फ़िलिस्तीनों के विरुद्ध ज़ायोनियों के अत्याचार जारी, अब तक 178 शहीद

Posted by

21वें सप्ताह भी फ़िलिस्तीनियों के शांतिपूर्ण वापसी मार्च पर ज़ायोनी सैनिकों के पाश्विक हमलों में दो फ़िलिस्तीनी शहीद और 270 अन्य घायल हो गये जिसके बाद पिछले तीस मार्च से शांतिपूर्ण मार्च पर ज़ायोनी सैनिकों की फ़ायरिंग में शहीद होने वाले फ़िलिस्तीनियों की संख्या 178 और घायलों की संख्या 18 हज़ार से बढ़ गयी है।

फ़िलिस्तीनी के स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपने एक बयान में कहा कि फ़िलिस्तीनियों के शांतिपूर्ण वापसी मार्च पर जो शुक्रवार को निरंतर 21वें सप्ताह भी जारी रहा, ज़ायोनी सैनिकों के सीधी पाश्विक फ़ायरिंग में 2 फ़िलिस्तीनी शहीद और 270 घायल हो गये।

फ़िलिस्तीन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि घायलों में बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। 30 मार्च 2018 को भूमि दिवस से शुरु होने वाला फ़िलिस्तीनियों का वापसी मार्च हर सप्ताह जारी है।

ईरान सहित दुनिया के बहुत से देशों और अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं ने ज़ायोनियों के इन पाश्विक हमलों की कड़े शब्दों में निंदा की है।

इसी मध्य फ़िलिस्तीन इस्लामी प्रतिरोध संगठन हमास ने कहा है कि शांतिपूर्ण वापसी मार्च फ़िलिस्तीनियों की सभी मांगों के पूरा होने तक जारी रहेगा।

हमास के प्रवक्ता अब्दुल लतीफ़ अलक़ानूअ ने अपने एक बयान में कहा कि फ़िलिस्तीनियों का भव्य वापसी मार्च ज़ायोनी दुश्मन को इस बात मजबूर कर रहा है कि वह फ़िलिस्तियों की मांगों के सामने घुटने टेके और इस मार्च ने ज़ायोनी दुश्मन के सभी अनुमानों को ग़लत सिद्ध कर दिखाया है।

हमास के प्रवक्ता ने कहा कि शांतिपूर्ण मार्च के दौरान फ़िलिस्तीनियों के बलिदानों का फ़िलिस्तीनी राष्ट्र के पक्ष में शीघ्र ही परिणाम निकलेगा।

ज्ञात रहे कि इस्राईली सेना फ़िलिस्तीनियों के शांतिपूर्ण मार्च को कुचलेन के लिए सीधे गोलियां चला रही है किन्तु इसके बावजूद न केवल अंतर्राष्ट्रीय संस्थाएं चुप हैं बल्कि अमरीका खुलकर इस्राईल का समर्थन कर रहा है।