मुसलमानों ने शुरू किया एयरटेल का बहिष्कार, एयरटेल को देनी पड़ी सफ़ाई

Posted by

Sagar_parvez
================

टेलीकॉम कंपनी एयरटेल को एक महिला की हिंदू प्रतिनिधि की मांग स्वीकार करना भारी पड़ गया है। दरअसल मोबाइल सर्विस प्रवाइडर एयरटेल पर अपने कर्मचारी से भेदभाव करने का आरोप लगा है।

कंपनी पर आरोप है कि एक कस्टमर द्वारा मुस्लिम कर्मचारी से बात करने के इनकार के बाद कंपनी ने उसे दूसरा कर्मचारी उपलब्ध कराया।

जानकारी मुताबिक पूजा सिंह नाम की ग्राहक ने ट्विटर के जरिए एयरटेल की डीटीएच सेवा पर नाराजगी जाहिर की थी। इस पर जब कंपनी के एक ग्राहक सेवा प्रतिनिधि ने पूजा को रिप्लाई किया तो उन्होंने यह कह कर बात करने से इनकार कर दिया कि वह मुसलमान है।

शोएब नाम के इस प्रतिनिधि को रिप्लाई ट्वीट करते हुए पूजा ने कहा, प्रिय शोएब। क्योंकि तुम एक मुस्लिम हो, इसलिए मुझे तुम्हारे काम करने के सिद्धांतों पर यकीन नहीं है। शायद कुरान में ग्राहक सेवा का मतलब कुछ और हो। मेरी अपील है कि मुझसे बात करने के लिए कोई हिंदू प्रतिनिधि आए। धन्यवाद।

इसके बाद गगनजोत नाम के प्रतिनिधि ने पूजा से बात की। एयरटेल के इस कदम के बाद सोशल मीडिया पर कंपनी की काफी आलोचना की जा रही है। कई ट्विटर यूजर्स ने एयरटेल पर सवाल उठाए।

वहीं मामला सोशल मीडिया पर तूल पकडऩे के बाद जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने एयरटेल को आड़े हाथ लेते हुए ट्वीट किया है। उमर ने अपने ट्वीट करके कहा, मैने पूरी बातचीत पढ़ी और मैं अपना नंबर पोर्ट करवा रहा हूं। साथ ही मैं एयरटेल डीटीएच कनेक्शन भी बंद करवा दूंगा।

एयरटेल ने दी सफाई
वहीं एयरटेल ने इस मामलें में सफाई देते हुए कहा कि इसे ‘मजहबी रंग’ न दिया जाए। एयरटेल का कहना है कि वह किसी भी उपभोक्ता और कर्मचारी के साथ जाति या धर्म के आधार पर कोई भेदभाव नहीं करती है।