#राजस्थान की राजनीति में आया तूफ़ान, उठी नेतृत्व में बदलाव की मांग!

#राजस्थान की राजनीति में आया तूफ़ान, उठी नेतृत्व में बदलाव की मांग!

Posted by

राजस्थान में इस साल चुनाव होने हैं, बीजेपी वहां इस समय सरकार चला रही है, चुनावों से पहले बीजेपी में अंदर ही अंदर घमासान जारी है, राजपूत बीजेपी से नाराज़ हैं, गुर्जर वसुंधरा राजे से खुश नहीं हैं, बीजेपी के अपने नेता अपनी सरकार की मुखिया को पसंद नहीं कर रहे हैं| हाल ही में हुए उप चुनावों में बीजेपी को यहाँ बड़ी हार का सामना करना पड़ा है ऐसे में पार्टी के अंदर चल रही गुटबाज़ी पार्टी को भारी पद सकती है|

राजस्थान की राजनीति में इस वायरल ऑडियो ने तूफान ला दिया है. बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहुजा के इस ऑडियो में उपचुनावों में मिली हार के बाद पार्टी विधायकों में वसुंधरा राजे और प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को लेकर बढ़ती बगावत बयां हो रही है.

मीडिया से मुखातिब राजस्‍थान में बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजाजयपुर: राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक ज्ञानदेव आहूजा की फोन पर हुई बातचीत का एक ऑडियो वायरल हुआ है जिसमें वह प्रदेश पार्टी के नेतृत्व में बदलाव की बात कर रहे हैं. एक पार्टी कार्यकर्ता से बात करते हुए आहूजा को यह कहते हुए सुना जा रहा है कि उन्होंने ‘तो पहले ही चुनाव के नतीजों की भविष्यवाणी कर दी थी’ और उन्होंने ‘दिल्ली में सांगठनिक महासचिव से राजस्थान में नेतृत्व बदलने की मांग की है.’

राजस्थान की राजनीति में इस वायरल ऑडियो ने तूफान ला दिया है. बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहुजा के इस ऑडियो में उपचुनावों में मिली हार के बाद पार्टी विधायकों में वसुंधरा राजे और प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को लेकर बढ़ती बगावत बयां हो रही है. बीजेपी विधायक ज्ञानदेव आहूजा के वायरल हुए इस ऑडियो से ना सिर्फ राजस्थान की सियासत में तूफान उठा है बल्कि राज्य की मुखिया वसुंधरा राजे और प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को लेकर भी सवाल उठने लगे हैं. हाल ही में अलवर और अजमेर संसदीय सीट और माण्डलगढ़ विधानसभा सीट पर बीजेपी को मिली करारी हार के लिए आहूजा ‘जैसी करनी वैसी भरनी’ का इस्तेमाल कर रहे हैं और वायरल ऑडियो में कह रहे हैं कि इंतजार कीजिए आगे क्या होता है.

यह ऑडियो भाजपा नेता अशोक चौधरी द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को राजस्थान में नेतृत्व बदलने के लिए एक पत्र भेजने के समय वायरल हुआ है. रामगढ़ विधानसभा से विधायक आहूजा को ऑडियो में गाना ‘जैसा किया है तूने वैसा ही तू भरेगा’ गाते हुए भी सुना जा सकता है. ऑडियो क्लिप में वह पार्टी कार्यकर्ता से कह रहे हैं कि यह सरकार की हार है, हमारी नहीं. भाजपा विधायक ने ऑडियो में कहा, “हम 40 हजार वोटों से हारे, फिर भी मैं मुस्करा रहा हूं क्योंकि मुझे पता था कि क्या होने वाला है.”

फोन पर एक अन्य व्यक्ति से बातचीत में आहूजा को कहते सुना जा सकता है कि 25 जनवरी को उन्होंने संगठन के महासचिव रामलाल को एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने साफ तौर पर लिख दिया था कि अगर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को नहीं हटाया गया तो भाजपा चुनाव हार जाएगी. ऑडियो में दूसरे व्यक्ति ने अहूजा से फोन पर कहा, “यही संदेश उच्चाधिकारियों को भी भेजा जाना चाहिए नहीं तो हम आगामी चुनाव में बुरी तरह हारेंगे.”

दरअसल ये ऑडियो पार्टी विधायकों में वसुंधरा राजे और प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को लेकर बढ़ती बगावत बयां कर रहा है. इसमें ये भी कहा गया है कि हार के बाद लोग गांवों में नहीं घुसने दे रहे हैं. इतना ही नहीं, आहूजा ने चेतावनी दी है कि अगर सीएम और परनामी नहीं बदले गए तो हालत और भी बुरी होने वाली है. वहीं अशोक परनामी ऑडियो की जांच और सही पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की बात कर रहे हैं. अब सवाल ये है कि उपचुनावों में मिली करारी हार और आगे आ रहे विधानसभा चुनावों को देखते हुए क्या पार्टी हाइकमान राजस्थान में बड़े बदलाव की सोच सकता है.