मैनपुरी : पार्टी के बड़े नेता सुनते हैं और न ही प्रशासन, BJP मंडल कार्यकारिणी ने दिया सामूहिक इस्तीफ़ा!

मैनपुरी : पार्टी के बड़े नेता सुनते हैं और न ही प्रशासन, BJP मंडल कार्यकारिणी ने दिया सामूहिक इस्तीफ़ा!

Posted by

मैनपुरी। उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार बने अभी केवल छ माह का समय बीता है इतने में ही पार्टी पदाघिकारियों का पार्टी से मोह भंग होने लगा है| कार्यकर्ता से लेकर पार्टी के नेता तक प्रशासन के ख़राब रवैये से दुखी होने लगे हैं, इन की शिकायत है कि न तो पार्टी में बड़े नेता उनकी बात को सुनते हैं और न ही प्रशासन इनकी समस्याओं पर ध्यान देता है, जब कोई काम या किसी की समस्या लेकर अपने बड़े नेता के पास जाते हैं तो वह टरका देते हैं, और जब प्रशासन से गुहार लगते हैं हैं तो वहां भी कोई सुनवाई नहीं होती|

भाजपा मैनपुरी मंडल कार्यकारिणी ने जिलाध्यक्ष को सामूहिक त्यागपत्र सौंपा है। त्यागपत्र में आरोप लगाया गया है कि प्रशासनिक अधिकारियों का रवैया कार्यकर्ताओं के प्रति असंतोषजनक है। कार्यकर्ताओं की लगातार उपेक्षा की जा रही है।

मंडल अध्यक्ष अहिवरन सिंह राजपूत के नेतृत्व में कार्यकारिणी के पदाधिकारी गुरुवार को मोहल्ला अवधनगर स्थित भाजपा अध्यक्ष आलोक गुप्ता के आवास पर पहुंचे। मंडल अध्यक्ष ने उनको कार्यकारिणी का सामूहिक त्यागपत्र सौंपा।

इसमें आरोप लगाया गया है कि पार्टी के हित में काम करने के बाद भी कार्यकर्ताओं की प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा लगातार उपेक्षा की जा रही है। अधिकारियों का व्यवहार असंतोषजनक है।

थाने से लेकर तहसील तक कार्यकर्ताओं की उपेक्षा हो रही है। उनकी जायज बात तक नहीं सुनी जा रही है। मंडल स्तरीय पदाधिकारी इन हालातों में काम करने में खुद को असमर्थ पा रहे हैं।

इस मौके पर मंडल महामंत्री रवि पांडेय, देवेश चौहान, उपाध्यक्ष मनोज शाक्य, मुकेश राजपूत, आलोक पांडेय, संजयसिंह चौहान, मंडल मंत्री पहुंची लाल, सतीश राजपूत, लेखराज लोधी, शैलेंद्र सिंह राठौर आदि रहे।