भारत ने न्यूज़ीलैंड को 6 रनों से हराया, जीती सिरीज़!

भारत ने न्यूज़ीलैंड को 6 रनों से हराया, जीती सिरीज़!

Posted by

आज कानपुर में भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच खेले गए तीसरे वनडै मैच में भारत ने न्यूज़ीलैंड को 6 रनों से हरा दिया है. इसके साथ ही भारत ने तीन मैचों की यह वनडे सिरीज़ अपने नाम कर ली है.

388 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूज़ीलैंड की टीम 50 ओवरों में 7 विकेट खोकर 331 रन ही बना पाई.
इससे पहले भारत ने रोहित शर्मा और विराट कोहली की शतकीय पारियों के दम पर 50 ओवरों में छह विकेट खोकर 337 रन बनाए थे.

लक्ष्य का पीछा करने के लिए न्यूज़ीलैंड की तरफ से ओपनिंग करने उतरे मार्टिन गुपटिल और कॉलिन मुनरो ने संभलकर खेलना शुरू किया मगर छठे ओवर की पहली गेंद पर गुपटिल दिनेश कार्तिक को कैच थमा बैठे. बुमराह ने उन्हें 10 रन के निजी स्कोर पर पेवेलियन भेजा.

इसके बाद कप्तान केन विलियमसन ने मुनरो के साथ पारी संभाली. न्यूज़ीलैंड को दूसरा विकेट पच्चीवें ओवर में मुनरो के रूप में गिरा, जिन्हें चाहल ने 75 के स्कोर पर बोल्ड किया. चार ओवर बाद 64 रन बनाकर खेल रहे विलियमसन भी चाहल की गेंद पर धोनी को कैच थमा बैठे.

इसके बाद रॉस टेलर और टॉम लैथम ने पारी संभाली. 41वें ओवर में टेलर जब 39 रन बनाकर आउट हुए, न्यूजीलैंड ने 306 रन बना लिए थे. मगर इसके बाद मैच रोमांचक हो गया.
मैच न्यूज़ीलैंड के पक्ष में जाता दिख रहा था मगर 47वें ओवर में हेनरी निकोल्स को भुनवेश्वर ने बोल्ड कर दिया और इसके अगले ही ओवर में लैथम भी 65 रन के स्कोर पर रनआउट हो गए.
आखिरी ओवर में न्यूजीलैंड को जीतने के लिए 15 रन चाहिए थे. बुमराह ने सधी हुई गेंदबाजी की जिससे न्यूज़ीलैंड के खिलाड़ी रन बनाने के लिए संघर्ष करते आए. पचासवें ओवर की चौथी गेंद पर सैंटनर ने हवा में शॉट खेला लेकिन धवन ने उन्हें डीप मिड-विकेट पर लपक लिया.

अब न्यूज़ीलैंड को 2 गेंदों में 12 रन चाहिए थे. यह तभी हो सकता था जब दो छक्के लगते. मगर पांचवीं गेंद पर न्यूज़ीलैंड को सिंगल ही मिल पाया. आख़िरी गेंद पर चौका तो लगा, मगर भारत 6 रनों से जीत गया.
जसप्रीत बुमरा ने 3, भुवनेश्वर कुमार ने 1 और युजवेंद्र चाहल ने 2 विकेट हासिल किए.

न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला लिया था. शुरू में उसे सातवें ओवर की पहली गेंद शिखर धवन के रूप में पहली कामयाबी मिली, जो 14 रन बनाकर पेवेलियन लौटे. मगर इसके बाद विराट कोहली और रोहित शर्मा ने शानदार बल्लेबाजी की.
न्यूज़ीलैंड को दूसरी सफलता 42वें ओवर में रोहित शर्मा के रूप में मिली, मगर तब तक भारत बेहद मज़बूत स्थिति में पहुंच चुका था.
रोहित शर्मा ने एक दिवसीय मैचों में अपना 15वां शतक लगाया.

उन्होंने 106 गेंदों में अपने सौ रन पूरे किए जिसमें 11 चौके और दो छक्के शामिल हैं. वह रोहित शर्मा 147 रन बनाकर आउट हुए.

कोहली के 9000 रन पूरे
कप्तान विराट कोहली ने भी सेंचुरी लगाई. इस मैच में वह 113 रन बनाकर पेवेलियन लौटे. साथ ही एकदिवसीय मैचों में उन्होंने अपने नौ हज़ार रन भी पूरे कर लिए.

ग्रैंडहोम की गेंद पर चौका लगाने के साथ ही 167 मैचों में नौ हज़ार रन पूरा कर इस लक्ष्य तक पहुंचने वाले वह सबसे तेज़ खिलाड़ी बन गए हैं. इससे पहले येह रिकॉर्ड ए बी डिविलियर्स के नाम था.
इससे पहले सौरभ गांगुली, तेंडुलकर, धोनी, द्रविड़ और अज़हरुद्दीन ने भारत की तरफ़ से 9,000 रन बनाए हैं.

हार्दिक पंड्या आठ, महेंद्र सिंह धोनी 25 और केदार जाधव 18 रन बनाकर आउट हुए. पारी ख़त्म होने पर दिनेश कार्तिक चार रन बनाकर खेल रहे थे.
ये भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच तीन वनडे मैचों की सिरीज़ का अंतिम मुक़ाबला था. पहले मैच में जहां न्यूजीलैंड ने शानदार जीत दर्ज कर भारत को हैरानी में डाल दिया था, वहीं दूसरे मैच को अपने नाम कर भारत ने जोरदार वापसी की थी.