प्रवासियों के मुद्दे पर एमनेस्टी इंटरनेशनल ने यूरोपीय संघ को लगाई फटकार

प्रवासियों के मुद्दे पर एमनेस्टी इंटरनेशनल ने यूरोपीय संघ को लगाई फटकार

Posted by

मानवाधिकार के अंतर्राष्ट्रीय संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल ने अवैध आप्रवासियों के मामले में इटली और माल्टा समेत यूरोपीय देशों की कड़े शब्दों में आलोचना की है।

एमनेस्टी इंटरनेशनल द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि अवैध आप्रवासियों को लेकर यूरोपीय देशों और विशेष रूप से इटली और माल्टा की ग़लत नीतियां, प्रवासियों की जानी नुक़सान में वृद्धि का कारण बन रहीं हैं। रिपोर्ट के अनुसार यूरोपीय देशों की कार्यवाहियों के कारण भूमध्य सागर में यात्रा करने वाले अवैध आप्रवासियों की मौतों में लगातार वृद्धि हो रही है। एमनेस्टी इंटरनेशनल की रिपोर्ट में यूरोपीय संघ और लीबिया के बीच होने वाले समझौते की भी कड़ी आलोचना की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि समुद्र में भटकने वाले आप्रवासियों के लिए बचाव अभियान को लेकर भी यूरोपीय देशों और विशेष रूप से इटली और माल्टा के ग़ैर ज़िम्मेदाराना रवैये की वजह से सैकड़ों आप्रवासियों का जीवन ख़तरे में पड़ गया है।

अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल का कहना है कि इस समय दस हज़ार से अधिक आप्रवासी लीबिया में स्थापित सुरक्षा केन्द्रों में मौजूद हैं जहां बुनियादी मानव सुविधाएं भी प्रयाप्त नहीं है। एमनेस्टी इंटरनेशनल ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि इटली सरकार की ओर से विभिन्न एनजीओ को बचाव अभियान से रोका जाना भी भूमध्य सागर में मरने वाले आप्रवासियों की संख्या में वृद्धि का कारण बना