वाॅशिंग्टन को तेहरान व माॅस्को की ओर से अत्यंत भीषण जवाब का सामना करना पड़ सकता है?

Posted by

अमरीका के रक्षा मंत्री ने इस देश के राष्ट्रपति को सीरिया पर हमले से पहले ही ईरान के ख़िलाफ़ किसी भी प्रकार की भड़काऊ कार्यवाही की ओर से सचेत कर दिया था।

वाॅल स्ट्रीट जरनल की रिपोर्ट के अनुसार सीरिया के ख़िलाफ़ अमरीका, ब्रिटेन व फ़्रान्स के संयुक्त मीज़ाइल हमलों से अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने अपनी सलाहकार टीम से कहा था कि सीरिया में रूस व ईरान के ठिकानों पर भी हमलों को दृष्टिगत रखा जाए लेकिन रक्षा मंत्री जेम्स मेटिज़ ने इसका कड़ा विरोध किया था। मेटिज़ ने चेतावनी देते हुए कहा था कि इस तरह के हमले का ख़तरा बहुत अधिक होगा और वाॅशिंग्टन को तेहरान व माॅस्को की ओर से अत्यंत व्यापक व भीषण जवाब का सामना करना पड़ सकता है।

अमरीका में डोनल्ड ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद वाइट हाउस की ओर से ईरान विरोधी कार्यवाहियों में तेज़ी आ गई है। ट्रम्प ने सीरिया की सरकार पर दूमा के क्षेत्र में रासायनिक हथियार इस्तेमाल करने का आरोप लगा कर इस देश पर हमले का आदेश दिया था। अमरीका के साथ ब्रिटेन और फ़्रान्स ने संयुक्त राष्ट्र संघ की अनुमति के बिना शनिवार को सीरिया पर मीज़ाइल हमले किए थे।