नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने लिखी चुनाव आयोग को चिट्ठी, मप्र में ईवीएम मशीनों के लिए एक्सपर्ट गुजरात से ही क्यों भेजे गए

Posted by

भोपाल।जनता आवाज़ उठाये या नेता कुछ भी कहें फिलहाल चुनाव आयोग किसी की सुनने, मानने के लिए तैयार नहीं है, चुनाव आयोग को भी अपने ”मन” की करना है, ऐसा मालूम होता है जैसे चुनाव आयोग को देश से ज़यादा अपनी चिंता है और आयोग का काम उनके अपने पैसे से चलता है|


नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में गुजरात के 16 ईवीएम मशीन के एक्सपर्ट की नियुक्ति पर सवाल उठाए हैं। सिंह ने कहा कि क्या देश में ईवीएम के एक्सपर्ट गुजरात में ही उपलब्ध हैं। सिंह ने केंद्रीय निर्वाचन आयोग को लिखे पत्र में कहा है कि मध्यप्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होना हैं और उन्हें जानकारी मिली है कि प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में गुजरात से 16 ईवीएम मशीनों के विशेषज्ञों को भेजा गया है।

उन्होंने कहा है कि चूंकि ईवीएम मशीनों के परिणामों के ऊपर पूरे देश में संदेह और सवाल खड़े हुए हैं। ऐसी स्थिति में प्रदेश में विधानसभा चुनाव के पूर्व सिर्फ गुजरात से ही 16 ईवीएम मशीनों के विशेषज्ञों को भेजना शक के दायरे में आता है। ईवीएम मशीनों के एक्सपर्ट शायद गुजरात में ही नहीं, वे देश के अन्य राज्यों में भी हैं, तो क्या कारण है कि सिर्फ गुजरात के ही लोगों को यहां भेजा गया है।

नेता प्रतिपक्ष ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त, नई दिल्ली को लिखे पत्र में आग्रह किया है कि वे गुजरात से आए एक्सपर्ट के स्थान पर देश के अन्य राज्यों विशेषकर गैर भाजपा राज्यों के विशेषज्ञों को मध्यप्रदेश विधानसभा के चुनावों के लिए भेजें, ताकि चुनाव निष्पक्ष स्वतंत्र तरीके से हो सके और वे ही चुन कर आ सके जिन्हें मतदाता अपना मत दें।