CNN रिपोर्टर की तरह क्या भारत के संघी, फ़ासिस्ट मीडिया के रिपोर्टर मोदी से राफ़ेल, नोटबंदी, रोज़गार पर सवाल पूंछ सकते है

CNN रिपोर्टर की तरह क्या भारत के संघी, फ़ासिस्ट मीडिया के रिपोर्टर मोदी से राफ़ेल, नोटबंदी, रोज़गार पर सवाल पूंछ सकते है

Posted by

Sagar PaRvez
=============
#शर्मनाक! ट्रंप से तीखे सवालों की सजा, CNN रिपोर्टर का प्रेस पास रद्द

अमेरका के राष्ट्रपति ने मध्यवर्ती चुनावों के बाद मीडिया से बात की जहाँ वह एक सवाल को सुन कर बौखला गए और पत्रकार को धमकाने लगे मगर पत्रकार ने अपना सवाल करना जारी रखा, ट्रम्प ने बार बार पत्रकार को धमकाया फिर भी निडर पत्रकार अपने सवाल को पूंछता रहा, अब सवाल पैदा होता है कि क्या भारत का बिकाऊ, फासिस्ट मीडिया के पत्रकार ऐसी हिम्मत कर सकते हैं और क्या मोदी में हिम्मत है कि वह खुली प्रेस वार्ता बुला कर राफेल, नोटबंदी, रोज़गार, आतंकवाद और संघी चरमपंथ जैसे मुद्दों जवाब दे सकते हैं

व्हाइट हाउस ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से तीखे सवाल पूछने वाले CNN रिपोर्टर का प्रेस पास रद्द कर दिया है.

अमेरिका में मिड टर्म इलेक्शन में नतीजे आने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान CNN के एक रिपोर्टर ने ट्रंप से तीखे सवाल पूछे जिनका जवाब उनके पास नहीं था. मामला इतना बढ़ गया कि ट्रंप ने रिपोर्टर को असभ्य और क्रूर तक कह डाला. ट्रंप ने व्हाइट हाउस से कर्मचारी से उसका माइक छीनने का आदेश दिया. कुछ देर बाद व्हाइट हाउस ने रिपोर्टकर का प्रेस पास रद्द कर दिया.

डोनाल्ड ट्रंप प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बहुत ही झल्लाए से नजर आए और कई बार उन्होंने मीडिया को कोसा. ट्रंप ने कहा, ‘यह मीडिया का शत्रुओं जैसा व्यवहार है. सो सैड.’

ट्रंप ने सीएनएन के रिपोर्टर जिम एकॉस्टा पर आरोप भी लगाया कि उन्होंने राष्ट्रपति से नस्लीय सवाल पूछा है. ट्रंप और सीएनएन के रिपोर्टर का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल रहा है, वीडियो में दिख रहा है कि रिपोर्टर एकॉस्टा बार-बार ट्रंप से सवाल पूछ रहे हैं, लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति ने जवाब देने से इनकार कर दिया. इस बीच व्हाइट हाउस के स्टाफ की एक महिला एकॉस्टा से माइक लेने की कोशिश करती है लेकिन वो मना कर देते हैं.

ट्रंप को गुस्सा क्यों आया?
सीएनएन और डोनाल्ड ट्रंप के बीच हमेशा से ही विवाद रहा है. ट्रंप कई बार सीएनएन पर फेक न्यूज का आरोप लगा चुके हैं. मध्यावधि चुनावों के नतीजे के बाद ट्रंप प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे, इसी दौरान सीएनएन के रिपोर्टर एकॉस्टा ने ट्रंप से सेंट्रल अमेरिका, मैक्सिको से आने वाले प्रवासियों के बारे में सवाल पूछा. राष्ट्रपति ट्रंप ने इन्हें देश के लिए खतरा बता चुके हैं. इस सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा कि, “मैं समझता हूं कि मुझे देश चलाने दो और तुम सीएनएन चलाओ. “

इसके बाद भी रिपोर्टर अपने सवाल पर अडिग रहा तो ट्रंप ने गुस्से में इस रिपोर्टर को कहा- ”बहुत हुआ अब आप बैठ जाइए”. इसी बहसबाजी के बीच व्हाइट हाउस की एक स्टाफ ने एकॉस्टा से माइक लेने की कोशिश की लेकिन उसने मना कर दिया. इसके बाद ट्रंप ने कहा कि जिस तरह का व्यवहार आपने महिला के साथ किया इसके लिए सीएनएन को शर्मिंदा होना चाहिए.

आपको बता दें कि अमेरिका में हुए मध्यावधि चुनावों में डोनाल्ड ट्रंप की रिपब्लिकन पार्टी को करारा झटका लगा है. विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी ने कांग्रेस के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव पर कब्जा जमा लिया है. हालांकि ट्रंप की पार्टी रिपब्लिकन का सीनेट में बहुमत बरकरार है. साल 2016 में हुए चुनावों में रिपब्लिकन पार्टी का कांग्रेस के दोनों सदनों में बहुमत था लेकिन अब मध्यावधि चुनावों के परिणाम से राष्ट्रपति ट्रम्प को शासन चलाने में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है.