हर पिता के भाग्य में बेटी नही होती

हर पिता के भाग्य में बेटी नही होती

Posted by

Shalini Jyothi – New Delhi, India
=============== ·
Dedicated to all fathers…..
हर पिता के भाग्य में बेटी नही होती :
राजा दशरथ जब अपने चारों बेटों की बारात लेकर राजा जनक के द्वार पर पहुँचे, तो राजा जनक ने सम्मानपूर्वक बारात का स्वागत किया ।
तभी दशरथ जी ने आगे बढकर जनक जी के चरण छू लिये ।
चौंककर जनक जी ने दशरथ जी को थाम लिया और बोले महाराज आप मुझसे बड़े है, और तो और, वरपक्ष वाले हैं ये उल्टी गंगा कैसे बहा रहे हैं …..?
इस पर दशरथ जी ने बड़ी सुंदर बात कही –
‘महाराज आप दाता हो कन्यादान कर रहै हो,मैं तो याचक हूँ आपके द्वार कन्या लेने आया हूँ ,,
अब आप ही बताइए दाता और याचक में बड़ा कौन है ?
यह सुनकर जनक जी की आँखों मे अश्रुधारा बह निकली….. ।।
भाग्यशाली हैं वो लोग जिनके घर में होती हैं बेटियाँ ।
हर बेटी के भाग्य मे पिता होता है , लेकिन हर पिता के भाग्य में बेटी नही होती ।
=============
एक अंग्रेज़ी क्लास का विज्ञापन…..
एक महीने में “फटाफट-अंग्रेज़ी” बोलना सीखें….!!
महिलाओं के लिये 50% की छूट.
किसी ने पूछा:- “महिलाओं को छूट क्यों???”
क्लास वाले:- “उन्हें फटाफट बोलना तो पहले से ही आता है. सिर्फ अंग्रेज़ी सिखानी हैं..!!!”😂😂😜😜😝😝
=================
आग लगी थी. .
मेरे घर में
सब पूछने वाले आये,
हाल पुछा और चले गये
एक सच्चे मित्र ने पूछा -:
” क्या क्या बचा है. . .. ?
मैने कहा -:
कुछ नहीं ” केवल मैं बच गया हूँ. . !!
” उसने गले लगाकर कहा -:
साले ! ” फिर जला ही क्या है।
==============
इसे कहते है नया
लड़की -कौन हो तुम?
लड़का-हसरत तुम्हारी.
लड़की-क्या देखते हो?
लड़का-सूरत तुम्हारी.
लड़की-करते हो क्या?
लड़का-पूजा तुम्हारी.
लड़की-फ़क़ीर हो क्या?
लड़का-जो सोचो मर्जी तुम्हारी.
लड़की-क्या चाहते हो?
लड़का-मोहब्बत तुम्हारी.
लड़की-पछताओगे ?
लड़का-किस्मत हमारी।
लड़की- शादीशुदा हूँ मै !!
लड़का-पहले ही बक देती “मनहूस नारी” पूरी मेहनत बर्बाद कर दी हमारी।