13 फ़रवरी का इतिहास : 1975 को तुर्की ने साइप्रस में हुकूमत की स्थापना की, 1911 में क्रन्तिकारी शायर फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ जन्मे!

13 फ़रवरी का इतिहास : 1975 को तुर्की ने साइप्रस में हुकूमत की स्थापना की, 1911 में क्रन्तिकारी शायर फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ जन्मे!

Posted by

13 फ़रवरी की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
================
1542 – इंग्लैंड की रानी कैथरीन हवाई को मौत के घाट उतार दिया गया।
1575 – फ्रांस के राजा हेनरी तृतीय का रेम्स में राज्याभिषेक
1601 – लंदन में ईस्ट इंडिया कम्पनी की पहली यात्रा का नेतृत्व जान लैंकास्टर ने किया।
1633 -इटली के खगोलशास्त्री गैलीलियो को रोम पहुँचने पर गिरफ़्तार कर लिया गया।वैज्ञानिक गैलीलियो गैलीलि अपने मुकदमे के लिए रोम आए।
1688 – स्पेन ने पुर्तग़ाल को एक अलग राष्ट्र स्वीकार किया।
1689 – विलियम और मैरी इंग्लैंड के संयुक्त शासक घोषित हुए।
1693 – अमेरिका के वर्जीनिया में विलियम एंड मैरी कॉलेज खुला।
1713 – दिल्ली के सुल्तान जहाँदारशाह की हत्या गला घोंट कर की गई।
1739 – करनाल के युद्ध में नादिरशाह की फ़ौज ने मुग़ल शासक मुहम्मद शाह की सेना को हराया।
1788 – भारत में ज्यादतियों के लिए वारेन हेस्टिंग्स पर इंग्लैंड में मुकदमा चलाया गया।
1795 – अमेरिका में पहला स्टेट यूनिवर्सिटी उत्तरी कैरोलिना में खुला।
1820 – फ़्रांसीसी तख्त के दावेदार डक की बेरी की हत्या कर दी गई।
1856 – ईस्ट इंडिया कम्पनी का लखनऊ सहित अवध पर भी कब्ज़ा।
1861 – नेपल्स के फ़्रांसीसी द्वितीय ने ग्यूसेपी गैरिबाल्डी के आगे हथियार डाले।
1880 – थॉमस एडिसन ने एडिसन इफ़ैक्ट पुष्ट किया।
1920 – अमेरिका में बेसबॉल की नीग्रो नेशनल लीग स्थापित हुई।
1931 – नई दिल्ली भारत की राजधानी घोषित हुई।
1941 – जर्मनी में नाजियों ने डच यहूदी परिषद पर हमला किया।
1945 – सोवियत संघ ने जर्मनी के साथ 49 दिन तक चले युद्ध के बाद हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट पर कब्जा किया जिसमें एक लाख 59 हजार लोग मारे गये।
1959 – बच्चों की पसंदीदा बार्बी डॉल की बिक्री शुरू हुई।
1961 -द्वितीय विश्वयुद्ध में मित्र राष्ट्रों ने बुडापोस्ट पर कब्ज़ा किया।
1966 – सोवियत संघ ने पूर्वी कजाखस्तान में परमाणु परीक्षण किया।
1974 – असंतुष्ट नोबेल विजेता अलेक्जेंडर सोलजेनिट्सिन को सोवियत संघ से निकाला गया।
1975 – तुर्की ने साइप्रस के उत्तरी भाग में अलग प्रशासन की स्थापना की।
1984 – पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने नौसेना के लिए मुंबई स्थित मझगांव डॉक का शुभारंभ किया।
1988 – बांग्लादेश में राष्ट्रपति हुसैन मुहम्मद इरशाद को हटाने के लिए विपक्षी आंदोलनकारियों की मुहिम में सैकड़ों लोग घायल हुए।
1989 – सोवियत सैनिक अफ़ग़ानिस्तान से हटने शुरू हुए।
1990 – अमेरिका, ब्रिटेन तथा फ्रांस ने जर्मनी को फिर से एकीकृत करने की सहमति दी।
1991 – अमेरिकी लड़ाकू विमानों ने बगदाद में अनेक बंकर नष्ट किए, जिसमें सैकड़ों सैनिक मारे गए।
2000 – बहुचर्चित पीनट्स कॉमिक पट्टी के सर्जक चार्ल्स शुल्ज का निधन।
2001 – अंतरिक्ष में क्षुद्रग्रह ‘इरोस’ पर पहला मानव रहित यान उतरा।
2002 – पर्ल अपहरण काण्ड का मुख्य अभियुक्त उमर शेख़ लाहौर में गिरफ़्तार, ईरान में हुई विमान दुर्घटना में 117 मरे।
2003 – यश चोपड़ा को दादा साहब फालके पुरस्कार मिला।
2004 – भारतीय टीम ने क्वालालम्पुर में दसवीं एशियाई निशानेबाजी चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता।
2005 – इराक में सद्दाम हुसैन के बाद हुए पहले चुनाव में शिया इस्लामिक मोर्चे की जीत।
2007 – उत्तर कोरिया परमाणु कार्यक्रम बंद करने पर सहमत।
2008 – पाकिस्तान न कम दूरी की मारक क्षमता वाली मिसाइल ग़ज़नवी का सफल परीक्षण किया।
2009- रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव में 2009-10 के अंतरिम रेल बजट पेश किया। उत्तर प्रदेश विधान सभा ने वित्तीय वर्ष 2009-10 के लिए 12,094 करोड़ रुपये के घाटे का बजट पेश किया।
2010- महाराष्ट्र के पुणे में यहूदियों के प्रार्थना स्थल के नज़दीक बेकरी में शाम को हुए बम विस्फोट में पाँच महिलाओं और एक विदेशी नागरिक सहित नौ लोग मारे गए और 53 अन्य घायल हो गए।
2014 – चीन के कैली शहर में एक अवैध जुआ घर में विस्फोट में 14 लोगों की मौत हो गयी तथा 17 लोग घायल हो गये।

13 फ़रवरी को जन्मे व्यक्ति
1995 – वरुण भाटी – भारत के ऊँची कूद के खिलाड़ी हैं।
1879 – सरोजिनी नायडू (भारत कोकिला) – स्वतंत्रता सेनानी (मृत्यु- 1949)
1915 – गोपाल प्रसाद व्यास – भारत के प्रसिद्ध कवियों, लेखकों और साहित्यकारों में से एक।
1911 – फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ – प्रसिद्ध शायर, जिनको अपनी क्रांतिकारी रचनाओं में रसिक भाव (इंक़लाबी और रूमानी) के मेल की वजह से जाना जाता है।
1916 – जगजीत सिंह अरोड़ा भारतीय सेना के कमांडर
1944 – ओडूविल उन्नीकृष्णनन – भारतीय अभिनेता (मृत्यु- 2006)
1958 – रश्मि प्रभा – समकालीन कवयित्री
1959 – कमलेश भट्ट कमल – समकालीन कवि
1945 – विनोद मेहरा – भारतीय सिनेमा के अभिनेता।

13 फ़रवरी को हुए निधन
2015 – डॉ. तुलसीराम – दलित लेखन में अपना एक अलग स्थान रखने वाले साहित्यकार थे।
2008 – राजेंद्र नाथ – हिंदी सिनेमा के हास्य कलाकार थे।
1974 – उस्ताद अमीर ख़ाँ – भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गायक (जन्म- 1912)
1832 – बुधु भगत – प्रसिद्ध क्रांतिकारी तथा ‘लरका विद्रोह’ के आरम्भकर्ता।

13 फ़रवरी के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव
विश्व रेडियो दिवस
उत्पादकता सप्ताह।
===========
1601 को ईस्ट इंडिया कंपनी का पहला जहाज़ ब्रिटेन से रवाना हुआ।

1633 को इटली के प्रसिद्ध वैज्ञानिक और महान आविष्कारक गैलीलियो गैलिली अपने अध्ययनों के कारण चर्च के प्रकोप का पात्र बनने के बाद पूछताछ के लिए रोम बुलाए गये।
1856 ईस्ट इंडिया कंपनी ने लखनऊ और अवध पर क़ब्ज़ा कर लिया।
1879 सराजनी नायडू का जन्म हुआ।
1945 जर्मनी के खिलाफ मित्र सेना की अत्यन्त विवादस्पद बमबारी आरंभ हुई। इस दिन सैंकड़ों ब्रिटिश बमबार विमानों ने जर्मनी के ड्रेसडेन नगर को पूरी तरह से तबाह कर दिया।
1968 अटल बिहारी वाजपेयी जन संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गये।

================

13 फरवरी
————-
वह केवल स्वतंत्रता संग्राम की अहम भागीदार ही नहीं कवियित्री भी थीं. उनके भाषण और कविताएं लोगों में देश पर मर मिटने का जज्बा पैदा करते थे. उन्हें देश नाइटिंगेल ऑफ इंडिया कह कर भी पुकारता है.

भारत के महत्वपूर्ण राष्ट्रीय नेताओं में से एक सरोजिनी नायडू का जन्म आज ही के दिन 1879 में हुआ था. भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में उनकी अहम भूमिका रही, लेकिन उनकी पहचान एक कवि के तौर पर भी है.

उन्होंने अनेक राष्ट्रीय आंदोलनों का नेतृत्व किया और जेल भी गईं. स्वतंत्रता संग्राम में वह गांव शहर घूम कर लोगों में देश प्रेम का जज्बा जगाती रहीं. 1925 में वह कानपुर में हुए कांग्रेस के अधिवेशन में अध्यक्ष बनीं. भारत को स्वतंत्रता मिलने के बाद वह उत्तर प्रदेश की पहली राज्यपाल बनीं जो कि उस समय आगरा और अवध का संयुक्त प्रांत था.

सरोजिनी नायडू का जन्म हैदराबाद में हुआ था. 12 साल की उम्र में ही उन्होंने मैट्रिक की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली. वह अंग्रेजी भाषा में भी खूब लिखती थीं. उन्होंने अंग्रेजी की शिक्षा घर में ही हासिल की. उनके पिता अघोरनाथ चट्टोपाध्याय खुद एक वैज्ञानिक और शिक्षाशास्त्री थे. वह कविता भी लिखते थे. सरोजिनी नायडू का पहला कविता संकलन 1905 में प्रकाशित हुआ.

========
13 फ़रवरी सन 1258 ईसवी को अब्बासी शासकों की राजधानी बग़दाद पर मंगोल आक्रमणकारी हलाकू ख़ान का अधिकार हो गया। इससे पहले तक इस नगर पर अंतिम अब्बासी शासक अल मुस्तासिम बिल्लाह का राज था जिसे हलाकू ख़ान के सैनिकों ने मार दिया। इस प्रकार से 750 ईसवी से सत्ता संभालने वाली अब्बासी शासन श्रृंखला का अंत हो गया।

मंगोलों के पाश्विक आक्रमण में बग़दाद के सैनिकों के साथ ही इस नगर के आधे से ज़्यादा आम नागरिक मौत के घाट उतार दिए गये। इसी प्रकार बग़दाद के विख्यात पुस्तकालय सहित बहुत सी ऐतिहासिक इमारतें जला दी गयीं। मंगोल सैनिकों ने अत्यंत महत्वपूर्ण पुस्तकों को या तो जला दिया या फिर उन्हें दजला नदी में बहा दिया।

================

13 फ़रवरी सन 1689 ईसवी को ब्रिटेन के राजा विलियम त्रितीय और रानी मेरी द्वितीय की ताजपोशी के समारोह में बिल आफ़ राइट्स नामक घोषणापत्र पढ़ा गया।इसके साथ ही ब्रिटेन की शासन व्यवस्था सशर्त राजशाही में परिवर्तित हो गयी। यह घोषणापत्र जेम्ज़ द्वितीय के अत्याचारो के विरुद्ध जनता और राजनैतिक दलों के विद्रोह का परिणाम था। इस घोषणा पत्र के अनुसार जो ब्रिटेन की संसद में पारित हुआ था कानून को लागू करने तक कर वसूलने जैसे महत्वपूर्ण मामलों के अधिकार राजा से लेकर संसद को दे दिए गये। अब भी ब्रिटेन में यही स्थिति बनी हुई है और सारे अधिकार प्रधान मंत्री के पास होते हैं।

================

13 फ़रवरी सन 1883 ईसवी को जर्मनी के संगीतकार रिचर्ड वेगनर का 70 वर्ष की आयु में निधन हुआ। वे 1813 में अपने जन्म के कुछ ही महीने बाद अनाथ हो गये।

वेगनर ने संगीत से अपने लगाव के कारण युवाकाल से ओपेरा लिखना और नये नये संगीत की रचना करना आरंभ किया।

सन 1850 में जर्मनी में राजनैतिक परिवर्तनों के दौर में वे क्रान्तिकारियों से जुड़ गये किंतु इस क्रान्ति की विफलता के कारण उन्हें 13 वर्षों तक जर्मनी से बाहर रहना पड़ा।

================

24 बहमन सन 1334 हिजरी शम्सी को ईरान के विख्यात इतिहासकार शब्दकोष विशेषज्ञ लेखक और अध्ययनकर्ता अब्बास इक़बाल आशतेयानी का निधन हुआ। वे सन 1275 हिजरी शम्सी में जन्में थे। ईरान में आरंभिक शिक्षा प्राप्ति के पश्चात 1304 हिजरी शम्सी में उन्होंने फ़्रांस के सोरबन विश्व विद्यालय से ग्रंजुएशन की डिग्री प्राप्त की। फिर वे ईरान लौटे और तेहरान विश्व विद्यालय में पढ़ाने लगे। वे यादगार नामक पत्रिका निकालते थे। उनके लेखों में ईरानी जनता की संकटमयी परिस्थितियों की समीक्षा होती थी।

इसके अतिरिक्त उन्होंने कई महत्वपूर्ण पुस्तकें लिखी हैं।

================

26 जमादिउल अव्वल सन 280 हिजरी क़मरी को अरब शायर और लेखक इब्ने तैफूर का निधन हुआ। वे 204 हिजरी क़मरी में पैदा हुए। उन्होंने इराक़ के बग़दाद नगर में बड़े साहित्यकारों और धर्मगुरुओं से शिक्षा प्राप्त की। उन्हे उनके शेरों के कारण उन्हें बहुत ख्याति प्राप्त हुई।