तुर्की से इस्राईली राजदूत को कुछ इसी तरह से निकाला गया : देखें वीडियो

तुर्की से इस्राईली राजदूत को कुछ इसी तरह से निकाला गया : देखें वीडियो

Posted by

ग़ज्ज़ा में इस्राईली सैनिकों के हाथों 62 से अधिक फ़िलिस्तीनियों की मौत के बाद तुर्की और इस्राईल के बीच कूटनयिक संकट गहराता जा रहा है।

इस्राईल ने तुर्की पर आरोप मढ़ते हुए कहा है कि बुधवार को अंकारा से निष्कासित किए गए उसके राजदूत के साथ अच्छा बर्ताव नहीं किया गया।

तेल-अवीव का कहना है कि इस्राईली राजदूत को एयरपोर्ट पर सार्वजनिक रूप से सेक्यूरिटी चेक से गुज़रते हुए टीवी पर दिखाया गया।

इससे एक दिन पहले तुर्क विदेश मंत्रालय ने अंकारा में इस्राईली राजदूत ईतन नावेह को तलब करके देश छोड़ने के लिए कहा था।

इसके जवाब में इस्राईल ने भी तेल-अवीव से तुर्की के प्रतिनिधि को निकाल दिया था।

14 मई को अमरीकी दूतावास को तेल-अवीव से बैतुल मुक़द्दस स्थानांतरित करने का विरोध कर रहे फ़िलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों पर इस्राईली सैनिकों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई थीं, जिसमें 62 से अधिक प्रदर्शनकारी शहीद और क़रीब 3000 घायल हो गए थे।
तुर्की समेत विश्व के कई देशों ने इस्राईली सेना के इस अमानवीय एवं जघन्य अपराध का कड़ा विरोध किया था।

हाल ही में तुर्क राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोगान ने कहा था कि ज़ायोनी शासन सरकारी सतह पर आतंकवाद फैला रहा है और ग़ज्ज़ा में फ़िलिस्तीनियों का जनसंहार कर रहा है।

इस्राईली प्रधान मंत्री नेतनयाहू ने जवाबी हमला करते हुए कहा था कि अर्दोगान एक आतंकवादी और क़साई हैं।

अर्दोगान ने नेतनयाहू पर पलटवार करते हुए कहा था कि नेतनयाहू के हाथ निर्दोष फ़िलिस्तीनियों के ख़ून से रंगीन हैं और तुर्की पर हमला करके वे अपने अपराधों पर पर्दा नहीं डाल सकते।

==========