ये हैं लौंग के 7 हैरान कर देने वाले फ़ायदे

Posted by

लौंग सिर्फ खाने का स्‍वाद और खुश्‍बू नहीं बढ़ाता बल्‍कि यह सेहत के लिए भी गुणकारी है. इसमें मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटीबैक्‍टीरियल तत्‍व आपको सेहतमंद बनाए रखते हैं.

लौंग का इस्‍तेमाल खास तौर पर भारतीय खाने में भरपूर मात्रा में किया जाता है. लौंग सिर्फ खाने का स्‍वाद और खुश्‍बू नहीं बढ़ाता बल्‍कि यह सेहत के लिए भी गुणकारी है. इसमें मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटीबैक्‍टीरियल तत्‍व आपको सेहतमंद बनाए रखते हैं. यह हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ ही आपके स्‍कैल्‍प से डैंड्रफ भगाकर बालों की कंडिशनिंग भी करता है. यहां पर हम आपको लौंग के ऐसे ही 7 चमत्‍कारी फायदों के बारे में बता रहे हैं और साथ ही इस बात की भी जानकारी दे रहे हैं कि लौंग को अपनी डाइट में शामिल करना जरूरी क्‍यों है:

1. साइनस
नाक में जलन से राहत दिलाने में लौंग बहुत फायदेमंद है. अगर लौंग को लंबे समय तक डाइट में शामिल किया जाए तो यह साइनस से काफी हद तक छुटकारा दिला सकता है. आप साबुत लौंग को सूंघकर भी इसका फायदा ले सकते हैं. गर्म पानी में रोजाना तीन-चार चम्‍मच लौंग का तेल मिलाकर पीने से इंफेक्‍शन नहीं होता है और सांस लेना भी आसान हो जाता है.

2. मॉर्निंग सिकनेस
लौंग एंटीसेप्टिक है. यह अपच को ठीक करने के साथ ही आपको उल्‍टी और मिचली से भी राहत दिलाता है. यह प्रेग्‍नेंट महिलाओं के लिए तो बहुत ही गुणकारी है. प्रेग्‍नेंसी के शुरुआती महीनों में ज्‍यादातर महिलाओं को सुबह के वक्‍त उल्‍टी की श‍िकायत रहती है. ऐसे में उन्‍हें लौंग चूसने की सलाह दी जाती है.

3. भगाए मुंहासे
लौंग के तेल में एंटी-माइक्रोबियल प्रॉपर्टीज़ होती हैं. इस वजह से ये कील-मुंहासों को भगाने में काफी असरदार है. साथ ही यह इन मुंहासों को आपके चेहरे पर फैलने से भी रोकता है. लौंग में शरीर की सफाई करने वाले तत्‍व भी पाए जाते हैं जो आपको मुंहासों की जलन से राहत दिलाने में भी मदद करते हैं. आप चाहें तो लौंग का फेस पैक बना सकते हैं या अपनी क्रीम में मिलाकर भी इसका इस्‍तेमाल कर सकते हैं.

4. बढ़ाए इम्‍यूनिटी
लौंग आपकी इम्‍यूनिटी बढ़ाकर इंफेक्‍शन और सर्दी-जुकाम से आपकी रक्षा करता है. यह एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुणों से भरपूर है जो आपकी स्‍किन और मजबूत इम्‍यूनिटी सिस्‍टम के लिए बेहद जरूरी है.

5. सुधारे डाइजेशन
लौंग गैस्ट्रिक रस के स्राव में सुधार लाकर पाचन की प्रक्रिया को सुधारता है. लौंग पेट की कई परेशानियों में फायदा करता है जैसे गैस, जलन, अपच और उल्‍टी.

6. दांत दर्द में राहत
ज्‍यादातर टूथपेस्‍ट में लौंग एक प्रमुख इंग्रिडेंट होता है. ऐसा इसलिए क्‍योंकि लौंग दांत दर्द में राहत देता है. लौंग में कुछ समय के लिए दर्द को दबाने की ताकत होती है. अगर आपके दांत में तेज दर्द हो तो रूई के फाये में थोड़ा सा लौंग का तेल लगाएं और फिर जिस दांत में दर्द हो रहा है वहां पर इसे लगाएं. आपको तुरंत राहत मिलेगी.

7. कंट्रोल करे डायबिटीज
आयुर्वेद में डायबिटीज के इलाज में लौंग का इस्‍तेमाल किया जाता है. यह ब्‍लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर डायबिटीज के रोगियों को सेहतमंद बनाए रखता है.

लौंग कब नहीं लें

यह खून को पतला करती है अतः यदि खून पतला करने वाली कोई दवा ले रहे हों , किसी भी प्रकार के रक्तस्राव से पीड़ित हो, निकट समय में सर्जरी करवानी हो तथा आपरेशन के तुरंत बाद Laung का उपयोग नहीं करना चाहिए।

जिसे रक्त में ग्लूकोज़ की मात्रा कम हो जाने की समस्या हो उसे Laung यूज़ नहीं करनी चाहिए।

किसी-किसी को Lavang से एलर्जी हो सकती है। स्किन रैशेज़ , सूजन , गला भिंचता महसूस हो सकता है। ऐसे में सावधान रहना चाहिए और Laung के कारण ऐसा हो रहा हो तो लौंग ना लें।

Laung का तेल लगातार त्वचा पर लगाने से जलन , सूजन आदि महसूस हो सकते है। अधिक तेल का उपयोग न करें।

अधिक लौंग खाने से मुँह के अंदर की स्किन और मसूड़ों को क्षति पहुच सकती है। बहुत अधिक Laung ना खायें।

लौंग के तेल में त्वचा को सुन्न कर देने की विशेषता होती है। अतः पैन किलर के साथ Laung नहीं खानी चाहिए।

इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। Laung की अधिक मात्रा नुकसानदेह हो सकती है।

विशेषकर 5 साल से छोटे बच्चों को Laung ke tel के तेल से दूर ही रखना चाहिए।

लेकिन इसके साइड इफ़ेक्ट तभी होंगे जब आप इसका ज़्यादा उपयोग करेंगे। आमतौर पर दिन में 1 से 3 लौंग एक वयस्क द्वारा लिया जा सकता है