FB पर दोस्ती कर लड़के से बनाए फ़िज़ीकल रिलेशन, फिर….!!!

FB पर दोस्ती कर लड़के से बनाए फ़िज़ीकल रिलेशन, फिर….!!!

Posted by

Sagar PaRvez
——————–

2 बच्चों की मां ने FB पर दोस्ती कर लड़के से बनाए फिजिकल रिलेशन, फिर न्यूड फोटो ने तबाह की जिंदगी

दो बच्चों की आकांक्षी मां अपनी आधी उम्र के लड़के के साथ फेसबुक पर हवस मिटाने की सोची। आपत्तिजनक फोटो खींच कर करने वाले प्रेमी से पोल खुलने का आरोप लगा 40 साल की एक शादीशुदा महिला ने फांसी लगा कर अंतत: जान दे दी हालाँकि ये साफ न्हीं हुआ हवस की आग में जल रही महिला की हत्या हुई या उसने आत्महत्या की। घटना इशाकचक के विषहरी स्थान के पास दोपहर की है।

मृतका मीनू सिंह जमीन कारोबारी राजीव रंजन सिंह की पत्नी थी। बेडरूम में दुपट्टे से पंखे के सहारे उसने फांसी लगा ली। पति व अन्य फैमिली ने दरवाजा तोड़ कर मीनू को नीचे उतारा, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पति के मुताबिक, हवस की मारी मीनू को साहेबगंज मोहल्ले का शशि भूषण यादव नामक एक लड़का ब्लैकमेल करता था।

मौत से ठीक पहले मीनू और शशि के बीच व्हाट्सएप पर लंबी चैटिंग हुई थी। मीनू ने लिखा था- उसकी मौत का जिम्मेदार शशि होगा। शशि के खिलाफ आत्महत्या के लिये उकसाने का मामला दर्ज कर लिया गया है। शशि फरार है, उसका लोकेशन दोपहर तीन बजे तातारपुर इलाके का मिला।

फेसबुक के जरिए शशि से हवस की मारी मीनू की दोस्ती हुई थी। इसके बाद नजदीकियां बढ़ने लगी। हवस की मारी मीनू शशि को अश्लील फोटो भेज कर जाल में फँसा लिया। मीनू ने उसके साथ कई अश्लील /अंतरंग तस्वीरें भी खिंचवाई। मीनू को जब हवस मिटाने नया दोस्त मिला तो उसने शशि से संपर्क तोड़ दिया।

उसके मोबाइल नंबर को भी ब्लॉक कर दिया। लेकिन शशि अलग-अलग नंबरों से मीनू को फोन करता था। उसकी फोटो को गलत इस्तेमाल करने की धमकी देता था। शशि के फेसबुक एकाउंट के बारे में जब मीनू के पति व अन्य घरवालों को पता चला कि उसने शशि भूषण नाम से अपना फेसबुक एकाउंट बदल कर उसे इंदु भूषण कर लिया था।

महिला की शादी 2005 में हुई थी और उसके दो बच्चे भी हैं। धोरैया के तेवाचक गांव में मीनू का मायका था। पिता सतीशचंद्र सिंह सीतामढ़ी जिला बल में दारोगा हैं। राजीव का परिवार काफी खुशहाल था पर मीनू की हवस ने परिवार पर दाग लगा दिया। जनवरी माह में पत्नी, बच्चे और साली मिन्नी को लेकर गंगटोक घूमने गए थे। पत्नी बाथरूम गई थी तो उसके मोबाइल पर शशि का मैसेज आया। इस मैसेज का पति ने स्क्रीन शॉट रख लिया था।

पति ने मीनू से शशि के बारे में पूछा। दोनों में विवाद हो गया। पति ने स्क्रीन शॉट अपने ससुर को भेज दिया। मीनू मायकेवालों की नजरों में भी गिर गई। इसके बाद मीनू डिप्रेशन में रहने लगी। पिता व अन्य परिजन मीनू से बात तक नहीं करते थे। आत्महत्या की सूचना जब राजीव ने अपने ससुर काे दी तो उन्होंने पूछा, मीनू मरी या नहीं ?

राजीव रंजन ने बताया कि सुबह नौ बजे वह घर से किसी को पेमेंट देने के लिए निकला था। उस समय मीनू ठीक-ठाक थी। उसने खाना भी बनाया था। दोपहर करीब साढ़े बारह बजे के आसपास घर लौटे तो एक बेटा बाहर में खेल रहा था। बेडरूम का दरवाजा भीतर से बंद था। दरवाजा नहीं खुला तो परिजनों को बुला लिया। बेलन से कमरे की खिड़की का शीशा तोड़ा तो भीतर पंखे से मीनू लटकी हुई थी। मौत से पहले शशि और मीनू में वहाट्सएप पर करीब आधे घंटे तक चेटिंग हुई।