इस्राईली सैनिकों के हमले में 2 फ़िलिस्तीनी शहीद, दर्ज़नों घायल, 24 गिरफ़्तार : देखें वीडियो

Posted by

ज़ायोनी शासन के सैनिकों ने बैतुल मुक़द्दस और जॉर्डन नदी के पश्चिमी किनारे में हमला करके 24 फ़िलिस्तीनियों को गिरफ़्तार कर लिया है।

इस्राईली सैनिकों ने सोमवार को अल-ख़लील, रामल्लाह, जनीन और बैतुल मुक़द्दस शहरों पर धावा बोल दिया और फ़िलिस्तीनियों के घरों की तलाशी ली।

बैतुल मुक़द्दस के पूरब में इस्राईली सैनिकों के हमले में कई फ़िलिस्तीनी घायल भी हो गए।

इस्राईली सैनिकों और फ़िलिस्तीनियों के बीच झड़पों के भी समाचार हैं। ज़ायोनी सैनिकों ने विरोध करने वाले फ़िलिस्तीनियों पर आंसू गैस के गोले दाग़े और बल प्रयोग किया।

इस्राईली सैनिक आए दिन विभिन्न बहानों से फ़िलिस्तीनियों को परेशान करते हैं और उनके घरों को ध्वस्त कर देते हैं।

इस्राईली जेलों में क़रीब 6400 फ़िलिस्तीनी बंद हैं, जिसमें 300 से अधिक बच्चे हैं।
===========
इस्राईली स्नाइपरों द्वारा घायल होने वाले 2 फ़िलिस्तीनी युवा शहीद

वतन वापसी नामक शांतिपूर्ण प्रदर्शनों के दौरान, घायल होने वाले दो फ़िलिस्तीनी लड़कों की मौत हो गई है।

17 वर्षीय महमूद वाहबा को ग़ज्ज़ा में इस्राईली स्नाइपरों ने गोली मारकर घायल कर दिया था, सोमवार को वहाबा घावों की ताब न लाकर शहीद हो गए।

इस्राईली घेराबंदी के कारण, ग़ज्ज़ा पट्टी में घायलों के उपचार की कोई सुविधा नहीं है, सूत्रों का कहना है कि वहाबा की शहादत से कुछ घंटे पहले ही उपचार के लिए उन्हें बाहर ले जाने की अनुमति मिली थी।

शुक्रवार को 20 वर्षीय अब्दुल्लाह शमाली को इस्राईली स्नाइपरों ने पेट में गोली मार दी थी, जिसके कारण सोमवार को वे शहीद हो गए।

इन दो फ़िलिस्तीनी युवकों की शहादत के साथ ही, 30 मार्च से इस्राईली स्नाइपरों की गोली से शहीद होने वाले शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों की संख्या 40 हो गई है।

==========

Bhushan Mittal

@bhushan8360

हरियाणा के यमुनानगर में 14 साल की उम्र की लड़की को 4 लोगों ने अपहरण कर उसके साथ बलात्कार किया।

“फांसी दो भई फांसी दो, बलात्कारियों को फांसी दो”

======