ईरानी और ब्रिटिश पहलवानों की टक्कर से आ जाएगा भूकंप, इतिहास की सबसे बड़ी प्रतियोगिता

Posted by

अब तक के सबसे बड़े मिश्रित मार्शल आर्ट (MMA) की आयोजित होने वाली प्रतियोगिता में दो दरियाई घोड़े एक दूसरे को टक्कर देने के लिए तैयार हैं, इनमें से एक हैं 6 फ़ीट 8 इंच के मार्टिन फ़ोर्ड जो ब्रिटिश हैं और दूसरे हैं 6 फ़ीट 2 इंच और 176 किलो के ‘ईरानी हल्क’ सज्जाद ग़रीबी।

बॉडी बिल्डर फ़ोर्ड और वेट लिफ़्टर ग़रीबी पोलिश संस्था केएसडब्लयू द्वारा प्रायोजित ब्लॉकबस्टर मुक़ाबले में आमने-सामने होंगे।

ग़रीबी को रेसलिंग का भी अनुभव है, जो ईरान में एक बहुत ही लोकप्रिय खेल है।

इससे पहले यह ईरानी हल्क उस समय दुनिया भर में सुर्ख़ियों में आया था, जब उसने सीरिया में ख़ूंख़ार आतंकवादी गुट दाइश के ख़िलाफ़ लड़ाई में शामिल होने का एलान किया था।

फ़ार्स न्यूज़ एजेंसी से बात करते हुए ग़रीबी ने कहा था, मैं एक मुसलमान हूं, लेकिन उन मुसलमानों का विरोधी हूं जो शिया होने का दावा तो करते हैं, लेकिन दूसरों की मदद करने में विश्वास नहीं रखते। मैं हमेशा पैग़म्बरे इस्लाम के परिजनों और देश के लिए अपनी जान देने के लिए तैयार हूं। मैंने सीरिया में पवित्र रौज़े की रक्षा और दाइश के ख़िलाफ़ लड़ने के लिए अपना नाम दर्ज करवाया है, मैं अपने ख़ून के आख़िरी क़तरे तक पवित्र रौज़ों की रक्षा करूंगा।

 

उनका कहना है कि बचपने से ही मैं अहले बैत या पैग़म्बरे इस्लाम के परिजनों का मुरीद रहा हूं। हज़रत अली हमेशा मेरे लिए आदर्श रहे हैं और इश्क़ के सुल्तान इमाम हुसैन मेरे दिल में बसते हैं। बचपन में मुझे इमाम हुसैन के नाम पर ही बीमारी से शिफ़ा मिली थी।

वहीं मीडिया फ़ोर्ड को पृथ्वी पर सबसे ख़ौफ़नाक व्यक्ति के रूप में याद करता है। वह कई फ़िल्मों और टीवी शोज़ में भी दिखाई दिए हैं।

 

निश्चित रूप से पोलिश अधिकारी इस प्रतियोगिता के आयोजन पहले रिंग को मज़बूत बनाने पर ज़रूर विचार करेंगे, क्योंकि जब दो दरियाई घोड़ें टकरायेंगे तो मामूली रिंग उनकी टक्कर नहीं झेल पाएगा।

हालांकि केएसडबल्यू ने अभी तक इस प्रतियोगिता की तारीख़ी और जगह का एलान नहीं किया है।