भारत, फिलीपींस तथा नेपाल में पाई जाती है. अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में इस छिपकली की मांग बहुत ज्यादा बढ़ गई है.

नपुंसकता से लेकर कैंसर तक के इलाज में होता इसका उपयोग
=========
‘गीको’ एक दुर्लभ छिपकली है, इसके मांस से नपुंसकता, डायबिटीज, एड्स और कैंसर जैसी बड़ी बीमारियों को ठीक करने के लिए दवाएं बनाई जाती हैं. गीको का सबसे ज्यादा इस्तेमाल मर्दानगी बढ़ाने के लिए भी किया जाता है.

==========

40 लाख रुपए में बिक रही है ये छिपकली
आप लोगों के घर में छिपकली तो जरूर होंगी लेकिन दुनिया में एक छिपकली ऐसी भी पाई जाती है जो एक लग्जरी कार से भी मंहगी है।

घरों की दीवारों पर आए दिन छिपकलियां घूमती हुई नजर आती हैं लेकिन कभी अपने ये सोचा है कि इनकी कीमत 40 लाख रुपए भी हो सकती है। 40 लाख में बिकने वाली इस छिपकली का नाम गीको (Gecko) है।

इस छिपकली की खास बात ये है कि यह एक तरह की ‘टॉक-के’ जैसी आवाज निकालती है, इसी कारण इससे ‘टॉके’ के नाम से भी जाना जाता है।

इतना ही नहीं, जितनी बड़ी इसकी कीमत है उतने ही इस छिपकली में गुण हैं। दक्षिण-पूर्व एशियाई देशों में गीको के शरीर के पार्ट्स का इस्तेमाल एड्स, कैंसर और मधुमेह जैसी दवाईयां बनाने के लिए किया जाता है। इसी के साथ मर्दानगी बढ़ाने के लिए भी इस छिपकली का इस्तेमाल किया जाता है।

इसी कारण ब्लैक मार्केट में इसकी कीमत 40 लाख रुपए है। गौरतलब है कि तेजी से जंगलों के कटने के कारण इस छिपकली की प्रजाति धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है।

बता दें कि यह छिपकली केवल दक्षिण-पूर्व एशिया जैसे कि बिहार, बांग्लादेश, इंडोनेशिया, फिलीपींस तथा नेपाल में पाई जाती है।