15 नवंबर 1989 को सचिन तेंदुलकर और वक़ार यूनिस ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर का डेब्यू किया था

Posted by

क्रिकेट को विश्व में अलग पहचान दिलाने वाले महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और अपनी रफ्तार से धाकड़ बल्लेबाजों के मन में खौफ पैदा करने वाले पाकिस्तान के वकार यूनिस ने आज ही के दिन अपने-अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का डेब्यू किया था। 15 नवंबर 1989 का वो दिन क्रिकेट के इतिहास में अमर हो गया। दोनों ही क्रिकेट की तूती विश्व में बोलती है। दोनों ही क्रिकेटर आधुनिक युग के महान खिलाड़ियों में शुमार हैं।

एक ही दिन दो महान प्रतिभाओं का डेब्यू भी अपने ही आप में रोचक है। सचिन और वकार डेब्यू के समय एक-दूसरे के सामने ही थे। तब पाकिस्तान और टीम इंडिया के बीच टेस्ट मैच खेला जा रहा था। तेंदुलकर ने 16 साल 205 दिन की उम्र में डेब्यू किया जबकि तेज गेंदबाज की उम्र 17 साल 364 दिन थी। भारतीय बल्लेबाज के बारे में तब किसी ने अनुमान भी नहीं लगाया होगा कि वह आगे चलकर शॉट्स की ऐसी बानगी लिखेंगे कि दुनिया उन्हें क्रिकेट का भगवान कहेगी।

तेंदुलकर टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले सबसे कम्र के तीसरे क्रिकेटर थे। भारत-पाकिस्तान के बीच यह टेस्ट कई मायनों में खास रहा। दो युवा क्रिकेटरों ने आगाज किया। सचिन के साथ सलील अंकोला जबकि वकार के साथ शाहिद सईद ने भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर डेब्यू किया।

सचिन तेंदुलकर और वकार यूनिस के बीच जोरदार जंग भी हुई। दाएं हाथ के बल्लेबाज छठें नंबर पर बल्लेबाजी करने के लिए क्रीज पर आए। उन्होंने 24 गेंदों में दो चौकों की मदद से 15 रन बनाए। तेंदुलकर पर इस मैच में तो वकार यूनिस भारी पड़े। उन्होंने सचिन तेंदुलकर को बोल्ड कर दिया। वकार ने पहली पारी में काफी प्रभावित किया। उन्होंने 19 ओवर में एक मेडन सहित 80 रन देकर चार विकेट लिए।

सचिन तेंदुलकर का आगाज भले ही उनके रिकॉर्ड जैसा नहीं रहा, लेकिन इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और एक के बाद एक रिकॉर्ड्स बनाए। उल्लेखनीय है कि 15 नवंबर 2013 को ही सचिन तेंदुलकर ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की आखिरी पारी भी खेली। उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम पर 74 रन की आकर्षक पारी खेली थी।

रिकॉर्ड्स की बात करें तो सचिन तेंदुलकर ने 200 टेस्ट में 51 शतक और 68 अर्धशतकों की मदद से 15,921 रन बनाए। टेस्ट में तेंदुलकर ने 46 विकेट भी चटकाए। इसके अलावा 463 वन-डे में मास्टर ब्लास्टर ने 49 शतक और 96 अर्धशतकों की मदद से 18,426 रन बनाए और 154 विकेट भी चटकाए। वहीं वकार यूनिस ने 87 टेस्ट में 373 जबकि 262 वन-डे में 416 विकेट झटके। इस दौरान दोनों ही क्रिकेटरों ने कई रिकॉर्ड्स अपने नाम किए।