लेबनान चुनाव : प्रधानमंत्री हरीरी की हार, हिज़्बुल्लाह आधी से अधिक सीटों पर विजयी : रिपोर्ट

Posted by

लेबनान के प्रधान मंत्रीसाद अल-हरीरी ने सोमवार शाम बेरूत में एक न्यूज़ कांफ़्रेंस करके संसदीय चुनावों मे अपनी पार्टी को मिली हार स्वीकार कर ली है।

हरीरी का कहना था कि संसदीय चुनाव के परिणाम हमारी उम्मीद के मुताबिक़ नहीं रहे और हमारे सामने कई चुनौतियां हैं।

लेबनान के प्रधान मंत्री एवं अल-मुस्तक़बल का कहना था कि जनता ने अपनी बात रख दी है, हमारे प्रत्याशियों की नीतियां भी स्पष्ट थीं, क्योंकि हमारी लड़ाई कई मोर्चों पर चल रही थी।

हरीरी का कहना था कि मैं देश में सभी राजनीतिक पार्टियों के गठबंधनों का सम्मान करता हूं, मैं सभी की ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाता हूं, इसलिए कि लेबनान समस्त राजनीतिक पार्टियों के सहयोग से ही आगे बढ़ सकता है।

साद हरीरी ने कहा कि उनकी पार्टी अल-मुस्तक़बल को चुनावी क़ानून से कोई समस्या नहीं है।

==========
लेबनान संसदीय चुनाव में हिज़्बुल्लाह आधी से अधिक सीटों पर विजयी
लेबनान के संसदीय चुनाव के आरंभिक और अनाधिकारिक परिणाम के अनुसार हिज़्बुल्लाह और उसके घटकों ने संसदीय चुनाव की आधी से अधिक सीटों पर शानदार सफलता दर्ज की है।

लेबनानी और विदेशी मीडिया के अनुसार हिज़्बुल्लाह और उसके घटकों ने बालाबाक और हिरमिल में बहुमत प्राप्त कर लिया है जबकि राजधानी बैरूत के दूसरे चुनावी क्षेत्र में हिज़्बुल्लाह, अमल आंदोलन और उसके घटकों पर आधारित गठबंधन ने चार सीटें, साद हरीरी की अलमुस्तक़बल पार्टी और उसके घटकों ने छह सीटें और लेबनान हरज़ान नामक गठबंधन ने एक सीट जीती है।

लेबनान में संसदीय चुनाव नौ साल बाद रविवार को हुए थे। संसद की 128 सीटों के लिए 15 चुनावी क्षेत्रों में मतदान हुए थे। इसी मध्य रोइटर्ज़ ने घोषणा की है कि हिज़्बुल्लाह और उसके घटकों को कम से कम 67 सीटों पर सफलता मिली। एजेन्सी ने अपनी टिप्पणी में लिखा कि यदि अंतिम परिणाम की घोषणा तक हिज़्बुल्लाह और उसके घटकों की सीटों की संख्या यही रही तो इससे हिज़्बुल्लाह की राजनैतिक स्थिति पहले से अधिक मज़बूत होगी।

संसदीय चुनाव के आरंभिक परिणाम की घोषणा के बाद बैरूत और दक्षिणी लेबनान के विभिन्न शहरों में हिज़्बुल्लाह और उसके घटक दलों के समर्थ सड़कों पर निकल कर ख़ुशिया मनाने लगे। लोगों के हाथों में हिज़्बुल्लाह का झंडा था और वह हिज़्बुल्लाह और सैयद हसन नसरुल्लाह के समर्थन में गगनभेदी नारे लगा रहे थे।