सऊदी अरब को 31 अरब डाॅलर का नुक़सान हुआ!

सऊदी अरब को 31 अरब डाॅलर का नुक़सान हुआ!

Posted by

सऊदी अरब के तेल प्रतिष्ठान पर यमन के ड्रोन हमलों के बाद इस देश के स्टाॅक सूचकांक में अत्यधिक गिरावट आई है और सऊदी अरब को 31 अरब डाॅलर का नुक़सान हुआ है।

मंगलवार को यमन के सात ड्रोन विमानों ने सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी आरामको के एक पम्पिंग स्टेशन को निशाना बनाया था जिसके बाद सऊदी अरब के स्टाॅक सूचकांक में दो प्रतिशत की गिरावट आई और शेयर धारकों को कम से कम 31 अरब डाॅलर का नुक़सान हुआ। रोएटर्ज़ के अनुसार आरामको पर हमले के बाद सऊदी स्टाॅक एक्सचेंज को दस अरब डाॅलर की क्षति हुई जिसके चलते सऊदी अरब को आरामको कंपनी से संबंधित वैश्विक स्टाॅक एक्सचेंज में इस कंपनी का दो प्रतिशत मूल्य गंवाना पड़ गया। आरामको का वैश्विक मूल्य 520 अरब डाॅलर है। सीएनबीसी टीवी ने बताया है कि इस हमले के बाद दो दिन के अंदर सऊदी अरब को 21 अरब डाॅलर का नुक़सान हुआ।

सऊदी अरब संसार में सबसे अधिक तेल निर्यात करने वाला देश समझा जाता है और वह हर दिन लगभग 70 लाख बैरल तेल निर्यात करता है। यमनी बलों के ड्रोन हमलों के बाद आरामको की तेल पाइप लाइनों में विस्फोट हुए हैं और उसका तेल निर्यात बंद हो गया है। इस बीच यमनी सेना के प्रवक्ता ने कहा है कि यमनी बल सऊदी अरब के अधिक भीतर घुस कर हमले करने के लिए तैयार हैं। यहया सरी ने बताया कि यमन के सात ड्रोन विमानों ने यनबो क्षेत्र में सऊदी अरब के एक अहम तेल प्रतिष्ठान को निशाना बनाया और वे भविष्य में इससे भी बड़ी कार्यवाही के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।