अब नीतीश कुमार के मिट्टी में मिलने की बारी है : तेजस्वी यादव

अब नीतीश कुमार के मिट्टी में मिलने की बारी है : तेजस्वी यादव

Posted by

बिहार की राजनीती में लालू प्रसाद को कोई कितना भी कम आंकने की बात करे पर लालू का वहां वजूद है, लालू यादव के साथ महागठबंध कर सत्ता में पहुंचे नितीश कुमार ने भरष्टाचार के नाम पर गठबंध से अलग हो कर बीजेपी के साथ सरकार बना ली है लेकिन अब के लोगों के नाम भरष्टाचार में सामने आते हैं तो नितीश कुमार न तो कुछ बोलते हैं और न ही कार्यवाही करने की हिम्मत जुटा पाते हैं|

Tejashwi Yadav‏Verified account
@yadavtejashwi
Following Following @yadavtejashwi
More
हम अवसर की नहीं विचार की, विनाश की नहीं विकास की, जात की नहीं जमात और नीतीश-मोदी की तरह चोरी की नहीं ईमानदारी की राजनीति करते है।

Tejashwi Yadav‏Verified account
@yadavtejashwi
Following Following @yadavtejashwi
More
चोर दरवाज़े से बनी नीतीश सरकार लोगों का क्या भला सोचेगी? जनता की जेब काटने के सिवाय उनका कोई उद्देश्य नहीं।

Tejashwi Yadav

Verified account

@yadavtejashwi
He is same Nitish who used to talk about “Sangh Mukt Bharat” (RSS Free India). Now out of the fear of an unknown hidden CD & file he is talking about “Sangh Yukt Bharat”.

Tejashwi Yadav

Verified account

@yadavtejashwi
चोर की दाढ़ी में तिनका!

नीतीश जी हर सोमवार को बिना पूछे बोलते रहते है मैं मीडिया की स्वतंत्रता का हिमायती हूँ क्योंकि यह बोलकर अपना पाप छुपाते है।बिहार में मीडिया पर अघोषित आपातकाल है।जो नीतीश जी के कहे अनुसार नहीं चलेगा उसे नौकरी से हटवा दिया जाएगा। विज्ञापन बंद कर दिया जाएगा।

Translate from Hindi
75 replies 263 retweets 1,186 likes
Reply 75 Retweet 263 Like 1.2K Direct message

Tejashwi Yadav

Verified account

@yadavtejashwi

बिहार में लोकतंत्र सिसक रहा है। लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ मीडिया को नीतीश के पदाधिकारी धमकी दे रहे हैं कि अगर तेजस्वी के कार्यक्रमों का कवरेज किया तो विज्ञापन नहीं मिलेगा।मतलब नीतीश जी इतने असहाय,बेबस और लाचार है कि 28 साल के नौजवान को रोकने के लिए मीडिया को डरा रहे है। धिक्कार है।

Tejashwi Yadav

Verified account

@yadavtejashwi
मैं केवल बिहार का मुख्यमंत्री हूं, NDA गठबंधन का नेता नहीं, मुखिया नहीं: नीतीश कुमार

महागठबंधन में आप सीएम नहीं बड़े नेता थे। है ना! आपके चाबी वाले तोते बोलते थे आपके चेहरे पर ही बारात निकली है।

इंतज़ार किजीए थोड़े दिन में आप गठबंधन के मुख्यमंत्री भी नहीं रहेंगे। फल मिलेगा।

पूर्व उपमुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि अब नीतीश कुमार के मिट्टी में मिलने की बारी है। न्याय यात्रा के दौरान अररिया से चुनाव प्रचार की शुरुआत करते हुए तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार ने खुद ही कहा था कि मिट्टी में मिल जाएंगे, लेकिन भाजपा के साथ नहीं जाएंगे। वो भाजपा के साथ तो चले गए, लेकिन अब उनके मिट्टी में मिलने की बारी है।

मंगलवार को अररिया में तेजस्वी यादव ने कहा कि सत्ता में आने के लिए नीतीश ने राजद का सहारा लिया, लेकिन जब काम निकल गया तो हमारे परिवार पर साजिश के तहत मुकदमा करवाया गया। मेरे ननिहाल के आंगन को खुदवाया गया और बच्चों को फंसा कर लालू को डराने का काम किया गया।

तेजस्वी ने कहा कि हम लोग अररिया सीट जीत कर अपने विरोधियों को जवाब देने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि नीतीश ज्यादा से ज्यादा पांच साल तक रहेंगे, लेकिन हम तो 50 साल तक राजनीति करेंगे।