#नोटबंदी के बाद देश में देह व्यापार में कम हुआ है : केन्द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद

#नोटबंदी के बाद देश में देह व्यापार में कम हुआ है : केन्द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद

Posted by

नई दिल्ली।नोटबंदी एक मुअम्मा बन के रह गयी है, इसको लागू क्यूँ किया गया था यह रहस्य किसी की समाज में नहीं आया, प्रधानमंत्री ने कहा था कि इस से आतंकवाद समाप्त हो जायेगा, नक्सलवाद की कमर टूट जायेगी, कालाधन बहार आ जायेगा, जाली नोटों को पकड़ा जायेगा, पर एक साल में हुआ कुछ नहीं अब केन्द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने अनोखा दावा कया, नोटबंदी को एक साल पुरे हो जाने पर। कहा कि नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी लागू किए जाने के बाद देह व्यापार में कमी आई है।

रविशंकर प्रसाद ने उनके इस दावे के समर्थन में कोई आंकड़ा पेश करने को कहा तो रवि शंकर प्रसाद अपने समर्थन में कोई आकड़ा नही दे पाया,उन्होंने कहा कि अब दलालों को नकद भुगतान नहीं होता है।

रविशंकर प्रसाद नोटबंदी का साल पूरा होने के अवसर पर उससे हुए लाभ गिनाने भोपाल आए थे। प्रथम उनके साथ सीएम शिवराज सिंह चौहान को भी प्रेस कॉन्फ्रेंस में रहना था। परन्तु चित्रकूट उपचुनाव में व्यस्तता के कारण शिवराज सिंह भोपाल नहीं पहुंच पाए।

केन्द्रीय मंत्री दिल्ली से चार पन्नो का एक नोट भी लेकर आये थे, उन्होंने नोटबंदी के फायदे और उपलब्धियों पर कई दावे किये, इस दौरान केंद्रीय मंत्री प्रसाद ने कांग्रेस को कठघरे में खड़ा किया।

उन्होंने यूपीए सरकार के समय घोटालों के आरोप लगाये.रविशंकर प्रसाद ने दावा किया कि मोदी के तीन साल के शासन में कोई घोटाला नहीं हुआ है। और कहा कि कांग्रेस को ईमानदारी से चिढ़ क्यों है।

कांग्रेस पर प्रहार के बाद वरिष्ठ मंत्री ने यह दावा भी किया कि नोटबंदी के बाद देश में देह व्यापार में कम हुआ है जब उनसे इससे जुड़े आंकड़ों के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि होम मिनिस्टरी की ओर से यह जानकारी दी गई है और कहा कि अब देह व्यापार से जुड़े दलालों को 1000-500 के नोट नहीं मिलते हैं। मंत्री जी ने जो प्रेसनोट दिया उसमें यह दावा भी किया गया है कि नोटबंदी की वजह से वेश्यावृत्ति मे कमी आई है