अलीगढ : पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से व्यवसायी के 14 वर्षीय पुत्र को सकुशल बचाया!

अलीगढ : पुलिस ने अपहरणकर्ताओं के चंगुल से व्यवसायी के 14 वर्षीय पुत्र को सकुशल बचाया!

Posted by

अलीगढ। दिनांक 12.01.2018 को प्रातः 6:15 पर डेरी व्यवसायी उमेश कुमार ने कंट्रोल रूम को सूचना दी कि उसके 14 वर्षीय पुत्र शनि का अज्ञात व्यक्तियों ने अपहरण कर लिया है, जिन्हें मोटरसाइकिल पर ले जाते हुए मोहल्ले के लोगो द्वारा देखा गया है । इस सूचना पर तत्काल कार्रवाई करते हुए इस घटना का अभियोग पंजीकृत किया गया । तत्काल घटना के अनावरण के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार पाण्डेय द्वारा पुलिस अधीक्षक नगर अतुल श्रीवास्तव के नेतृत्व में संजीव दीक्षित सीओ सिविल लाइन द्वारा घटना के अनावरण एवं बालक की सकुशल बरामदगी हेतु तीन टीमें क्रमशः छोटेलाल सीआईडब्लू, प्रभारी अभय शर्मा सर्विलांस सेल प्रभारी एवं दिनेश कुमार एसएसआई क्वार्सी की तीन टीमें गठित की गई । लगातार अनवरत प्रयास करने के बाद करीब 10:30 पर वादी के मोबाइल पर छह लाख रूपये की फिरौती हेतु फोन आया । सूचना के आधार पर अभियोग को सुसंगत धाराओं में तरमीम करते हुवे कार्रवाई प्रारंभ की गई । इसके पश्चात टीम ने अपना बहुमुखी प्रयास प्रारम्भ कर दिया । सायंकाल सर्विलैंस व मुखबिरो की सूचना के आधार पर बोनेर तिराहे के पास चेकिंग में एक मोटरसाइकिल पर एक व्यक्ति को रोका गया । हिरासत में लेकर समग्र पूछताछ की गई तो इसने अपना नाम जितेंद्र बताया । पूछताछ से ज्ञात हुआ कि जंगल चौकी क्षेत्र ओज़ोन सिटी में बच्चे को दो व्यक्तियों विष्णु व खान के पास छुपाकर रखा गया है। उसकी निशानदेही पर बच्चे की बरामदगी हेतु जान की सुरक्षा को ध्यान रखते हुए दबिश दी गई। एक अभियुक्त पहले से घात लगाकर निगरानी में बैठा हुआ था । उसने पुलिस टीम से अपने आप को घिरता देख पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से अंधाधुंध फायरिंग प्रारभ कर दी पुलिस टीम द्वारा जवाबी फायरिंग में गोली लगने से वह अभियुक्त घायल हो गया । उसने बताया कि बच्चा आगे की करब में छुपा कर रखा है ।


अभियुक्त के बताए स्थान से बच्चे की सकुशल बरामद की गई । घायल ने पूछताछ में अपना नाम विष्णु बताया । तत्काल घायल को इलाज हेतु जिला अस्पताल भेजा गया । बच्चे द्वारा बताया गया कि उसके पास निगरानी में बैठा एक और अभियुक्त फायरिंग की आवाज सुन कर भाग गया । उसकी तलाश हेतु थाना क्वारसी, बन्ना देवी, गांधीपार्क एवं अकराबाद की संयुक्त टीम द्वारा कॉम्बिंग की जा रही है । टीम के उत्साहवर्धन हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अलीगढ़ महोदय द्वारा ₹25000 इनाम की घोषणा की गई है ।
गिरफ्तार अभियुक्त गण

1- जितेन्द्र पुत्र भगवान दास निवासी – भांकरी थाना विजयगढ़ जनपद अलीगढ ।
2- विष्णु पुत्र रमेश पाल निवासी गौलारा थाना विजयगढ़ अलीगढ
( मुठभेड़ में घायल )
फरार अभियुक्त
1 – खान पुत्र नामालूम निवासी डीवाई ।