कैसे बची गुफ़ा में फँसे लोगों की जान..जानिये भारत का योगदान

Posted by

Kavita Singh
================

थाईलैंड की गुफ़ा में फँसे बच्चों में से एक कुछ दिन पहले भारत आया था. यहाँ उसने खरीददारी की और वापसी में कुछ रूपये बच गए उसके पास जो एयरपोर्ट पर एक्सचेंज न हो पाए.

उसने उन्ही रुपयों में से यादगार के रूप में 2000 का एक नोट अपने दोस्तों को दिखाने के लिए जेब में रख लिया और कोच और टीम के साथ चल पड़ा.
गुफा में फँसने के बाद इसी एक नोट से इसकी लोकेशन पता चली क्यूँ कि भारतीय नोट में जीपीएस नैनो टेक्नोलॉजी वाली चिप लगी है जो 120 फीट गहराई में दबे नोट की लोकेशन बता देती है (झूठ लगे तो आजतक वाली श्वेता से पूछ लो)

थाईलैंड की जनता ने इस चमत्कार के लिए बैंकॉक और पटाया के सभी मसाज पार्लरों में भगवान मोईजी की तस्वीर लगाने का तय किया है…
जय मोई
(तुम कोंग्रेसी लोग हर बात को मज़ाक में ही लेते हो)
सच्चे हिंदुस्तानी देखते ही शेयर करे..
हां नहीं तो 🙈😷😌

नोट : लेख का teesri जुंग से कोई सरोकार नहीं है|