दंगाइयों, हत्यारों के समर्थक बीजेपी सांसद जयंत सिन्हा ने दी राहुल गांधी को बहस की चुनौती

Posted by

रामगढ़ मॉब लिंचिंग के सज़ायाफ्ता मुजरिमों के समर्थक बीजेपी संसाद जयंत सिन्हा अब अपनी झेंप मिटाने के लिए कभी खेद व्यक्त कर रहे हैं तो कभी चिनौती दे रहे हैं|

रामगढ़ मॉब लिंचिंग अब सियासी रूप लेता जा रहा है। मामले में आरोपियों का माला पहनाकर स्वागत करने पर विवादों में घिरे केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने इसके लेकर अब राहुल गांधी पर निशाना साधा है। जयंत सिन्हा ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को रामगढ़ मॉब लिंचिंग मुद्दे पर हिंदी या अंग्रेजी में लाइव बहस करने की चुनौती दी है।

उन्होंने आगे लिखा, ‘राहुल गांधी जी ने मेरी व्यक्तिगत आलोचना की है। उन्होंने मेरी शिक्षा, मेरे मूल्यों और मेरी मानवता की निंदा की है और प्रश्न चिन्ह लगाए हैं। मैं उन्हें रामगढ़ लिंचिंग मामले पर हिंदी या अंग्रेजी में एक लाइव बहस के लिए चुनौती देता हूं। अगर वो सोचते हैं कि मेरा व्यक्तिगत आचरण ‘घृणास्पद’ है तो इस मुद्दे पर सभ्यतापूर्ण बहस करें। अपने सोशल मीडिया हैंडल के पीछे छिपकर शूट-एंड-स्कूट की राजनीति ना करें।

Jayant Sinha

@jayantsinha
I invite Sh. @RahulGandhi ji to a live debate.

आपको बता दें कि जंयत सिन्हा ने रामगढ़ लिंचिग मामले के दोषियों को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद माला पहनाकर स्वागत किया था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने इसके लिए जयंत सिन्हा की आलोचना की थी। जयंत सिन्हा ने हालांकि बाद में इसके लिए खेद भी जताया था।

राहुल गांधी ने जयंत सिन्हा के खिलाफ एक ऑनलाइन याचिका का लिंक शेयर किया था और लोगों से इस पर समर्थन की अपील की थी।

Rahul Gandhi

@RahulGandhi
If the sight of a highly educated MP & Central Minister, Jayant Sinha, garlanding & honouring criminals convicted of lynching an innocent man, fills you with disgust, click on the link & support this petition.

Sign Petition:http://chn.ge/2N3MCrA via @ChangeOrg_India

Sign the Petition
Harvard University: Withdraw Mr. Jayant Sinha’s Harvard Alumni Status!

लिंचिंग मामले पर सफाई देते हुए जयंत सिन्हा ने कहा, ’29 जून 2017 को हुई घटना बहुत भयानक और दर्दनाक थी और ऐसी घटनाओं की वह निंदा करते हैं। अपराध करने वालों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए।