कर्नाटक : सरकार बनाने के लिए जोड़तोड़ शुरू, भाजपा और जेडीएस ने किया दावा पेश : दिनभर की UPDATE

Posted by

भारत के कर्नाटक राज्य में विधान सभा चुनावों के बाद बड़ी दिलचस्प स्थिति पैदा हो गई है जिसका सीधा फ़ायदा जनता दल सेक्युलर को मिलने वाला है।

चुनाव के नतीजे आने के बाद भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है लेकिन वह जादुई आंकड़े से दूर है जबकि दूसरी ओर कांग्रेस ने बिना शर्त जनता दल एस के समर्थन की घोषणा करके जनता दल एस को किंग मेकर से भी ऊपर की स्थिति में पहुंचा दिया है।

224 सीटों वाली विधान सभा की 222 सीटों पर चुनाव हुए हैं। भारतीय जनता पार्टी को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 37 सीटें मिली हैं। तीन सीटें अन्य के खाते में गई हैं। भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार येदियुरप्पा ने मंगलवार शाम को राज्यपाल से मुलाक़ात करके सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है जबकि दूसरी ओर जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन ने भी राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का अपना दावा पेश कर दिया है। अब देखना यह है कि राज्यपाल सरकार बनाने का मौक़ा किसे देते हैं।
=========
100 करोड़ का ऑफर ख्याली पुलाव, विधायक नहीं खरीदती BJP

कर्नाटक में राजनीतिक सियासत तेज हो गई है, बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां अपनी सरकार बनाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही हैं। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी बीजेपी पार्टी बहुमत से महज 8 सीट पीछे रह गई। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस और जेडीएस ने भी हाथ मिला लिया है।

2:30 PM: जेडीएस और कांग्रेस के विधायकों ने एचडी कुमार स्वामी के समर्थन में एक दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए। यह दस्तावेज आज गवर्नर को सौंपा जाएगा।

2.23 PM: जेडीएस और कांग्रेस अपने सभी विधायकों के साथ शाम चार बजे राज्यपाल वजूभाई वाला से मिलने राजभवन जाएगी।

2.18 PM: प्रकाश जावड़ेकर ने कुमारस्वामी के आरोपों को ‘ख़याली पुलाव’ बताते हुए कहा कि ‘बीजेपी विधायकों के खरीद-फरोख्त में विश्वास में नहीं करती।’ उन्होंंने कांग्रेस और जेडीएस के आरोपों को चुनावी बौखलाहट बताया। जावड़ेकर ने कहा कि ‘विरोधी 100 करोड़ और 200 करोड़ रुपये के खयाली पुलाव पका रहे हैं’

1.14 PM: कांग्रेस विधायक टीडी राजगौड़ा ने कहा कि बीजेपी ने उन्हें फोन करके अपनी ओर मिलाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने साफ कर दिया कि वह पूरी तरह से कांग्रेस के साथ हैं।

12.56 PM: कुमारस्वामी ने कहा कि हम कर्नाटक के प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष के साथ दोबारा गवर्नर से मुलाकात करेंगे।

12.55 PM: कुमारस्वामी से जब पूछा गया था कि क्या वह बीजेपी कर्नाटक इंचार्ज प्रकाश जावड़ेकर से मिले थे तो उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि ‘ये जावड़ेकर कौन है? मैं कभी उनसे नहीं मिला।’

12.38 PM: कुमारस्वामी ने कहा कि “मुझे दोनों पार्टियों की तरफ से प्रस्ताव मिला। मेरे 2004 और 2005 में बीजेपी के साथ जाने की वजह से मेरे पिता के करियर पर धब्बा लगा और भगवान ने मुझे यह धब्बा साफ करने का मौका दिया है इसलिए मैं कांग्रेस के साथ जा रहा हूं।”

12.34 PM: KPJP के विधायक आर शंकर को गवर्नर हाउस में बीजेपी डेलीगेशन के साथ देखा गया।

12.27 PM: कुमारस्वामी ने कहा कि “जेडीएस के विधायकों को विपक्षी पार्टियों के द्वारा 100 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया जा रहा है। ये काला धन कहां से आ रहा है। अब आयकर के अधिकारी कहां हैं?”

12.10 PM: बीजेपी नेता भगवंत खूबा ने कहा कि जब बहुमत को साबित करने का समय आयेगा तो पार्टी अपने नंबर दिखाएगी लेकिन हम अभी कुछ नहीं कह सकते।

12.03 PM: जेडीएस ने कुमारस्वामी को विधायक दल का नेता चुना।

11.50 AM: गवर्नर के साथ बीजेपी की बैठक के बाद येदियुरप्पा ने कहा “पार्टी ने मुझे चुना है, मैं गवर्नर को पत्र भेज चुका हूं और मुझे आशा है कि वह मुझे बुलाएंगे। गवर्नर ने कहा है कि वह उचित निर्णय लेंगे। मैं गर्वनर से पत्र मिलते ही आप सभी को सूचित करूंगा।”

11.42 AM: बंगलूरू में कांग्रेस विधायकों की बैठक शुरू हो गई है। इस बैठक में 78 विधायकों में से 66 विधायक पहुंचे हैं।

11.40 AM: बैठक में जेडीएस के नेता ए मंजूनाथ ने कहा कि गठबंधन की सरकार में कर्नाटक का अगला मुख्यमंत्री सिर्फ एचडी कुमारास्वामी ही होंगे। इस गठबंधन का एकमात्र सच यही है। मंजूनाथ ने यह भी कहा कि कर्नाटक की जनता कुमारास्वामी को सीएम देखना चाहती है। उन्होंने कहा कि हम किसी के बहकावे में आने वाले नहीं है।

11.30 AM: कांग्रेस नेता एमबी पाटिल ने कहा कि यह फर्जी खबर है कि हम सब एक हैं। बीजेपी के 6 लोग हमारे साथ संपर्क में हैं।

11.08 AM: जेडीएस विधायक दल की बैठक में दो विधायक राजा वेंकटप्पा नयाका और वेंकट राव नाडागौड़ा गायब हैं।

10.58 AM: बंगलूरू में जेेडीएस की विधायक दल की बैठक शुरू हो गई है।

10. 55 AM: पूर्व अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि कर्नाटक में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है, गवर्नर को सबसे पहले बीजेपी नेता को सरकार बनाने के लिए बुलाना चाहिए, अगर पार्टी सरकार बनाने से मना करती है तो गवर्नर को दूसरी सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए बुलाना चाहिए। जिसके बाद गवर्नर को बहुमत साबित करने का मौका देना चाहिए।

10.49 AM: यूनियन मिनिस्टर सदानंद गौड़ा ने कहा कि हम अकेली सबसे बड़ी पार्टी हैं। जनता देख रही है कि कांग्रेस और जेडीएस 6 महीने पहले किस तरह लड़ रही थी लेकिन अब वह सरकार बनाने के लिए साथ आ गए हैं।

10.39 AM: जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने कहा कि हम पहले ही कांग्रेस के समर्थन का फैसला कर चुके हैं इसलिए हमने विधायक दल की बैठक बुलाई। किसी और तरह के फैसले पर विचार करने का सवाल ही नहीं उठता।

10.34 AM: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि जनता राज्य में बीजेपी की सरकार चाहती है और हम सरकार बनाकर रहेंगे। समस्याएं तो कोई भी पैदा कर सकता है लेकिन कर्नाटक की जनता हमारे साथ है। बैठक के बाद हम आगे की रणनीति तैयार करेंगे। कांग्रेस की बैकडोर एंट्री को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

10.29 AM: बीजेपी नेता येदियुरप्पा ने कहा कि विधायक दल की बैठक में सीएम पद के लिए नेता का चुनाव होगा। फिर हम राजभवन जाएंगे। हम सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे और कल गवर्नर से समय मांगेंगे।

आज अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के महासचिव और एमपी, केसी वेणुगोपाल और अन्य कांग्रेस विधायक पार्टी की विधायक दल की बैठक के लिए कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के ऑफिस पहुंचे।

वहीं कर्नाटक बीजेपी के वरिष्ठ नेता और कर्नाटक के पूर्व उपमुख्यमंत्री केएस ईश्वरप्पा का कहना है कि ‘इसमें कोई शक नहीं है कि सरकार हम ही बनाएंगे, 100 फीसदी सरकार हम बनाएंगे, आप बस देखिए और इंतजार कीजिए। नतीजे कल ही आए हैं, अभी बस एक ही दिन बीता है।’

कांग्रेस नेता एएल पाटिल बय्यापुर का कहना है कि ‘मुझे बीजेपी नेताओं ने फोन किया और कहा कि हम आपको मंत्रालय देंगे और मंत्री बना देंगे पर मैं यहीं रहूंगा। एचडी कुमारस्वामी हमारे मुख्यमंत्री हैं।’ इसके बाद एक अन्य कांग्रेस नेता डीके शिव कुमार ने कहा ‘हां हमारे पास प्लान जरूर है। हमें अपने विधायकों को बचाना होगा। हम आपको बताएंगे आगे क्या प्लान है।’

बैठक में पहुंचने के बाद कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया का बयान भी आया, उन्होंने कहा कि ‘हमारे सारे विधायक हैं, कोई भी मिसिंग नहीं है। हमें पूरा विश्वास है कि हम सरकार बना रहे हैं।’