गुलाब चंद कटारिया ने कहा, रकबर ख़ान की मौत पुलिस कस्टडी में हुई है : देखें वीडियो

Posted by

रकबर ख़ान हत्याकांड में राजस्थान सरकार के बयान से नया मोड़ आ गया है।

राजस्थान के गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा है कि 28 वर्षीय रकबर ख़ान की मौत मॉब लिचिंग की वजह से नहीं, बल्कि उनकी मौत पुलिस कस्टडी में हुई है।

इस हत्याकांड में पुलिस की भूमिका पहले से ही सवालों के घेरे में है। गुलाब चंद्र कटारिया ने घटना स्थल का दौरा कर पूरे मामले में अब तक की जांच की समीक्षा की।

ग़ौरतलब है कि 21 जुलाई को रकबर ख़ान अपने एक साथी असलम ख़ान के साथ पालने के लिए गाय ख़रीदकर ले जा रहे थे, इसी दौरान तथाकथित गौ रक्षकों ने रकबर ख़ान को बेदर्दी से मारा पीटा।

पहले संदेह किया जा रहा था कि भीड़ की पिटाई की वजह से उनकी मौत हुई, लेकिन अब राजस्थान के गृहमंत्री ने कहा है कि ”घटना की पूरी जांच के बाद यह बात लगभग स्पष्ट है कि पुलिस वाले रकबर ख़ान को थाने लेकर गए, इसके पहले उन्होंने रास्ते में चाय भी पी।

उन्होंने कहा, पुलिस वाले रकबर को अस्पताल ले जाने के बजाए पहले गायों को गोशाला लेकर गए। जो उन्हें नहीं करना था। सबसे पहले उन्हें घायल व्यक्ति को अस्पताल ले जाना चाहिए था।

कटारिया ने कहा, ”इस मामले में जो सबूत हमने इकट्ठे किए हैं, उसके मुताबिक़ रकबर की मौत पुलिस की हिरासत में हुई। घटनास्थल से 300 मीटर की दूरी पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र है। हमने अपनी जांच रिपोर्ट सौंप दी है।