इस सरकार में नौकरी नहीं मिल रही है, बीजेपी ने जातिवादि का ज़हर घोला है, योगी ने दलित और बैकवर्ड की नौक़री छीनी है : अखलेश यादव

Posted by


इटावा।गाजीपुर से शुरू हुई समाजवादी पार्टी की साईकिल यात्रा शुक्रवार को सुबह इटावा पहुंची. साईकिल यात्रा को दिल्ली के लिए रवाना करने के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सैफई पहुंचे थे. अखिलेश ने सैफई पंडाल से नई दिल्ली के जंतर मंतर के लिए साईकिल यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया . इस मौके पर अखिलेश यादव के साथ जनसभा को सम्बोधित करते हुए केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केन्द्र और प्रदेश की योगी सरकार संविधान के हिसाब से नहीं चल रही है . ऐसी सरकार को बर्खास्त कर देना चाहिये और आने वाले लोकसभा चुनाव में यूपी में विधानसभा चुनाव भी एक साथ होने चाहिये .

अखिलेश यादव ने कहा, ‘गाजीपुर से दिल्ली का रास्ता लम्बा है और उससे भी कठिन 2019 का रास्ता है . दिल्ली की सरकार आपको खत्म करना चाहती है . ये सरकार अगर 2019 में आ गई तो सब खत्म हो जाएगा. तब आप देखोगे कि लोकतंत्र है भी या नहीं. प्रधानमंत्री को जब मौका मिलता है, तब कहते है कि हम बैकवर्ड है लेकिन अगर वो बैकबर्ड हैं तो हम उनसे ज्यादा बैकवर्ड हैं. सबसे ज्यादा जातिवादि का जहर अगर किसी ने घोला है तो वो बीजेपी ने घोला है . हम विकास की बात करते है बीजेपी जातिवाद की बात करती है . हमारा काम में कोई मुकाबला नहीं हैं हमने जो सड़क बनाई है इसे गाजीपुर से और आगे तक जाना है, पता नहीं ये लेकर जा पाएंगे या नहीं? लेकिन हमें मौका मिला तो हम लेकर जाएंगे.’


गंगा की सफाई को लेकर भी केंद्र पर किया हमला
अखिलेश यादव ने कहा, ‘गंगा सफाई की बात करते है, क्या गंगा साफ हुई? गंगा तब तक साफ नहीं होगी जब तक उसके साथ कि नदियां और यमुना साफ नहीं होगी. बिना इसके गंगा साफ नही हो सकती. जो सरकार गंगा मैया को धोखा दे सकती है, उससे और क्या सवाल पूछे जाये?


बेरोजगारी-पेपर लीक को लेकर घेरा
सपा अध्यक्ष ने कहा, ‘इस सरकार में नौकरी नहीं मिल रही है . इस बीजेपी की सरकार में इतने पेपर लीक हुए है जितने और किसी सरकार में नही हुए 17 महीनों में कोई नौकरी नहीं दी बल्कि सबसे ज्यादा दलित और बैकवर्ड की नौकरी छीनी है . साजिश करके व्यवस्था को बदल दिया 1400 बच्चों का भविष्य अंधेरे में कर दिया आने वाले समय मे जब भी हमारी सरकार बनेगी, हम 12वीं पास को वैसे ही पुलिस में नौकरी देंगे जैसे पहले दी थी.’ अखिलेश यादव ने कहा, ‘प्रधानमंत्री दुनिया घूमते है . बताएं पूरी दुनिया में कहां इतनी बेरोजगारी है जितनी यहां है? योग की बात करते हैं, किसानों की नहीं करते?’

सीएम योगी पर भी साधा निशाना
मुख्यमंत्री पर कटाक्ष करते हुए अखिलेश ने कहा, ‘ऐसे मुख्यमंत्री देखे, बड़े अच्छे डॉक्टर है, गन्ने की ज्यादा पैदावार पर कहते है इसीलिए लोगों को डाईबटीज हो रही है. अभी तक गन्ने का भुगतान नही कर पाए हैं. बन्दरो पर कहते है हनुमान चालीसा पढ़ो. हम काम करना जानते है और बीजेपी के लोग बातें करना जानते है. हम समझाकर वोट लेते हैं और ये बरगलाकर वोट लेते है. ‘

जातिगत जंनगणना करवा रहे हैं. अरे जब सब आधार से जोड़ दिया है तो अब तो टेक्नोलॉजी है ऐसा क्यों नहीं कर देते की 8 दबाओ यादव और 6 दबाओ तो दलित. बहुत जल्दी सारे जातिगत आंकड़े सामने आ जाएंगे. 2019 हम लोगों के लिए अग्निपरीक्षा है, इसमें खरे नहीं उतरे तो नाली के किनारे एक कढ़ाई लेकर पकौड़े बनाने पड़ेंगे.

मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि हमने इटावा में सफारी बनाकर शेर पैदा कर दिए. जहां पर कभी डकैत रहते थे और हम भी विष्णु जी का मंदिर बनवा देंगे और हम क्यों न बनाये हमारे मुख्यमंत्री जी सफारी का उद्घाटन करने आये थे लेकिन शेरों के सामने जाने की हिम्मत नही जुटा पाए .

इस मौके पर सपा महासचिव रामगोपाल ने यादव ने इशारों में शिवपाल यादव के सेक्युलर मोर्चे पर निशाना साधते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में कुछ लोग बीजेपी के एजेंट बनकर नई-नई पार्टिया बना रहे है.