#बुलंदशहर : बसपा के पूर्व विधायक हाजी अलीम की गोली मारकर हुई हत्या!

Posted by

बुलंदशहर। पक्षिमी उत्तर प्रदेश की राजनीती का बड़ा नाम, बुलंदशहर के सदर विधानसभा क्षेत्र से दो बार विधायक रह चुके और बसपा नेता हाजी अलीम का शव बुधवार को संदिग्ध परिस्थितियों में उनके घर में मिला है। उनके परिजनों का कहना है कि उनकी मौत ब्रेन हैमरेज से हुई है। लेकिन सिर में गोली लगी मिली है, वहीं शव के पास से पिस्टल भी बरामद की गई है।


मौत की खबर मिलते ही पुलिस समेत शहर के लोग उनके आवास पर पहुंच गए। बता दें कि हाजी अलीम की मौत के बाद शहर में कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं, वहीं पुलिस कुछ भी साफ बताने से इनकार कर रही है।

जहां परिवार उनकी मौत ब्रेन हैमरेज की वजह से बता रही है वहीं नगर कोतवाल ने पुष्टि की है कि हाजी अलीम के सिर में गोली लगी है। परिजनों का कहना है कि उनका शव उनके कमरे से पाया गया और नाक-कान से खून निकल रहा था। पुलिस के आलाधिकारियों समेत फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर जांच कर रही है।

हाजी अलीम बसपा के मजबूत नेता माने जाते थे। यही वजह है कि पार्टी के कई बड़े नेताओं की बुलंदशहर पहुंचने की उम्मीद है।

कौन थे हाजी अलीम
===========
हाजी अलीम वर्ष-2007 से वर्ष-2012 और वर्ष-2012 से वर्ष -2017 तक सदर सीट पर बसपा के टिकट पर चुनाव जीते और विधायक बने। हालांकि वर्ष 2017 के चुनाव में वे अपनी कुर्सी नहीं बचा पाए।


अंतिम चुनाव में भी हाजी अलीम को 90 हजार से अधिक मत मिले थे। बसपा में उनकी मजबूत पकड़ थी। वेस्ट यूपी में हाजी अलीम का नाम गरीबों के हमदर्द के रूप जाना जाता था। वे धार्मिक आयोजनों में भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते थे।


सूत्रों के मुताबिक अलीम दबंग छवि के नेता थे, उनके अनेक कारोबारी मामले रहते थे, उनकी कितने ही लोगों से रंजिश भी रही हैं, साथ ही उनकी दूसरी पत्नी का विवाद भी रहा है, हाजी अलीम के मौत का क्या रहस्य अभी खुलासा नहीं हुआ है, लेकिन इतना साफ़ है कि उनकी हत्या की गयी है, हाजी अलीम को बहुत करीब से गोली मारी गयी है, यह भी जानकारी मिली है कि 32 बोर का पिस्टल उनकी लाश के करीब पड़ा मिला है|

मामला जाँच के बाद ही सुलझेगा, अभी जितने मुंह उतनी बातें हो रही हैं|

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के बी सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चलेगा फिलहाल फॉरेंसिक टीम ने खून आदि के कुछ सैंपल, सबूत मौके से इकटठे किए हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि देर रात संदिग्ध परिस्थितियों में अलीम की अपने कमरे में मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि सुबह देर तक न उठने पर परिजनों ने जब कमरा खोलकर देखा तो हाजी अलीम का शव कमरे में बैड पर पड़ा था और उनके सिर से रक्त बह रहा था। शव के एक ओर उनकी लाइसेंसी पिस्टल पड़ी हुई थी। पहले तो यह सूचना दी गई थी कि पूर्व विधायक की मौत हार्ट अटैक से हुई है। बाद में उसकी सिर में गोली लगने से मौत की सूचना दी गई।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ फॉरेंसिक टीम को लेकर पूर्व विधायक के आवास पर पहुंच गए और जांच पड़ताल शुरू कर दी। मौत के कारणों के बारे में पूर्व विधायक के परिजन कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं हैं।