ऐक्सीलेंस कालेज परिसर मे सीकर की बेटियों के लिये बना विश्व स्तरीय अनुसार नया बास्केटबॉल ग्राऊंड

Posted by

।अशफाक कायमखानी।
सीकर।
राजस्थान मे महिला शसक्तीकरण अवार्ड से सम्मानित एक मात्र पुरुष वाहिद चोहान ने अंतरराष्ट्रीय मापदण्डो अनुसार ऐक्सीलेंस कालेज परीसर मे विश्व स्तरीय बास्केटबॉल ग्राऊंड बनाकर आज सीकर की बेटियो के खेलने के लिये एक सादे समारोह के बाद सुपूर्द किया गया।


सीकर मे खासतौर पर सालो से बेटीयो के लिये अलग से अंतरराष्ट्रीय मापदण्डो अनुसार एक सुसज्जित बास्केटबॉल ग्राऊण्ड की चली आ रही कमी को पूरा करने के लिये कोच खुर्शीद हुसेन शेख के हाथो व स्थानीय प्रबंध समिति की मोजूदगी मे फिता काटकर बेटीयो के खेलने के सुपुर्द करने पर ऐक्सीलेंस फाऊंडेशन के चेयरमेन वाहिद चोहान की शहर मे सभी स्तर पर भूरी भूरी प्रशंसा की जा रही है।

 

हालांकि ऐक्सीलेंस गलर्स स्कूल व कालेज मे पहले से बास्केटबॉल ग्राऊण्ड मोजूद होने के कारण यहां की छात्राओ ने राज्य स्तर व राष्ट्रीय स्तर के टुरनामेंटस मे अपना लोहा मनवाते हुये काफी दफा ख्याति पाई है।लेकिन मोजूदा दौर की जरूरत को समय पहले भांपकर जिस तरह से लाखो रुपये खर्च करके वाहिद चोहान ने उक्त विश्व स्तरीय बास्केटबॉल ग्राऊण्ड बनाने के बाद इदारे की छात्राओं से विश्व स्तर पर खेलते हुये सीकर का नाम ऊंचा करने की उम्मीद खेल समीक्षक करने लगे है।

 कुल मिलाकर यह है कि अपने गाढे पसीने की कमाई लगाकर सीकर की बेटियो के लिये शिक्षा के साथ आला दर्जे की निशुल्क खैल सुविधा उपलब्ध करवाने के लिये जूनूनी शख्स वाहिद चोहान की जीतनी तारीफ की जाये वो कम हांकी जायेगी। जबकि मोटी फीस लेने वाले शैक्षणिक ईदारो की तो बात अलग छोड़ने के बाद भी देखते है कि सरकार भी हमारे से विभिन्न करो से प्राप्त धन से ही खेल सुविधाऐ उपलब्ध करवाती आ रही है।