मात्र 33 करोड़ के मालिक हैं ग्वालियर के महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया

मात्र 33 करोड़ के मालिक हैं ग्वालियर के महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया

Posted by

ग्वालियर – यदि लोकसभा चुनाव 2014 में पेश किए गए पॉलिटिकल एफिडेविट्स की मानें तो ज्योतिरादित्य सिंधिया मात्र 33 करोड़ के मालिक हैं। सिंधिया की संपत्तियों में ग्वालियर स्थित जयविलास पैलेस भी शामिल नहीं है। कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 1 जनवरी को 47वां के हो गए। सेंटर में पावर मिनिस्टर का पद संभाल चुके ग्वालियर के महाराज ने हाल ही में एलान किया था कि वे राज्य में बढ़ते किसानों के सुसाइड्स की वजह से अपना बर्थडे सेलिब्रेट नहीं करेंगे।


33 करोड़ के हैं मालिक
ज्योतिरादित्य ग्वालियर के महाराज रहे माधवराव सिंधिया और माधवी राजे सिंधिया के बेटे हैं। इन्होंने यूएस की हारवर्ड यूनिवर्सिटी से 1993 में बीए इकोनॉमिक्स की डिग्री कंप्लीट की। उसके बाद 2001 में यूएस की ही स्टेनफोर्ड यूनिव. से M.B.A. किया। वैसे तो ये अपना ऑफिशियल रेसिडेंस ग्वालियर स्थित जय विलास लश्कर पैलेस को बताते हैं, लेकिन पॉलिटिकल एफिडेविट्स में इन्होंने कभी इस पर कभी अपना मालिकाना हक नहीं बताया। 2014 में सबमिट किए हलफनामे के मुताबिक ज्योतिरादित्य के पास मुंबई में 2 फ्लैट हैं, जिनकी कंबाइन्ड कीमत 28.4 करोड़ रुपए है। इस अलावा इनका दिल्ली में 98 लाख का फ्लैट है।

विरासत में मिला है फोन बिल
ज्योतिरादित्य सिंधिया बीएसएनल के कर्जदार हैं। भोपाल के एडीजी कोर्ट में इन पर 6.5 लाख रुपए के फोन बिल का केस चल रहा है। यह केस इनकी दादी विजया राजे सिंधिया पर हुआ था। वारिस होने की वजह से इनका नाम भी केस में शामिल है। इसके अलावा इन्हें एक BMW भी विरासत में मिली है।