शादी के अगले दिन ही खोला ये राज़!

Posted by

Sagar PaRvez
================

नई दिल्ली।धूमधाम से शादी हुई। सुहागरात भी मनी और अगले ही दिन दुल्हन उल्टियां करने लगी। इसके बाद वो सच सामने आया जिसने पूरे परिवार को हिला दिया। कांकेर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत धनेलीकन्हार के सरपंच ने अपने ही दोस्त की बहन को हवस का शिकार बनाया?

घटना के बाद युवती का शादी भी हुई थी, ससुराल पक्ष के लोग ने तबियत बिगडऩे पर जांच कराया तो प्रेग्नेंट होने की जानकारी हुई। पीडि़ता के पति ने युवती को उसके मायके भेज दिया, जहां से आकर युवती ने पूरी आप बीती परिजनों को बताई। इसके बाद परिजनों ने कोतवाली पहुंच कर आरोपी सरपंच के खिलाफ शिकायत थाने में दर्ज कराई।

कांकेर नगर पालिका क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 9 की 24 वर्षीय युवती ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसके भाई का दोस्त विरेन्द्र मारगिया (35) पिता शिवचरण जो धनेलीकन्हार का सरपंच ने उसके साथ दष्कर्म किया।

बताया कि युवती उसे एक वर्ष से जानती है। उसके घर में उसका आना-जाना होता था। उसे नए कपड़े देकर घुमाने के अलावा उसे अपने घर भी ले जाया करता था।

अक्टूबर 2017 में दस हजार रूपए का मोबाइल खरीदकर दिया था, इसके अलावा सरपंच ने उसे उससे प्रेम करने की बात कहकर शादी करने की बात कही थी। 18 फरवरी 2018 को उसकी सगाई हुई थी। सगाई के बाद अपने घर ले गया और आधी रात को उससे अनाचार किया।

पीडि़ता ने बताया कि अप्रैल माह में भी अपने घर में ले जाकर फिर दुष्कर्म किया। 26 अप्रैल को उसका विवाह हुआ, जिसके बाद वह अपने ससुराल में रह रही थी। कुछ दिनों पूर्व अचानक तबियत बिगडऩे पर उसके पति ने अस्पताल में जांच कराने के लिए ले गए, जहां जांच के दौरान पता चला की 7 हफ्ते का बच्चा पेट में पलने की बात सामने आई है।

इसकी जानकारी होने पर उसके पति ने उसे मायके भेज दिया।

परिजन ने थाना पहुंचकर इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने सरपंच के खिलाफ जीरो में धारा 376, 506 के तहत मामला दर्ज किया है।