फ़्रांस में फ़ुटबाल विश्व कप : जश्न का रंग पड़ा फीका, फ़ैन्ज़ की मौत और झड़पें : वीडियो

Posted by

फ़्रांस में फ़ुटबाल विश्व कप के चैंपियन बनने पर मनाये जा रहे जश्न का रंग फ़ैन्ज़ की मौतों और दंगा पुलिस के साथ झड़पों की वजह से फीका पड़ गया। इसी तरह इस देश के अनेक शहरों में लूटपाट, लोगों की मौत और घायल होने की रिपोर्टें सामने आयी हैं।

पेरिस में मशहूर चैम्प्स एलीज़े और उसके आस पास की सड़क पर पुलिस ने उमड़ी भीड़ को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले और पानी की धार इस्तेमाल की। ये लोग रविवार को रूस में फ़ुटबाल विश्व कप के फ़ाइनल मुक़ाबले में फ़्रांस की क्रोएशिया पर 4-2 से जीत का जश्न मनाने के लिए इकट्ठा हुए थे।

जैसे ही पेरिस का आसमान पटाख़ों की आवाज़ से गूंजने लगा दर्जनों की संख्या में युवाओं ने चैम्प्स एलीज़े सड़क पर स्थित एक मशहूर स्टोर को खिड़कियां तोड़ कर लूट लिया। घटना स्थल पर मौजूद एएफ़पी के पत्रकार ने बताया।

दक्षिणी शहर ल्योन में स्थानीय प्रशासन के अनुसार, पुलिस और लगभग 100 के क़रीब जवानों के बीच झड़प उस समय हुयी जब ये युवा पुलिस की गाड़ी पर चढ़ गए।

पुलिस ने उन्हें तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले फ़ायर किए जिस पर इन जवानों ने कूड़ेदान को आग लगाकर और वस्तुएं फेक कर प्रतिक्रिया जतायी।

ल्योन में ही एक पुल पर लगभग 50 जवानों और पुलिस के बीच झड़प उस समय हुयी जब ये जवान शहर के केन्द्र में पहुंचने के लिए पुलिस द्वारा लगायी बाधा को हटाने की कोशिश कर रहे थे।

दूसरी ओर नैन्सी शहर के बाहर स्थित फुआ क़स्बे में विश्व कप के जश्न के दौरान एक तीन साल का लड़का और 6 साल की लड़की मोटरसाइकिल की टक्कर में गंभीर रूप से घायल हो गए। टक्कर मारने वाला घटनास्थल से फ़रार हो गया।

दक्षिण-पूर्वी शहर नैन्सी में 50 साल के एक व्यक्ति की छिछली नहर में कूदने की वजह से मौत हो गयी। नहर में कूदने से इस व्यक्ति की गर्दन टूट गयी थी।

उधर उत्तरी फ़्रांस के छोटे क़स्बे सेंट फ़ेलिक्स में तीस साल से ज़्यादा उम्र के एक व्यक्ति की जश्न के समय कार के एक पेड़ से टकराने की वजह से मौत हो गयी।

फ़्रांस में सोमवार दोपहर बाद फ़ुटबाल विश्व कप के जश्न के फिर से शुरु होने की संभावना है।

पूरे फ़्रांस में रविवार के जश्न से पहले 110000 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया था। अकेले पेरिस में 4000 पुलिस बल के जवानों को तैनात किया गया था

– 15 जुलाई 2018 को पेरिस की चैम्प्स एलीज़े सड़क पर पुलिस फ़ुटबाल विश्व कप के जश्न के समय आंसू गैस के गोले फ़ायर करती हुयी (एएफ़पी के सौजन्य से)