मध्य प्रदेश : आर्थिक तंगी के कारण किसान ने लगाई फांसी!

मध्य प्रदेश : आर्थिक तंगी के कारण किसान ने लगाई फांसी!

Posted by

भोपाल।मध्य प्रदेश में सरकार के तमाम दावों के बाद भी किसानों की आत्महत्याएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। इस बार टीकमगढ़ जिले के एक गांव में किसान ने देर रात 2 बजे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह आर्थिक तंगी से जूझ रहा था और खेती भी अच्छी नहीं थी।

– किसान ने दीवार पर अपने दिल का हाल लिखा। उसने टूटी फूटी हिंदी में लिखा कि जिसने भी मुझसे पैसे लिए हैं। वह मेरे परिवार को दे दें। बेटे को लिखा कि तुम अच्छे से जीना। हमेशा तुम्हारे साथ हूं। गांववालों का धन्यवाद किया और कहा कि आप सबने अच्छा साथ दिया।

एक एकड़ जमीन से हो रहा था गुजारा
– किसान की आत्महत्या के पक्के कारणों का पता नहीं चल पाया है। किसान आर्थिक रूप से परेशान था और खेती भी अच्छी नहीं थी। आदिवासी उम्र हजारी 32 साल ने अपने पीछे 2 बच्चे, एक बच्ची का परिवार छोड़ गया है। किसान अाैर उसका परिवार आर्थिक तंगी से जूझ रहा है, साथ ही उसके पास एक एकड़ जमीन है, जिस पर बंजर डाली हुई है।

फांसी लगाने से पहले ये लिखा

-किसान ने दीवार पर लिखा कि अपने दिल का हाल दीवार पर लिखा के भाइयों मेरे मित्रों मेरे परिवार में जा रहा हूं, मेरे परिवार का ख्याल रखना और मेरे दोस्त जितने भी पैसे लिए हुए हैं। मेरे परिवार को दे जाना। और मेरे हिस्से की जमीन मेरे बच्चों के नाम करवा देना। परिवार पर कोई दिक्कत आए तो गांव वाले उस समस्या को दूर कर देना। घटना बल्देवगढ़ टीकमगढ़ रास्ते बाबा खेरा में घर के बाहर आंगन में फांसी लगा ली।