कनाडा का विशाल इस्लामी गार्डेन, पश्चिमी दुनिया में अपनी क़िस्म का पहला गार्डेन : रिपोर्ट

Posted by

आज आप सैकड़ों और हज़ारों साल की समृद्ध परंपराओं को लोगों के लिए कैसे प्रासंगिक बना सकते हैं?

यह ज़िम्मेदारी आर्किटेक्ट्स, बाग़बानों और डिज़ाइनरों के एक समूह को सौंपी गई और उनसे कहा गया कि कनाडा जैसे पश्चिमी देश में 12 एकड़ पर आधारित इस्लामी गार्डेन बनाकर तैयार करें।

यह इस्लामी गार्डेन वर्षों की योजना और 18 मीहनों तक निर्माण के बाद पश्चिमी कनाडा के एडमॉनटन में एलबर्टा यूनिर्सिटी के परिसर में बनकर तैयार हुआ है। पिछले शुक्रवार को ही इसे जनता के लिए खोला गया है।

इस गार्डेन की संस्थापक संस्था आग़ा ख़ान ट्रस्ट का कहना है कि यह गार्डेन लोगों में सहिष्णुता को बढ़ावा देगा और इस्लाम में लोगों की रूची में वृद्धि का कारण बनेगा।

नेल्सन बायर्ड वोल्ट्ज़ लैंडस्केप आर्किटेक्ट्स के मालिक थॉमस वोल्ट्ज़ का कहना है कि यह इस्लामी उद्यानों के इतिहास की प्रेरणादायक ज्यामिति को समझने और उसे अपनाने का कारण बनेगा।

इस परियोजना में अहम भूमिका निभाने वाले आर्किटेक्ट ने बताया कि इसका डिज़ाइन तैयार करने से पहले उन्होंने इस्लामी उद्यानों के इतिहास का एक साल तक अध्ययन किया और इसके लिए उन्होंने मिस्र और भारत की यात्रा की।

वोल्ट्ज़ का कहना है कि इन यात्राओं और शोधों के माध्यम से मैंने देखा कि इस्लामी उद्यान की मौलिक ज्यामिति एवं तत्व विभिन्न संस्कृतियों के अनुकूल दुनिया भर में कैसे फैले हुए हैं।

दुनिया भर में फैले हुए मुस्लिम धरोहरों में एक तरह की समानता और स्थानीय संस्कृति के अनुरूप उनमें अविश्वसनीय लचीलापन सहिष्णुता की जीती जागती मिसाल है।

इस गार्डेन का सैंदर्य भारत पर सैकड़ों साल तक राज करने वाले मुग़ल शासकों के धरोहरों से प्रेरित है।

वोल्ट्ज़ ने बताया कि यह ख़ुद शिया इमाईलिया समुदाय के नेता आग़ा ख़ान की पसंद के आधार पर है।

इस परियोना पर 2 करोड़ 50 लाख डॉलर की लागत आई। एलबर्टा यूनिवर्सिटी और आग़ा ख़ान यूनिवर्सिटी के बीच हुए एक समझौते के आधार पर इसका निर्माण हुआ।

हालांकि उत्तर का प्रवेश द्वारा समझा जाने वाला एडमॉनटन शहर कि जिसकी जलवायु गर्मियों में अधिकांश तापमान 30 डिग्री और सर्दियों में माइनस 30 डिग्री होता है, आग़ा ख़ान गार्डेन को पारम्परिक इस्लामी उद्यानों से अलग बनाता है।

========