इस्राईली सैनिक को थप्पड़ मारने वाली बहादुर लड़की अदालत में हुई पेश!

इस्राईली सैनिक को थप्पड़ मारने वाली बहादुर लड़की अदालत में हुई पेश!

Posted by

एक इस्राईली सैनिक को थप्पड़ मारने और दूसरे आरोपों मं 17 वर्षीय फ़िलिस्तीनी किशोरी अहद तमीमी के ख़िलाफ़ मुक़द्दमा शुरू हो गया है।

अहद तमीमी की वह वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गई थी जिस में उन्हें एक इस्राईली सैनिक को थप्पड़ मारते देखा जा सकता है।

17 साल की अहद तमीमी पर 12 धाराएं लगाई गई हैं जिनमें सुरक्षाबलों पर हमला करने और हिंसा फैलाने के आरोप शामिल हैं। यदि आरोप साबित हो गए तो अहद तमीमी को लंबी जेल हो सकती है।

अहद तमीमी वास्तव में इस्राईल के ग़ैर क़ानूनी क़ब्ज़े के ख़िलाफ़ फ़िलिस्तीन के प्रतिरोध का चिन्ह बन चुकी हैं और सारी दुनिया उनसे अवगत हो चुकी है।

एमनेस्टी इंटरनैशनल ने अहद तमीमी की रिहाई की अपील की है और कहा है कि इस्राईल फ़िलिस्तीनी बच्चों के साथ भेदभाव का बर्ताव करता है।

जिस समय यह घटना हुई अहद तमीमी की उम्र 16 साल थी। यह घटना 15 दिमस्बर 2017 की है। इसकी वीडियो अहद तमीमी की मां ने बनाई थी। बाद में अहद तमीमी को गिरफ़तार कर लिया गया और उनकी मां पर भी सोशल मीडिया पर आक्रोश फैलाने की धाराएं लगाई गईं।

अहद तमीमी पहली बार 11 साल की उम्र में मशहूर हुई थीं जब उन्हें एक वीडिया में एक सैनिक को मुक्के से डराते हुए देखा गया था। इस घटना के बाद इस्राईल के शिक्षा मंत्री ने कहा था कि अहद तमीमी और उनकी मां को शेष जीवन जेल में गुज़ारना पड़ेगा।

दो साल पहले भी अहद तमीमी की एक वीडिया सार्वजनिक हुई जिसमें उन्हें एक इस्राईली सैनिक के हाथ को दांत काटते देखा जा सकता है। इस सैनिक ने उनके भाई को पत्थर फेंकने के संदेह में गिरफ़तार किया था। उस समय तुर्क राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोग़ान ने उनकी प्रशंसा की थी और उन्हें बहादुरी का एवार्ड दिया था।

अहद तमीमी के इस रवैए की वजह यह है कि वह इस्राईली सैनिकों के हाथों अपने भाई और चचेरे भाई तथा अन्य रिश्तेदारों पर हो रहे बर्बर अत्याचारों की साक्षी हैं।