ख़ुलासा : IAS अफ़सरों को मोदी सरकार के बड़े नेताओं ने AAP को सहयोग न देने का दिया है आदेश!

Posted by

दिल्ली में आम आदमी पार्टी को घेरने के लिए भारतीय जनता पार्टी हर दाव आज़मा रही है, मीडिया से लेकर सरकारी स्तर तक जो भी बन सकता है करने की भरपूर कोशिशें जारी हैं, आम आदमी पार्टी के नेता अभी अपरपक्व हैं, जोश में ज़ियादा रहते हैं, कम समय और उम्र में उनको विधायक, नाम वाला आदमी बनने का मौका मिल गया है, हड़बड़ाहट में ग़लतियाँ कर बैठते हैं, जबकि पकी पकाई राजनीती करने वाले दल आराम आराम से मोके देख कर काम करते हैं|

केंद्र में बैठी भारतीय जनता पार्टी और दिल्ली में बैठी आम आदमी पार्टी के बीच आज कल रिश्ते, पहले से भी काफी ज़्यादा नाज़ुक दिखाई दे रहे हैं। दोनो दल के नेता एक दूसरे पर कीचड़ उछाल अलग अलग आरोप लगा रहे हैं। इस ही बीच लेखक कृष्ण प्रताप सिंह, जो आप से भी जुड़े हैं, ने दावा किया है कि केंद्र ने आईएएस अफसरों को दिल्ली में बैठी आप सरकार को सहयोग देने स्व मना किया है।

Ankit Lal

Verified account

@AnkitLal
दिल्ली पुलिस ने अदालत में ये साफ़ किया है कि @ArvindKejriwal के घर लगे CCTV की फ़ुटेज से छेड़छाड़ की ख़बर सरासर झूठी है। सिर्फ़ समय में अंतर की बात कही है।

क्या मीडिया अब झूठ फैलाना बंद करेगा?

The Indian Express

Verified account

@IndianExpress
AAP vs Chief Secretary: Ask officers to get back to work, Manish Sisodia writes to Anil Baijal

AAP‏Verified account
@AamAadmiParty
IAS एसोसिएशन सिर्फ और सिर्फ दिल्ली सरकार के खिलाफ ही जागती है,
बीजेपी-कांग्रेस द्वारा IAS अधिकारीयों के अपमान के कई सबूत होने के बाद भी IAS एसोसिएशन इन सरकारों के खिलाफ क्यों नहीं खड़ी हुई? – @dilipkpandey

AAP‏Verified account
@AamAadmiParty
कैसे एलजी हाउस में बैठकर दिल्ली के उपराज्यपाल, दिल्ली के मुख्य सचिव और दिल्ली पुलिस कमिश्नर के बीच बैठक में रची गई साज़िश!
देखिये @Saurabh_MLAgk ने किया खुलासा👇🏻👇🏻

AAP

Verified account

@AamAadmiParty
घटना वाले दिन FIR दर्ज ना करके अगले दिन दोपहर 1 बजे दर्ज की गई। इससे साफ़ जाहिर होता है कि जब चीफ सेक्रेटरी साहब को बुलाया गया उन्होंने LG साहब, पुलिस कमिश्नर के साथ मिलकर षड्यंत्र रचा, तब FIR दर्ज की गई : @Saurabh_MLAgk

AAP‏Verified account
@AamAadmiParty

इस पूरे मामले में यह दिखाया जा रहा है कि ये लड़ाई IAS अधिकारियों के हितों के सम्मान के लिए लड़ी जा रही है, जबकि हकीकत इसके विपरीत है। ऐसे दर्जनों उदाहरण हैं जहां बीजेपी-कांग्रेस जैसी पार्टियों ने IAS अधिकारियों के साथ क्या किया। तब IAS एसोसिएशन कहां था :@dilipkpandey

कृष्ण प्रताप सिंह ने ट्वीट किया कि दिल्ली में आईएएस अफसर ऑफ रिकॉर्ड ये बता रहे हैं कि उनको मोदी सरकार में ऊंचे पद संभाल रहे नेताओं ने ये ऑर्डर दिया है कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार को सहयोग न दें और उनके साथ काम न करें। उन्हें अपने व्यवसाय की चिंता है इसलिए वो इस आदेश का पालन कर रहे हैं। ये एक तरह का संवैधानिक तख्तापलट है।

Krishan Partap Singh

@RaisinaSeries
IAS officers in Delhi Govt are saying off-the-record that they’ve been ordered/pressurised by the highest personages in Modi Govt to stop working & cooperating with AAP Govt. They are worried about their careers, so are complying. This is nothing sort of a constitutional coup.

आपको बता दें हाल ही में दिल्ली में मार पिटाई का बड़ा विवाद हुआ है जिसमे आप के नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इस पर वरिष्ठ पत्रकार ने राजनाथ सिंह से सवाल करते हुए ट्वीट किया था कि दो विडियो हैं. एक, जिसमे आप नेताओं की धुनाई हो रही है, संस्कारी BJP कार्यकर्ताओं द्वारा. दूसरा जिसमे अंशु प्रकाश मीटिंग से निकल रहे हैं। दिल्ली पुलिस ने क्यों एक मामले मे कार्रवाई करके गिरफ्तारी तक कर डाली और दूसरे मामले मे खामोश है? बात समझ नहीं आयी @rajnathsingh जी?

Abhisar Sharma

@abhisar_sharma
दो विडियो हैं. एक, जिसमे आप नेताओं की धुनाई हो रही है, संस्कारी BJP कार्यकर्ताओं द्वारा. दूसरा जिसमे अंशु प्रकाश मीटिंग से निकल रहे हैं
दिल्ली पुलिस ने क्यों एक मामले मे कार्रवाई करके गिरफ्तारी तक कर डाली और दूसरे मामले मे खामोश है? बात समझ नहीं आयी @rajnathsingh जी?