अमेठी में पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या, इलाके में भारी तनाव

अमेठी में पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या, इलाके में भारी तनाव

Posted by

Sagar PaRvez

जंगलराज उत्तर प्रदेश-अमेठी: पूर्व प्रधान की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी है। जामो थाना क्षेत्र के बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह को बदमाशों ने उस वक्त गोली मारी जब वे अपने घर के बाहर सो रहे थे। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों से जानकारी लेने के बाद बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। पूर्व प्रधान की हत्या के बाद गांव में तनाव के हालात पैदा हो गए है। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

अमेठी में जीत का जश्न मनाकर लौटे BJP कार्यकर्ता की हत्या

अमेठी: उत्तर प्रदेश के अमेठी में स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता और चुनाव प्रचार में अक्सर उनके साथ दिखाई देने वाले बीजेपी कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई. बीजेपी कार्यकर्ता का नाम सुरेंद्र सिंह बताया जा रहा है. सुरेंद्र सिंह स्मृति ईरानी की जीत का जश्न मनाकर घर लौटे थे. तभी कुछ अज्ञात बदमाश उनके घर पहुंचे और उन्हें गोली मार दी. स्मृति ईरानी पार्टी कार्यकर्ता की हत्या के बाद अमेठी जा रही हैं. स्मृति ईरानी अंतिम संस्कार में शामिल होंगी.

Pankaj Jha
@pankajjha_
अमेठी में अपने सहयोगी नेता की हत्या के बाद @smritiirani आज उनके परिवार से मिलने जा रही है. बीजेपी की जीत का जश्न मनाने के बाद घर लौटे सुरेन्द्र सिंह को गोली मार दी गई

बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान भी थे सुरेंद्र सिंह

इस घटना के बाद बरौलिया इलाके में कोहराम मचा हुआ है. सुरेंद्र सिंह उस बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान भी थे, जहां चुनाव प्रचार के दौरान स्मृति ईरानी ने जूते बांटे थे. गोली लगने के बाद सुरेंद्र सिंह को ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई.


स्मृति की जीत की ख़ुशी में गांव में जश्न मना रहे थे सुरेंद्र सिंह

बता दें कि लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान स्मृति ईरानी अपने पचार में ब्लॉक और गांव स्तर के नेताओं को ले जाकर प्रचार करती थीं. ऐसे में जब भी वो जामो इलामें में आती थीं, तो ग्राम प्रधानों/पूर्व प्रधानों को बुलाकर उनके साथ जनसम्पर्क करती थीं. उन्हीं पूर्व ग्राम प्रधानों में से एक सुरेंद्र सिंह कल स्मृति की जीत की ख़ुशी में गांव में जश्न मना रहे थे.

हालांकि हत्या के पीछे क्या कारण हैं? उन्हें किसने मारा है. इसकी जानकारी नहीं है. पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है.