पांडे के परिजनों को दस लाख और सरकारी नौकरी पर नहीं हुआ फैसला : आश्वासन देकर किया दाहसंस्कार अब मुकरे!

पांडे के परिजनों को दस लाख और सरकारी नौकरी पर नहीं हुआ फैसला : आश्वासन देकर किया दाहसंस्कार अब मुकरे!

Posted by

Sagar_parvez
=============
मचा दिया शोर मगर…पांडे के परिजनों को दस लाख और सरकारी नौकरी पर नहीं हुआ फैसला – हंगामा होते देख आश्वासन देकर करा किया दाहसंस्कार अब मुकरे!

देहरादून : हल्द्वानी के ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की मौत के बाद उनके परिजनों को सरकार की ओर से दस लाख रुपये की सरकारी सहायता और पत्नी को नौकरी देने के मामले में अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि उन्हें पता चला है कि जिलाधिकारी द्वारा पीड़ित के परिवार को स्थानीय लोगों की मदद से दो लाख की आर्थिक सहायता दी गई है। वहीं, सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने कहा कि उन्हें भी मीडिया के माध्यम से सरकारी सहायता की जानकारी मिली है। देख रहे हैं कि यह मामला क्या है, और कहां से आया है।

भाजपा मुख्यालय में आयोजित जनता दरबार में जहर खाकर पहुंचने वाले ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की बीते मंगलवार को मृत्यु हो गई थी। बुधवार को जब उनका शव हल्द्वानी पहुंचा तो परिजनों ने सरकार की ओर से दस लाख की आर्थिक सहायता और उनकी पत्नी को सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग उठाई थी।

मांग पूरी न होने देने तक शव भी नहीं उठाने दिया गया। इस दौरान जिलाधिकारी नैनीताल ने परिजनों को आश्वासन दिया था कि सरकार की ओर से दस लाख रुपये की आर्थिक मदद और पत्नी को सरकारी नौकरी दी जाएगी।

जब इस संबंध में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी ने स्थानीय लोगों से सहयोग लेकर दो लाख की मदद उनको दी है, ऐसी सूचना उन्हें मिली है। परिजनों को सरकारी मदद दिए जाने के संबंध में उन्होंने कहा कि वे कभी कोई घोषणा नहीं नहीं करते और न ही आश्वासन देते हैं। जो काम करना होता है उसके बाद ही वह बात बाहर आती है। वहीं, सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने कहा कि उन्हें भी यह जानकारी मीडिया के माध्यम से मिली है। वे इस बात को देख रहे हैं कि यह क्या है और बात कहां से आई है।

तो स्थानीय विधायक ने सीएम से वार्ता के बाद दिया था आश्वासन

स्थानीय विधायक बंशीधर भगत का भी एक पत्र मीडिया में तेजी से वायरल हुआ है। मुख्यमंत्री को संबोधित इस पत्र में स्थानीय विधायक बंशीधर भगत ने कहा है कि प्रकाश पांडे की मौत के बाद हल्द्वानी में उत्पन्न आक्रोश के बाद मेरे द्वारा की गई वार्ता का स्मरण करने का कष्ट करें। वार्ता में मेरे द्वारा प्रकाश पांडे के परिजनों की मांग से आपको अवगत कराया गया।

मुख्यमंत्री के दिए गए आश्वासन के उपरांत मेरे द्वारा स्व. पांडे के परिजनों को दस लाख रुपये की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की गई। तत्पश्चात परिजनों ने शव का दाह-संस्कार शांतिपूर्ण कर दिया गया। पत्र में आगे कहा गया है कि मेरा आपसे आग्रह है कि आप द्वारा दिए गए आश्वासन के अनुरूप दस लाख रुपये की धनराशि स्व. पांडे की पत्नी को प्रदान करने की कृपा करें।