जय श्री राम : प्रधानमंत्री के न्‍यू इंडिया में आप का स्‍वागत है

जय श्री राम : प्रधानमंत्री के न्‍यू इंडिया में आप का स्‍वागत है

Posted by

 

जय श्री राम के नारे साथ भारत में फिर शुरू हुई मॉब लिंचिंग, युवती सहित तीन लोगों की बेरहमी से पिटाई

मध्य प्रदेश के सिवनी में गोमांस के शक में कथित गोरक्षकों ने एक मुस्लिम युवती सहित तीन लोगों की बेरहमी से पिटाई की है।

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक़, भारत के मध्य प्रदेश राज्य के सिवनी में कथित तौर पर गोमांस ले जाने के शक में गोरक्षकों द्वारा एक मुस्लिम महिला सहित तीन लोगों की बेरहमी से पिटाई करने के मामले में पांच लोगों को गिरफ़्तार किया है। समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो में गोरक्षक पीड़ितों से जबरन जय श्रीराम के नारे लगवाते देखे जा सकते हैं। यह घटना 22 मई की है लेकिन 24 मई को वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने इसका संज्ञान लिया। वीडियो में साफतौर पर देखा जा सकता है कि इन गोरक्षकों ने डंडों से युवकों की पिटाई की, इन गोरक्षकों ने एक-एक कर युवकों को पेड़ से बांधा और बेरहमी से इनकी पिटाई की। स्थानीय पुलिस प्रशासन का कहना है कि इस मामले में कई लोगों को गिरफ़्तार किया गया है।

उल्लेखनीय है कि 22 मई को गोहत्या रोधी अधिनियम के तहत तौफिक़, अंजुम शमा और दिलीप माल्वीय को गिरफ़्तार करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। इससे पहले गोरक्षकों ने पुलिस को यह सूचित किया था कि यह लोग कथित तौर पर खैरी गांव से एक ऑटोरिक्शा और दोपहिया वाहन में गोमांस ले जा रहे हैं। गोमांस को जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया था। पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद इन तीनों लोगों में से एक के संबंधी ने एफआईआर दर्ज कराई, उसने बताया कि गोरक्षकों ने तीनों की पिटाई करने के बाद पुलिस को सूचित किया। उन्होंने यह भी बताया कि आरोपियों में से एक शुभम बघेल श्रीराम सेना नाम के संगठन से जुड़ा हुआ है।

इस बीच एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘मोदी के वोटरों द्वारा बनाए गए निगरानी समिति के सदस्‍य मुस्लिमों के साथ इस तरह का व्यवहार करते हैं, न्‍यू इंडिया में स्‍वागत है, जो समावेशी होगा और जैसा कि प्रधानमंत्री ने कहा है कि धर्मनिरपेक्षता का नक़ाब।’ दूसरी ओर मध्य प्रदेश में जिस तरह चुनाव के तुरंत बाद गोरक्षकों द्वारा मुस्लिम महिला सहित तीन लोगों की पिटाई की गई है उसके बाद सोशल मीडिया पर लोग लिख रहे हैं कि, जिस तरह जय श्रीराम के नारे के साथ लोगों की पिटाई की गई है वह भारत में मॉब लिंचिंग की दूसरी पारी की शुरुआत है।