एनडीए में रहने या बाहर जाने पर अंतिम फ़ैसला राहुल गांधी से मुलाक़ात के बाद लिया जा सकता है : उपेंद्र कुशवाहा

Posted by

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने मोतिहारी अधिवेशन के बाद पत्रकारों से बात करते हुए राज्य सरकार पर तो खूब हमले किए लेकिन एनडीए में रहने या अलग होने पर तस्वीर साफ नहीं की। कुशवाहा ने ऐसा कोई एलान नहीं किया, जिसकी राजनीति गलियारों में उम्मीद की जा रही थी। कहा जा रहा है कि एनडीए में रहने या बाहर जाने पर अंतिम फैसला अब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के बाद लिया जा सकता है।

10 दिसंबर को राहुल गांधी से उपेंद्र कुशवाहा की मुलाकात हो सकती है। इस मुलाकात के बाद ही वे केंद्रीय मंत्रिपरिषद से इस्तीफा भी दे सकते हैं। वैसे इस मसले पर उपेंद्र कुशवाहा ने बस इतना कहा कि मैं किससे मिलूं यह कोई और तय नहीं कर सकता है। किसी से भी मिलने के लिए मुझे किसी से मंजूरी लेने की जरूरत नहीं है।

सूत्रों की माने तो उपेंद्र कुशवाहा अब शरद यादव की पार्टी के साथ विलय करके कांग्रेस के साथ नए सिरे से गठबंधन पर बात करने की कोशिश में हैं। वैसे कुशवाहा का हर दांव खाली जा रहा है, ऐसे में राहुल से मुलाकात के बाद भी कोई नतीजा निकलेगा यह देखने वाली बात है

10 दिसंबर को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलेंगे उपेंद्र कुशवाहा: सूत्र