#metooफ़िल्म में काम चाहिये तो खुद को पेश करना होगा!

#metooफ़िल्म में काम चाहिये तो खुद को पेश करना होगा!

Posted by

दिग्गज फिल्म मेकर हार्वे वीनस्टीन और केविन स्पेसी पर लगे रेप के आरोपों पर हॉलीवुड में कोहराम मचा है। आए दिन एक्ट्रेसेज सामने आ रही हैं और खुद के साथ हुए यौन उत्पीड़न का खुलासा कर रही हैं और मुद्दे पर विचार रख रही हैं। यहां तक कि सोशल मीडिया पर #metoo कैंपेन भी ट्रेंड करने लगा। बावजूद इसके बॉलीवुड कि किसी भी हिरोइन ने चुप्पी नहीं तोड़ी है। इतनी बड़ी फिल्म इंडस्ट्री से सिर्फ विद्या बालन ने अपनी बात रखी है। शुक्र है, आखिरकार एक और एक्ट्रेस ने सामने आकर उनके साथ हुए यौन शोषण की बात की है।

स्वरा भास्कर ने खुलासा किया है कि एक्टिंग करियर के शुरुआती दिनों में वह भी यौन उत्पीड़न का शिकार हो चुकी हैं। ‘मुंबई मिरर’ को दिये इंटरव्यू में उन्होंने कहा, ‘मेरे सामने शर्त रखी जाती थी कि अगर फिल्म में काम चाहिये तो खुद को पेश करना होगा। मैंने कई रोल इसलिए गंवा दिये क्योंकि मैं इसके लिए राज़ी नहीं थी।’ उन्होंने कहा, ‘हालात इतने बिगड़ गए कि लोग मेरे मैसेज का भी जवाब नहीं देते थे क्योंकि वो जानते थे मैं कभी भी कॉम्प्रोमाइज करने के लिए तैयार नहीं होंगी।

स्वरा भास्कर ने बताया, ‘एक फिल्म की शूटिंग के दौरान मेरे साथ छेड़खानी हुई। शूटिंग के सिलसिले में हम 56 दिनों के लिए एक रीमोट लोकेशन पर गए थे। डायरेक्टर ने मुझे कई मैसेज किये और साथ डिनर करने के लिए बुलाया। वह मुझे दिनभर घूरता था और रात को सीन डिस्कस करने के बहाने होटल के कमरे में बुलाता था।’ स्वरा भास्कर ने आगे बताया, ‘शूटिंग के पहले हफ्ते की बात है, वह फिल्म डायरेक्टर मेरे साथ लव, सेक्स और वन नाइट स्टैंड के बारे में बातें करने लगा। एक रात वह शराब के नशे में धुत मेरे होटल रूम में आ धमका और गले लगाने के लिए कहने लगा। वो सब बहुत डरावना था।

स्वरा भास्कर ने बताया कि उस फिल्म के लिए उन हालात में काम करना उनके लिए बहुत मुश्किल हो गया। उन्होंने बताया कि खुद को बचाने के लिए वह पैकअप होते ही अपने कमरे में चली जाती थीं और बत्तियां बुझा देती थीं। उन्होंने कहा, ‘मैं अधेरे में ही मेक अप हटाती थी ताकि उस डायरेक्टर को लगे कि मैं सो चुकी हूं।

स्वरा भास्कर ने कहा कि तंग आकर उन्होंने उस फिल्म डायरेक्टर को धमकी दी कि अगर वह उन्हें परेशान करना बंद नहीं करेंगे तो वह फिल्म छोड़ देंगी। इसके बाद दो हफ्तों के लिए वह सुधर गया लेकिन बाद में वह अपने पुराने ढर्रे पर लौट आया। आखिरकार स्वरा ने फिल्म के एग्जीक्यूटिव प्रोड्यूजर से इसकी शिकायत की जिसके बाद उन्हें सुरक्षी दी गई।

स्वरा भास्कर ने ऐसी घटनाओं से खुद को बचाने के लिए मंत्र देते हुए कहा, ‘रोल गंवाना पड़े तो भी ठीक लेकिन कभी भी काउच पर ना जाना।