वाह रे सहवाग,,,तुम, कपटी और मक्कार हो, जो महज़ झूठ और उन्माद ही फैलाते हो…!!

वाह रे सहवाग,,,तुम, कपटी और मक्कार हो, जो महज़ झूठ और उन्माद ही फैलाते हो…!!

Posted by

Ruby Arun – senior most journalist
————————
भारत-पाकिस्तान के बीच फाइनल मैच खेले जाने से पहले 2 मिनट का मौन रखा गया….
उन लोगों के लिए जिनकी इस क्रिकेट सीरीज के दरम्यान किसी न किसी वजह से मौत हुई है……
कमेंटेटर्स ने, जिनमें वीरेंद्र सहवाग भी शामिल थे,
ने इस संदर्भ में बाढ़, आपदा बॉम ब्लास्ट , भूख, दुर्घटना, श्रीलंका ,मैनचेस्टर आदि में मरने वालों का जिक्र किया पर,
अपने देश भारत का नाम नहीं लिया ….
भारत पर हो रहे आतंकी हमलों में शहीद होने वाले हमारे जवानों की चर्चा करना भी मुनासिब नहीं समझा …..
वाह रे सहवाग
अपने देश के लोगों पर तो तुम्हें पत्थर फेंकते देर नहीं लगती? अपनी भक्ति में अंधे होकर फौरन से पेशतर तुम, अपने उन हमवतनों को भी देशद्रोही घोषित कर देते हो जो, अपने हक़ ओ हूकुक की बातें करते हैं
सरकार के जनविरोधी कदमों की आलोचना करते हैं…
जो गाय और गोबर जैसे ग़लीज़ मुद्दों का औचित्य पूछते हैं?
और यहाँ तुमसे इतना भी ना हो सका
कि तुम अपने शहीद जवानों के लिए
दो मिनट के मौन में ज़रा सी जगह बना सको
उन्हें श्रद्धांजलि दे सको…..
जबकि माइक तुम्हारे हाथ में था
भारतीय खिलाड़ी मैदान पर थे
मौका और दस्तूर भी था
दरअसल, हिम्मत नहीं थी तुम्हारे पास
क्योंकि तुम, कपटी और मक्कार संतरे हो
जो महज़ झूठ और उन्माद ही फैला सकते हो ….
देशभक्त होने का दावा तो
तुम छोड़ ही दो
तुम जैसे लोग तोे
भारतीय कहलाने के भी क़ाबिल नहीं……