बिहार : शराबबंदी पर नीतीश कुमार का U-TURN

Posted by

बिहार में नितीश कुमार की सरकार ने पूर्ण शराब बंदी कानून लागू किया था जिसकी उस समय बड़ी सराहना हुई थी, लेकिन शराब बंदी से ग़रीब, पिछड़े, दलित, महा दलित समाज को भारी नुक्सान हुआ, सच्चे झूठे आरोपों में लाखों जेल में ठूंस दिए गए, अब चुनाव करीब देख नीतीश सरकार ने अपने शराबबंदी के फैसले में यू-टर्न लिया है। कैबिनेट ने शराबबंदी में ढ़ील देते हुए घर, गाड़ी और खेत को कानून के प्रावधान से हटा दिया है। कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद अब विधानसभा में बिल में संसोधन किया जाएगा। जानकारी के मुताबिक अब शराब पकड़े जाने पर घर, गाड़ी और खेत जब्त करने के प्रावधान को खत्म किया जाएगा।
बिहार में शराबबंदी कानून को लेकर बिहार कैबिनेट के इस फैसले को बड़ा माना जा रहा है। इससे पहले नीतीश कुमार कई बार कह चुके हैं कि उनकी सरकार शराबबंदी के कड़े कानूनों पर कानूनविदों से सलाह कर रही है और इसे आगामी विधानसभा सत्र में संशोधन के लिए पेश किया जाएग।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बिहार कैबिनेट की बैठक में कुल 39 एजेंडों पर मुहर लगाई गई। बिहार कैबिनेट की बैठक में शराबबंदी कानून में संशोधन का प्रस्ताव मंजूर किया गया तो वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली सप्लाई के लिए ग्रिड बनाने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई।