#देश ख़तरे में है, इस ख़तरे से देश को हिन्दू और दलित ही बचा सकते हैं!

#देश ख़तरे में है, इस ख़तरे से देश को हिन्दू और दलित ही बचा सकते हैं!

Posted by

परवेज़ ख़ान
================
तू क्या लेकर आया था, तू क्या लेकर जायेगा,,,,,,,बकरी का 10 दिन का बच्चा एक हज़ार रूपए में तुरंत बिक जाता है लेकिन गाय को कोई खरीदने को तैय्यार नहीं हैं,,,आप मध्य भारत के किसी भी गॉव में जाये, किसान परेशान हैं, गॉवों में न जाने कहाँ से दर्जनों गाय आ गयी हैं, ये गाय फसलों को खा रही हैं, लाठी लेकर लोग रात में खेतों में पहरा लगा रहे हैं,,, गाय जब तक दूध देती है लोग घर पर रखते हैं, जब दूध देना बंद कर देती है मतलब कि जब वह बच्चे पैदा करने की हालत में नहीं रहती है ‘ठल्ल’ हो जाती है तब उसे किसान बाजार में बेच देता था,,,अब बेचने पर पाबन्दी है,,,तो घर से बहार आवारा छोड़ देते हैं, गौ सेवक पकड़ कर इधर उधर दूर किसी गॉव में छोड़ आते हैं,,,

हरियाणा के जींद की सरकारी गौशाला में हज़ारों गायों को रखा गया है, यहाँ इन ‘माताओं’ को पीने के लिए बराबर के गॉव से आने वाले गंदे पानी को पीना पड़ता है, चारा खिलाने के लिए गौशाला वालों का बजट कम है, यहाँ हर रोज़ कई गाय चारा खाने के दौरान ज़ख़्मी हो जाती हैं, मर जाती हैं,,,

पाकिस्तान की तरफ से की गयी भारी गोलाबारी में भारत के चार जवानों की मौत हो गयी जिनमे एक कैप्टेन रैंक का अधिकारी भी शामिल था,,,सेना के कैंप पर फ़िदायीन हमले में सेना के दो जवानों को मौत हो गयी,,,सरकार ने निंदा कर दी है, बाकी काम सेना अध्यक्ष जनरल विपिन रावत देख ही रहे हैं, टीवी चैनल की डेबिट में ग़म और गुस्से की वजह से प्रोग्राम की एंकर ‘रुबिका लियाक़त’ के हाथ कांपने लगते हैं, वह चाहती है कि स्टूडियो में बैठा सेना का पूर्व अधिकारी अभी ‘हैंड पम्प’ कन्धे पर रख कर पाकिस्तान में जा कर घुस जाए,,,कर्णाटक, राजिस्थान, मध्यप्रदेश में चुनाव हैं,,,सरहद पर तनाव है,,,नार्थ ईस्ट की ख़बरें दिल्ली वाले कम ही दिखाते/छापते हैं,,,

इस्राईल एक छोटा सा देश है, अवैध देश, जिसकी कुल आबादी The current population of Israel is 8,399,720 as of Monday, February 5, 2018, based on the latest United Nations estimates. है,,,

ये जो हमारी धरती है, जब नहीं थी, तब कुछ भी न था, न आसमान थे, न पहाड़ थे, न दरिया थे,,,,तब सिर्फ ‘अल्लाह’ था, उसका सिंहासन समंदर पर था,,,अल्लाह ने जब, ज़मीन को बनाया तब,,,ये पूरा ब्रह्माण्ड बनाया गया,,,इंसान को धरती पर उतारा गया,,,तब हमारी धरती ‘अंडाकार’ थी,,,समय के साथ आदम की औलाद से औलाद पैदा होती रही और बढ़ती गयी,,,ज़मीन के अंदर ‘हलचल’ होती रही,,,समन्दरों का पानी टकराता रहा, अंदर का लावा, भूकंप के झटके, बारिश, गैस, भाप,,,ये ज़मीन बिखरने लगी,,,’सकलेप्टेरिंग ऑफ़ अर्थ’,,,ज़मीन के अंदर की चट्टानों के शिफ्ट होने से धरती खिसक कर आगे पीछे हुई,,,लोग जो जहाँ थे,,ज़मीन के साथ वहीँ रह गए,,,लाखों वर्षों में प्रकृति के साथ साथ इंसानी जीवन आगे बढ़ता गया,,,देश बन गए, सरहदें खड़ी हो गयीं,,,अलग अलग देश, अलग अलग उनके लोग, अलग अलग लोगों के धर्म, रीती, रिवाज़, भाषा, खाना, पहनावा,,,हम से पहले जो थे, अब नहीं हैं,,,बताओ कहाँ हैं वह,,,जो आये, एक वक़्त तक इस ज़मीन पर ‘ठहरे’ चले गए,,,इंसान बड़ा चक्कर में फंसा हुआ है,,,दिन रात, रात दिन,,,कुछ करना चाहता है, पाना चाहता है,,,,बताओ क्या पाना चाहते हो,,,साइकिल,,,साइकिल वाला,,,बाइक,,,बाइक वाला कार,,,कार वाला बेकार कार की भागमभाग में लगा हुआ है,,,हमें लगता है कि हमारे पास कुछ दौलत, ताक़त, कुर्सी मिल जाये तो फ़तेह हो गयी,,,किस पर फ़तेह मिली?,,,,इंसान की निजी ज़रूरतें बेहद कम होती हैं,,इंसान की ख़ाहिश कभी पूरा नहीं हो सकतीं,,,मुझे जब ये मालूम है कि दुनियां से एक समय बाद जाना है,,,और जो भी कुछ है वह यहीं छोड़ कर जाना है,,,और हर काम का हिसाब होना है,,,तब भी तो हम इंसानों जैसा नहीं हो पाते,,,

दुनियां के कई देशों ने नुक्लेअर बम बना रखे हैं, अपनी ताक़त बढ़ाने के लिए वह समझते हैं ये ज़रूरी है, ‘पैडमैन’,,,को इंसानी तकलीफ महसूस हुई उसने उसका हल निकाला,,,अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का एक छात्र जो यहाँ PhD कर रहा था, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक आतंकी बन चुका है का अभी तक मसला क्या है कुछ खबर नहीं मिली है, मन्नान वानी नाम का ये छात्र कश्मीर का रहने वाला है, बताया गया कि उसने ‘हिज्बुल मुजाहिदीन’ को ज्वाइन कर लिया है,,,है कहाँ वह,,,,नजीब अहमद, JNU का छात्र कहाँ गया,,,

औरंगज़ेब से नफरत थी तो सड़क का नाम सरकार ने ख़त्म कर दिया, बीजेपी के सांसद ने औरंगज़ेब को आतंकवादी बता दिया, अब इस सांसद के लिए क्या कहा जाये, कहने से भी कोई फ़ायदा नहीं,,,पुख्ता खबर यह है कि चीन ने डोकलाम पर पूरी तरह कब्ज़ा कर लिया है, डोकलाम में चीन ने दो हैलीपैड बना लिए हैं, बुलेट प्रुफ बख्तरबंद वाहनों का भारी जमवड़ा वहां लगा हुआ है, अब चीन की सेना भारत की सरहद से सिर्फ 81 फिट की दूरी पर है, डोकलाम में चीन की मौजूदगी सिक्किम के लिए खतरनाक है,,,दूसरी खबर कि मालदीव में आपातकाल लगने के बाद उस देश ने अपने दूत दुनियां के कई देशों में भेजे हैं लेकिन भारत नहीं भेजा है,,,मालदीव ने भारत की विदेश मंत्री से मिलने की कोशिश की, विदेश मंत्रालय के अधिकारीयों से मिलने की कोशिश की, पर मुलाक़ात नहीं हुई,,,भारत के सेना अध्यक्ष के मुताबिक भारत दोनों मोर्चों (पाकिस्तान और चीन) से एक साथ युद्ध कर सकता है,,,शायद,,,होता है देश की आबादी 600 करोड़ अभी नहीं हुई है,,,

औरंगज़ेब आतंकवादी था,,,मुसलमानों को इस देश में होना ही नहीं चाहिए, वन्देमातरम कहना होगा,,,यह हिंदुत्व का मिशन है, हिन्दू क्यों खामोश हैं, हिन्दुओं का खामोश रहना देश के लिए अच्छा नहीं,,,दलित समाज को देश हित में आगे आना होगा, भारत खतरे में है यह खतरा हिंदुत्व से है, इस खतरे से देश को हिन्दू और दलित ही बचा सकते हैं|

हम सब कुछ पाने की चाहत में बहुत कुछ खो देना चाहते हैं, सरकार जनता बनाती है, जनता,,,,ये लाल रंग कब मुझे छोड़ेगा,,,जनता को देश बचाना है|

कुछ नहीं था तू था,,,हमारे भरह्माण्ड में ‘एस्ट्रोइड्स’ पुंछल तारे होते हैं, ये गैसों का बवंडर होते हैं, इनकी चौड़ाई दो किलोमीटर से भी ज़यादा होती है, गैस के ये बवंडर धरती के करीब से भी गुज़रते हैं,,,अग्नि मिसाईल की ऊंचाई 17 . 5 मीटर है, जिससे हम हज़ारों किलोमीटर दूर के कई शहरों, मुल्कों को हमेशा के लिए ख़तम कर सकते हैं और यह ‘उल्का पिंड’ ‘गैसों’ का बवंडर जब धरती से टकरायेगा तब,,,,,आरएसएस का हिन्दुस्त्व,,,,

– परवेज़ ख़ान