झारखंड : गोमांस बनाने के आरोप में प्रधानाध्यापिका समेत दो लोग गिरफ्तार

झारखंड : गोमांस बनाने के आरोप में प्रधानाध्यापिका समेत दो लोग गिरफ्तार

Posted by

नीरज सिन्हा – रांची से बीबीसी हिंदी के लिए
——————–

झारखंड में पाकुड़ जिले के एक सरकारी स्कूल में गोमांस बनाए जाने के आरोप में प्रधानाध्यापिका समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है.
पाकुड़ के पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल ने गिरफ्तारी की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि यह मामला सदर प्रखंड के छोटा मोहलान प्राथमिक विद्यालय का है.
पुलिस अधीक्षक के मुताबिक सदर प्रखंड के शिक्षा प्रसार पदाधिकारी ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई है.
सरकारी स्कूल में मिड डे मील के बर्तनों में प्रतिबंधित मांस बनाये जाने तथा धार्मिक भावना भड़काने के आरोप में स्कूल की प्रधानाध्यापिका रोसा हांसदा और इस काम में उनका सहयोग करने वाले ग्रामीण बिरजू हांसदा को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा रहा है.

अपने ख़ाने के लिए मंगवाया था
क्या बच्चों को गोमांस परोसने की तैयारी थी? – इस सवाल पर पुलिस ने बताया कि तफ्तीश में ये बात सामने आई है कि प्रधानाध्यापिका ने ग्रामीण से अपने खाने के लिए इसे मंगवाया था, लेकिन सरकारी स्कूल में यह काम बिल्कुल गलत है.
गौरतलब है कि संथालपरगना में पाकुड़ आदिवासी बहुल ज़िला है और गिरफ्तार किए गए दोनों लोग इसी समुदाय से आते हैं.
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शुक्रवार को स्कूल के दर्जनों बच्चे स्कूल छोड़कर गांव के लोगों के साथ जिला मुख्यालय पहुंचे थे.
बच्चों ने दोपहर का भोजन भी नहीं खाया तथा अपने अभिवावकों को जानकारी दी कि स्कूल में गोमांस बनाया जा रहा है. इससे गांव के लोग आक्रोशित हो गए और स्कूल को घेर लिया.
बच्चों के ज़िला मुख्यालय पहुंचने पर जांच के लिए पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को स्कूल भेजा गया, जिसमें मामला सही पाया गया.
इसके बाद पुलिस ने बढ़ते हंगामे को शांत कराया तथा ग्रामीणों के साथ बैठक कर संयम बरतने की हिदायत दी.

झारखंड में भी बूचड़खाने बंद
गौरतलब है कि झारखंड में गोहत्या प्रतिषेध कानून 2005 में लागू किया गया है.
उत्तरप्रदेश की बीजेपी सरकार द्वारा अवैध बूचड़खानों को बंद किये जाने के फरमान जारी करने के बाद झारखंड की बीजेपी सरकार ने भी सभी अवैध बूचड़खानों को बंद करने का आदेश जारी किया है.
इनके अलावा जानवरों की तस्करी पर सख्त कार्रवाई करने को सभी जिलों को आवश्यक निर्देश भेजे गए हैं.
हाल के दिनों में पाकुड़, रांची, पलामू, जमशेदपुर, धनबाद समेत अन्य जगहों के उच्च मार्गों पर जानवरों के कई ट्रक ज़ब्त करने के साथ कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है.