‘जय श्रीराम’ का नारा लगाते हुए आये और भगवा गुंडों ने ईश्वरचन्द्र विद्यासागर का बुत तोड़ दिया

‘जय श्रीराम’ का नारा लगाते हुए आये और भगवा गुंडों ने ईश्वरचन्द्र विद्यासागर का बुत तोड़ दिया

Posted by

Arun Maheshwari
===========
विद्या-भंजकों का प्रदर्शन ; यह बंगाल की अस्मिता पर हमला है

-अरुण माहेश्वरी

कल अमित शाह जब मध्य कोलकाता के धर्मतल्ला से उत्तरी कोलकाता में विवेकानंद के निवास तक ‘जय श्री राम’ के उद्घोष के साथ रवाना हुए उसी समय यह साफ़ नजर आ रहा था कि यह चुनावी रोड शो नहीं, बंगाल के खिलाफ भाजपा का एक रण-घोष है । बंगाल की संस्कृति को पैरों तले रौंद डालने की धृष्टता का ऐलान है । जेएनयू, हैदराबाद विश्वविद्यालय सहित देश के सभी शिक्षा प्रतिष्ठानों में पिछले पाँच साल से जिन अनपढ़ गुंडों ने उपद्रव मचा रखा हैं, वे संगठित होकर देश की सांस्कृतिक राजधानी कोलकाता के मान-सम्मान को कुचलने के लिये उतर पड़े हैं ।

ऐसा लगता है कि अमित शाह ने जान-बूझ कर कोलकाता के प्राण-स्थल कालेज स्ट्रीट के क्षेत्र को पदाघात के लिये चुना है ताकि एक ही वार में बंगाल की अस्मिता को कुचल कर ख़त्म कर दिया जाए । भगवा गुंडों का तांडव कोलकाता विश्वविद्यालय से शुरू हुआ और इसने खास निशाना बनाया प्राचीन विद्यासागर कालेज को। वहाँ पथराव, आगज़नी के साथ ही उनका प्रमुख निशाना था, भाजपाइयों का चक्षुशूल, ईश्वरचन्द्र विद्यासागर की मूर्ति । उस मूर्ति को कुछ उसी प्रकार के रोष के साथ तोड़ा गया जिसका परिचय उन्होंने कभी अयोध्या में बाबरी मस्जिद को ढहाते वक़्त दिया था । बाबरी मस्जिद को वे अपनी ग़ुलामी का प्रतीक मानते थे और शिक्षा और संस्कृति को अपनी सनातन आदिमता का दुश्मन । मोदी ने कई बार आधुनिक शिक्षा के प्रति अपनी घृणा को नाना प्रकार से व्यक्त किया है । उनके भक्तों ने आज बंगाल और कोलकाता में शिक्षा के प्रांगण में अपनी उसी नफ़रत का नग्न नृत्य किया ।

कहना न होगा, कोलकाता में कल अमित शाह और उनके लोगों ने भारत की राजनीति के एक और शर्मनाक अध्याय की रचना की है ।

राज्य की मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया है कि अमित शाह के साथ लगभग पंद्रह हज़ार लोगों की जो भीड़ थी उनमें बड़ी संख्या में बग़ल के बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश के अलावा सुदूर राजस्थान से बटोर कर लाये गये लोग भी शामिल थे । यदि मुख्यमंत्री के इस आरोप में जरा भी सचाई है तो कहना होगा, यह प्रथम तो बंगाल पर किये गये एक बाहरी आक्रमण का प्रतीक, मोदी की राजनीति के खास गुजराती मॉडल की पुनरावृत्ति है जिसमें ऐन चुनाव के वक़्त वे वाराणसी को गुजरात से लाये गये लोगों से पाट देते रहे हैं । दूसरा, मुख्यमंत्री के इस कथन में बंगाल में आगे तीव्र प्रादेशिक उत्तेजना के एक ऐसे नये दौर के सूत्रपात के संकेत भी छिपे हैं जो सालों से इस प्रदेश में बने हुए मज़बूत प्रादेशिक भाईचारे की जड़ों को हिला सकते हैं।

मोदी-अमित शाह ने भारत के कोने-कोने में अभी जिस तरह सभी प्रकार के विभाजनकारियों से हाथ मिला कर अलगाववाद की आग सुलगा रखी है, लगता है उन्होंने बंगाल को भी उसी की चपेट में लेने की एक योजना बना ली है ।

बहरहाल, 19 मई को बंगाल में चुनाव का आख़िरी चरण है जिसमें कोलकाता और निकटवर्ती उत्तर और दक्षिण 24 परगना दिलों की 9 सीटों का मतदान होना है । इसके पहले ही भाजपा की इस गुंडागर्दी ने इस पूरे क्षेत्र में उसके खिलाफ जिस ग़ुस्से और आक्रोश को जन्म दिया है, उसकी साफ़ छाप मतदान में देखने को मिलेगी ।

आज कोलकाता और पूरे बंगाल में ममता बनर्जी ने इस गुंडागर्दी के प्रतिवाद में भारी प्रदर्शन का ऐलान किया है। इसी प्रकार वामपंथियों और कांग्रेस ने भी कोलकाता सहित पूरे प्रदेश में बंगाल के शिक्षा क्षेत्र और बंगाल की सांस्कृतिक अस्मिता पर मोदी ब्रिगेड के इस जघन्य हमले के विरोध में व्यापक प्रदर्शनों का कार्यक्रम अपनाया है ।

बाहरी तत्वों को इकट्ठा करके अमित शाह के इस युद्ध के तेवर ने बंगाल में भाजपा की कब्र खोदने का ही काम किया है, इसमें कोई शक नहीं है ।

💞 Ridzi 💞 ‏ریڈزی

@RidziSpeaks_

जिस देश को चाय वाले जैसा “ढ़क्कन” पांच साल तक बेवकूफ़ बना सकता है!

उस पर अंग्रेजों ने 200 वर्ष राज किया तो कोई आश्चर्य नहीं !🤷
😂😂😂

AMIT SINGH

@thegreat_amit
मेरी गली में शराब बिकती है अवैध मैंने आज फोन नंबर पर पुलिस को फोन किया और जानकारी दी और मुझे बोलो धमकी देते जान से मारने की पुलिस वाले आए उनको कुछ नहीं बोला थाने के अंदर मेरे को 2 घंटे बिठाया.

Diva Rizvi

@Diva_Rizvi
जब से तड़ीपार ने कहा था कि गुजरात के लफंगे बंगाल जा रहे है तभी से इस बात की आशंका थी कि हिंसा आगजनी तोड़फोड़ होनी तय है
लेकिन बंगाल मे @MamataOfficial दीदी है ऐसी सीटी बजाएगी कि तड़ीपार जैसे गुंडों को औकात याद आ जाएगी

और हुआ भी यही तभी तड़ीपार जैसा हिंसक शांति का पाठ पढ़ा रहा है

 

Nidhi Razdan

Verified account

@Nidhi
If situation in Bengal is so bad, then why hasn’t @ECISVEEP stopped the campaign immediately? Why wait till 10pm tomorrow? Incidentally, the PM has two rallies in Bengal tomorrow. EC officials are not giving a reason yet to my colleague @arvindgunasekar for this time limit

Pradeep Kasni

‘जय श्रीराम’ का नारा लगाते हुए आये और ईश्वरचन्द्र विद्यासागर का बुत तोड़ दिया,– ममता बनर्जी

भारत में ख़ानाजंगी के हालात पैदा करने पर आमादा हैं जुमलेशाह।

Election Commission’s decision is unfair, unethical and politically biased : violence was because of Amit Shah

West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee in Kolkata: Goons were brought from outside, they created violence wearing saffron, violence similar to when Babri Masjid was demolished.ANI added,
West Bengal CM, Mamata Banerjee: Election Commission’s decision is unfair, unethical and politically biased. PM Modi given time to finish his two rallies tomorrow.

West Bengal CM, Mamata Banerjee in Kolkata: Narendra Modi you cannot take care of your wife, how can you take care of the country?
West Bengal CM, Mamata Banerjee: Election Commission is running under the BJP. This is an unprecedented decision. Yesterday’s violence was because of Amit Shah. Why has EC not issued a show-cause notice to him or sacked him?
West Bengal CM, Mamata Banerjee: Amit Shah today did a press conference, threatened EC, is this the result of that? Bengal is not scared. Bengal was targeted because I am speaking against Modi.
West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee in Kolkata: Amit Shah created violence through his meeting, Ishwar Chandra Vidyasagar statue was vandalized but Modi did not feel sorry for that today. People of Bengal have taken this seriously, action should be taken against Amit Shah.

WB Guv, KN Tripathi: As chancellor of Calcutta University, I’m pained at the vandalising of Vidyasagar statue.The real culprit for breaking the statue must be traced out&suitably punished. Efforts should also be made by Calcutta University at the earliest to install a new statue

Election Commission: This is probably the first time that ECI has invoked Article 324 in this manner but it may not be last in cases of repetition of lawlessness and violence which vitiate the conduct of polls in a peaceful manner.
Election Commission: No election campaigning to be held in 9 parliamentary constituencies of West Bengal – Dum Dum, Barasat, Basirhat, Jaynagar, Mathurapur, Jadavpur, Diamond Harbour, South and North Kolkata from 10 pm tomorrow till the conclusion of polls.

Kolkata: TMC’s student wing protests against the vandalisation of Ishwar Chandra Vidyasagar’s statue during clashes in BJP Chief Amit Shah’s roadshow in the city, yesterday.

Kolkata: CPI (Marxist) holds protest against statue pf Vidyasagar vandalised in violence during BJP President Amit Shah’s roadshow yesterday. CPI (M) General Secretary Sitaram Yechury says,”an investigation should be done to find out how could this happen in Kolkata”. #WestBengal

BJP President Amit Shah on violence at his roadshow in Kolkata yesterday: Had CRPF not been there, it would have been really difficult for me to escape, BJP workers were beaten up, TMC can go to any extent, it’s with luck that I made it out. #WestBengal
Delhi: Bharatiya Janata Party (BJP) holds protest against violence in BJP President Amit Shah’s roadshow in Kolkata, West Bengal yesterday. Union Ministers Harsh Vardhan, Jitendra Singh and Vijay Goel also present

Kolkata: Statue of Ishwar Chandra Vidyasagar was vandalised at Vidyasagar College in the clashes that broke out at BJP President Amit Shah’s roadshow. #WestBengal
ANI

 

Disclaimer : लेख सोशल मीडिया में वॉयरल है, लेखक/लेखिका के निजी विचार हैं, तीसरी जंग हिंदी का कोई सरोकार नहीं है!