उपचुनाव के लिए मतदान संपन्न : कैराना में 58 प्रतिशत मतदान : सैंकड़ों EVM में गड़बड़ी : रिपोर्ट

Posted by

भारत में तीन राज्यों की चार लोकसभा और नौ राज्यों की 10 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए सोमवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में मतदान हुआ।

उत्तर प्रदेश की कैराना, महाराष्ट्र की पालघर और भंडा रा-गोंदिया और नागालैंड सीट पर लोकसभा उपचुनाव हुआ। पालघर में 5 बजे तक लगभग 40 प्रतिशत और कैराना में 6 बजे तक 58 प्रतिशत मतदान हुआ। महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में एक चौथाई ईवीएम ख़राब होने की ख़बरें आईं। इस पर चुनाव आयोग ने कहा है कि मशीनों में गड़बड़ी को बढ़ा-चढ़ा कर पेश किया गया है।

उत्तर प्रदेश के कैराना से राष्ट्रीय लोक दल प्रत्याशी ने आयोग को पत्र लिखकर 174 पोलिंग बूथों पर ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायत की। प्रत्याशी ने यह भी आरोप लगाया कि मुस्लिम और दलित बहुल क्षेत्रों में ख़राब मशीनें बदली नहीं गईं। वहीं समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने आरोप लगाया कि नूरपुर में 140 ईवीएम से छेड़छाड़ की गई।

======
10 राज्यों की 10 विधानसभा सीटों और 4 लोक सभा सीटों के उपचुनाव

उत्तर प्रदेश की राजनैतिक दृष्टि से अहम कैराना सीट के अलावा महाराष्ट्र में पालघर और भंडारा गोन्डिया की संसदीय सीटों तथा नगालैंड में लोकसभा की एक सीट के लिए उपचुनाव हो रहे हैं। कैराना लोकसभा उपचुनाव में सत्ताधारी बीजेपी के ख़िलाफ़ विपक्ष ने संयुक्त उम्मीदवार मैदान में उतारा है।

कैराना की लोकसभा सीट बीजेपी एमपी हुकुम सिंह के मरने से ख़ाली हुयी जिस पर इस समय उनकी बेटी मरीगंका सिंह भाजपा की ओर से उम्मीदवार हैं। उनका राष्ट्रीय जनता दल की उम्मीदवार तबस्सुम हसन से मुक़ाबला है जिन्हें समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी का समर्थन हासिल है।

महाराष्ट्र के पालस कडेगांव, उत्तर प्रदेश की नूरपुर, बिहार की जोकिहट, झारखंड की गोमिया और सिल्ली, केरल की चेन्गन्नुर, मेघायल की अंपति, पंजाब की शाहकोट, उत्तराखंड की थराली और पश्चिम बंगाल की महेशतला विधान सभा सीटों के लिए उपचुनाव हो रहे हैं।

कैराना में सुबह 11 बजे तक 22 फ़ीसद और बिजनौर की नूरपुर विधान सभा सीट पर 21.34 फ़ीसद मतदान होने की रिपोर्ट है।

समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश की नूरपुर विधान सभा के उपचुनाव में ईवीएम में हेरफेर करने का इल्ज़ाम लगाया है। द हिन्दु के संवाददाता उमर रशीद ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि नूरपुर में दलितों और मुसलमानों के इलाक़ों में ज़्यादातर बूथ पर इवीएम मशीनें काम नहीं कर रही हैं।

समाजवादी पार्टी के एमएलसी उदयवीर सिंह ने ट्वीट कर कहाः “वैज्ञानिक तरीक़े से हेरफेर, नूरपुर में 90 दलित और मुस्लिम बूथों पर मशीने ख़राब, कोई इंजीनियर नहीं है। डीएम का रवैया ग़ैर ज़िम्मेदाराना है। रमज़ान को बीजेपी हथकंडे के तौर पर इस्तेमाल कर रही है। यह है डिजिटल इंडिया और विकास।”

समाजवादी पार्टी के एमएलसी उदयवीर सिंह ने कहा कि नूरपुर में 90 फ़ीसद अधिकारियों ने अपने फ़ोन बंद कर रखे हैं।
===========
ठबंधन प्रत्याशी तबस्सुम ने EVM पर उठाया सवाल

यूपी के कैराना और नूरपुर में उपचुनाव के लिए सोमवार सुबह सात बजे से वोटिंग जारी है। वोटिंग शुरू होते ही कई बूथों पर ईवीएम मशीनें खराब होने की शिकायतें आने लगी। इसके बाद तो ईवीएम मशीनें खराब होने का आंकड़ा सौ तक पहुंच गया तो मुस्लिम मतदाताओं ने मशीनें ठीक न होने के चलते प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। मुस्लिम मतदाताओं का प्रदर्शन जारी है।

उधर, गठबंधन प्रत्याशी तबस्सुम हसन ने मशीनों के खराब होने पर विरोध जताया। उन्होंने जानबूझकर मुस्लिम मतदाताओं को मत से वंचित किए जाने का आरोप लगाया।

वहीं बिजनौर में सपा के नगीना के पूर्व सांसद यशवीर सिंह को एसपी देहात ने हिरासत में लिया। आरोप है कि पूर्व सांसद यशवीर सिंह नूरपुर विधानसभा के उपचुनाव में अपनी गाड़ी से वोटरों को बूथ तक ले जाने का काम कर रहे थे।

नूरपुर विधानसभा उपचुनाव में ईवीएम में हुई खराबी ने मतदान की रफ्तार को रोक दिया। मतदान के लिए बनाए गए 351 बूथों में से 100 से अधिक पर ईवीएम खराब होने की शिकायतें मिलीं। कई बूथों पर एक से दो घंटे तक मतदान बाधित रहा। बूथ संख्या 181 अब्दुल्लापुर दहाना में तीसरी बार मशीन बदले जाने के बाद करीब दो बजे मतदान सुचारु हुआ।

रमजान व भीषण गर्मी होने के बावजूद भी मतदाताओं में भारी उत्साह देखने को मिला। सुबह सात बजे मतदान शुरू होने से पहले ही बूथों पर मतदाताओं की लंबी लाइनें लगनी शुरू हो गईं थी। मतदान शुरू होने के कुछ देर बाद ही ईवीएम खराब होनी शुरू हो गईं। 100 से अधिक बूथों पर ईवीएम मशीन खराब होने की शिकायतें मिलीं। कुछ बूथों पर थोड़ी देर बाद ही ईवीएम बदलकर मतदान शुरू करा दिया गया, लेकिन करीब 30 बूथों पर एक से दो घंटे तक मतदान बाधित रहा। ग्राम अब्दुल्लापुर दहाना में बने बूथ संख्या 181 पर सुबह साढ़े सात बजे 32 वोट पड़ने के बाद ईवीएम ने धोखा दे दिया। दूसरी मशीन 12 बजे के बाद लगाई गई, लेकिन दो वोट पड़ने के बाद वह भी खराब हो गई। बाद में करीब ढाई बजे तीसरी मशीन लगाकर मतदान शुरू कराया गया। यहां पांच बजे के बाद भी मतदाताओं की लंबी लाइनें लगी रहीं। इतनी बड़ी तादात में ईवीएम खराब न होती तो मतदान प्रतिशत और बढ़ सकता था।

सहारनपुर में नकुड़ और गंगोह विधानसभा में वोटिंग शुरू होते ही कई बूथों पर मशीनें खराब हो गई। वहीं रामपुर मनिहारान इस्लामनगर में निरंजन सिंह इंटर कॉलेज में ईवीएम मशीन ठीक न कराए जाने को लेकर बूथ के बाहर मुस्लिम मतदाताओं ने प्रदर्शन जमकर किया।

नकुड़ के पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर 2 में बनाये गये बूथ नंबर 9 की मशीन खराब हो गई। जिससे काफी देर तक मतदान बाधित रहा। करीब एक घंटा इंतजार करने के बाद दर्जनों मतदाता वापस घर लौट गए।

रामपुर मनिहारान के ग्राम सहजवी बूथ संख्या 368 व ग्राम लूण्ढा बूथ 338 संख्या इवीएम खराब होने पर मतदान बाधित। हीरोज में 141 नम्बर और कोटड़ा में 11 नम्बर की ईवीएम मशीन खराब हुई।

नकुड़ के पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर 2 में बनाये गये बूथ नंबर 9 की मशीन खराब हो गई। जिससे काफी देर तक वोटिंग का काम बाधित रहा। करीब एक घंटा इंतजार करने के बाद दर्जनों मतदाता वापस घर लौटे। अभी तक भी मशीन नहीं बदली गई।
=======
ANI UP

Verified account

@ANINewsUP
There was massive technical snag in the EVMs and total breakdown of systems. My supporters went back without voting as machines were not working. My party leaders have approached the EC regarding the matter: Mriganka Singh, BJP Candidate from Kairana Lok Sabha bypolls

ANI

Verified account

@ANI
BJP delegation met EC officials in Delhi over reports of malfunctioning in EVMs during by-polls today.BJP’s Arun Singh says,’we told them that we received info that EVMs worked either late or with some issues or didn’t work at all in 197 booths,demanded repolling at few stations’

ANI UP

Verified account

@ANINewsUP
We demanded from EC, re-polling in places where more than 1 & a half hours were wasted & extra time after 6 pm for voters in places where less time was wasted so that they can vote: RG Yadav, SP after multi-party delegation met Election Commission over by-polls in Kairana&Noorpur

ANI

Verified account

@ANI
Technical problems in EVMs&VVPATs clearly indicate failure of EC.If this is the situation in by-polls, think about coming Lok Sabha Elections. We’ve said it again & again & other parties have also agreed,that elections should be conducted using ballot papers:Anil Desai, Shiv Sena

ANI UP

Verified account

@ANINewsUP
I’ve been continuously receiving complaints. They didn’t expect so many ppl to come out to vote in Ramzan.Initial strategy was to hold elections in Ramzan so that ppl won’t vote: Tabassum Hasan, RLD candidate for #Kairana Lok Sabha seat after writing to EC over faulty EVMs&VVPATs